'अमृत' की तलाश में तेज प्रताप!:FIR के बाद हरिद्वार पहुंचे लालू के बड़े बेटा, कहा- अमृत की बूंदे यहां भी गिरीं

पटना6 महीने पहले
हरिद्वार से ही तेजप्रताप यादव ने नए साल की शुभकामनाएं।

नए साल पर पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और उनकी पत्नी राजश्री पटना में गरीबों के बीच कंबल बांट रही थीं, वहीं लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव हरिद्वार में घूमते दिखे। उन्होंने हरिद्वार से ही सोशल मीडिया पर लोगों को शुभकामनाएं दीं।

शुभकामना देते हुए तेज प्रताप ने लिखा, 'हिन्दू धार्मिक मान्यताओं के अनुसार समुंद्र मंथन के बाद जब विश्वकर्मा जी अमृत के लिए झगड़ रहे देव-दानवों से बचाकर अमृत ले जा रहे थे तो पृथ्वी पर अमृत की कुछ बूंदें गिर गईं और वे स्थान धार्मिक महत्व वाले स्थान बन गए। अमृत की बूंदे हरिद्वार में भी गिरी और जहां पर वे गिरी थीं वह स्थान हर की पौड़ी था। नववर्ष 2022 की शुभकामनाएं!'

उन्होंने जल में पुष्प भी अर्पित करते वीडियो भी सोशल मीडिया पर पोस्ट किया है।

इन दिनों इसलिए चर्चा में हैं...

इन दिनों तेज प्रातप यादव चुनाव आयोग के निर्देश पर समस्तीपुर के रोसड़ा थाने में FIR दर्ज होने को लेकर चर्चा में हैं। उन पर आरोप है कि उन्होंने विधानसभा चुनाव में दिए शपथ पथ में संपत्ति छिपाई है।

हालांकि, इस आरोप के बाद RJD के प्रवक्ता चित्तरंजन गगन ने कहा था, 'चुनाव आयोग अपने अधिकार क्षेत्र का अतिक्रमण कर रहा है। चुनाव आयोग द्वारा विधानसभा के निर्वाचित सदस्यों की सूची राज्यपाल को सौंपने और राज्यपाल द्वारा विधानसभा गठन की अधिसूचना जारी करने के साथ ही चुनाव आयोग की भूमिका समाप्त हो जाती है।

उसके बाद किसी को चुनाव प्रक्रिया पर यदि कोई आपत्ति है तो उसे निराकरण करने का अधिकार न्यायालय को है न कि चुनाव आयोग को। इसी आधार पर तेज प्रताप के खिलाफ पटना उच्च न्यायालय में मामला विचाराधीन भी है।'