• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar News; Tejaswi Left For Delhi Amid Tornadoes In RJD, Advised To Be In Discipline Before Leaving, Said Displeasure Does Not Matter

पार्टी में बवाल के बीच तेजस्वी दिल्ली चले:बढ़ते तनाव के बीच तेजप्रताप को दी नसीहत, कहा- वह बड़े भाई हैं, यह अलग बात है पर सबको अनुशासन में रहना होगा

पटनाएक वर्ष पहले
राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह को लेकर तेजस्वी और तेज प्रताप आमने-सामने हैं।

राष्ट्रीय जनता दल में चल रहे विवाद के बीच नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव दिल्ली रवाना हो गए। शुक्रवार को दिल्ली जाने से पहले उन्होंने तेजप्रताप को नसीहत देने वाला बयान दे दिया है। उन्होंने कहा कि तेज प्रताप यादव भले ही उनके बड़े भाई हैं लेकिन माता-पिता ने उनको यह संस्कार दिए हैं कि वे बड़ों का कैसे आदर करें।

उन्होंने कहा, 'चाहे वह कोई भी हो, अनुशासनहीनता ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि पार्टी के अंदर अनुशासनहीनता होने से परेशानी होती है'। तेजप्रताप यादव की नाराजगी पर उन्होंने कहा कि नाराजगी होती रहती है, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।

जिस समय आए थे उस समय विपक्षी दलों की साझा बैठक शुरू थी
तेजस्वी ने कहा, 'तेजप्रताप यादव मुलाकात के लिए आए थे लेकिन जिस समय वे आए थे उस समय विपक्षी दलों की साझा बैठक शुरू हो गई थी। उसमें मेरा शामिल होना बहुत जरूरी था'। अभी दिल्ली जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि 23 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जाति जनगणना के मुद्दे पर बिहार विधान मंडल के प्रतिनिधिमंडल को मिलने का समय दिया है। इस मुलाकात में भी उन्हें शामिल होना है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि 22 अगस्त को रक्षा बंधन है। उनकी छह बहनें दिल्ली एनसीआर में रहती हैं।

राबड़ी आवास से अपमान का घूंट पीकर निकले तेजप्रताप

गुरुवार को प्रेस कांफ्रेस कर भड़ास निकाली थी
छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष के पद से चहेते आकाश को हटाने के बाद तेजप्रताप यादव का गुस्सा आसमान पर है। गुरुवार को प्रेस कांफ्रेस कर उन्होंने मांग की थी कि जब तक प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह पर कठोर कार्रवाई नहीं होती वे पार्टी के किसी कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे। हिटलर तो वे पहले कह ही चुके थे, फिर से तानाशाह कहा। उन्होंने कहा कि जब जगदानंद सिंह तेजप्रताप यादव को नहीं पहचानते तो आम लोगों को क्या पहचानते होंगे।

सुबह बहन ने सीख दी, देर शाम तेजस्वी ने पाठ पढ़ाया
तेजप्रताप यादव शुक्रवार की दोपहर तेजस्वी यादव से मिलने राबड़ी देवी के आवास पर गए थे। लेकिन गुस्साते हुए वे बाहर निकले और मीडिया से कहा कि संजय यादव उन्हें तेजस्वी यादव से बात नहीं करने दे रहे।संजय यादव कौन होते हैं तेजस्वी को रोकने वाले? इस आरोप- प्रत्यारोप के बीच पहले तो तेजप्रताप यादव की बहन रोहिणी आचार्य ने अनुशासन और संयम में रहने का पाठ पढ़ाया था और अब दिल्ली जाने से पहले छोटे भाई तेजस्वी यादव ने भी अनुशासन की सीख दी। दिल्ली में लालू प्रसाद से इस मुद्दे पर तेजस्वी विस्तार से बात करेंगे इसकी भी पूरी संभावना है।

खबरें और भी हैं...