• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar News; Weather Has Become Dry In All Parts Of Bihar, Sultry Heat Will Haunt Before Freezing

एक सप्ताह बाद ठंड लेकर आएगी पश्चिमी हवाएं:बिहार के सभी हिस्सों में मौसम हुआ शुष्क, ठंड पड़ने से पहले सताएगी उमसभरी गर्मी; नमी और धूप के कारण बढ़ेगी उमस भरी गर्मी

पटना20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर।

बिहार से मानसून की वापसी हो रही है। राज्य के सभी हिस्सों में मौसम शुष्क हो गया है। दक्षिण-पूर्वी हवाओं की तीव्रता में कमी होने के साथ ही नमी और धूप से तापमान में हल्की वृद्धि दर्ज की गई है। मौसम के इस सिस्टम ने दिन का तापमान हल्का बढ़ा दिया है। इससे दिन में उमस भरी गर्मी का एहसास हो रहा है। मानसून के वापसी के बाद भी राज्य के एक दो स्थानों पर हल्की बारिश सिस्टम बन रहा है। पूर्वानुमान एक सप्ताह गर्मी के बाद पश्चिमी हवा का प्रभाव ठंड लेकर आएगी।

ऐसे बन रहा मौसम का नया सिस्टम

मौसम विभाग के मुताबिक, एक च्रकवाती परिसंचरण का क्षेत्र पश्चिम बंगाल के उप हिमा-लयन क्षेत्र में स्थिति है जो समुद्र से 3.1 किमी तक विस्तारित है। बंगाल की खाड़ी में सक्रिय चक्रवाती हवाओं के संचरण का असर बिहार के तटवर्ती क्षेत्रों में दिखाई दे रहा है। इस सिस्टम के प्रभाव से अगले 24 घंटे के दौरान उत्तर पूर्व के सुपौल, अररिया, किशनगंज, मधेपुरा, सहरसा, पूर्णिया, कटिहार एवं उत्तर पश्चिम भाग पश्चिम चंपारण, सीवान, सारण, पूर्वी चंपारण, गोपालगंज में एक या दो स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है। इसके अलावा बिहार के अन्य हिस्सों का मौसम पूरी तरह से शुष्क रहेगा।

पोस्ट मानसून में 103 MM बारिश हुई

बिहार में पोस्ट मानसून में सात दिनों के अंदर 103 MM बारिश हुई है जिसमें पटना में 120 फीसदी अधिक बारिश हुई है। ठंड पर इसका बड़ा असर देखने को मिलेगा। पोस्अ मानसून की बात करें तो इस दौरान 1 अक्टूबर से बिहार के 38 जिलों में 7 दिनों के अंदर 103.6 MM बारिश हुई, जो सामान्य से 212 फीसदी अधिक है। इस दौरान पटना में 65.9 MM बारिश हुई है। यह सामान्य से 120 फीसदी अधिक है। पटना में सामान्य बारिश 30 MM है।

एक सप्ताह बाद पश्चिमी हवाएं बढ़ाएगी ठंड

मौसम विभाग के मुताबिक बारिश का सिस्टम निष्क्रिय होने के साथ ही राजस्थान, गुजरात से मानसून की वापसी हो रही है। इसके प्रभाव से एक सप्ताह तक मौसम शुष्क रहेगा। जिसके बाद ठंड का प्रभाव दिखाई देगा। दिन-रात का पारा सामान्य से दो डिग्री अधिक, आर्द्रता में भी 20 फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही है। नमी, धूप और बारिश का सिस्टम निष्क्रिय होने से पटना में दिन और रात का पारा सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस अधिक रिकार्ड किया गया। इस दौरान आर्द्रता भी 20 फीसदी कम था। पटना में अधिकतम तापमान 34.2 डिग्री और न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। इस दौरान आर्द्रता 66 फीसदी थी। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 34 डिग्री और न्यूनतम 26 डिग्री सेल्सियस होने का अनुमान है।

खबरें और भी हैं...