• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar Panchayat Election News; More Woman Came Out To Vote And Won On Various Posts During Two Phases Of Election

कैसी बन रही पंचायती सरकार:महिलाओं के हाथ आ रहा पावर, जीत का जश्न मना रहे पुरुष; वोटिंग से लेकर जीत दर्ज करने में पुरुषों से आगे निकली महिलाएं

पटना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंचायत चुनाव में अब तक आधी आबादी का दबदबा रहा है। दो चरण के नतीजों में महिलाओं की संख्या पुरुषों से अधिक है। मतदान से लेकर जीत दर्ज कराने में महिलाएं पुरुषों से आगे रही हैं। दोनों चरण में कुल 20 हजार 783 पदों में से 11 हजार 098 पर महिलाओं ने बाजी मारी है जबकि पुरुषों की संख्या 9 हजार 685 है। पहले चरण में 1956 और दूसरे चरण में 9142 महिलाएं जीत दर्ज की हैं। दोनों चरण में पुरुषों की संख्या महिलाओं से काफी कम है। पंचायत चुनाव में परिणाम ने महिलाओं को पावर तो दिया है, लेकिन गांवों में जीत के जश्न में पुरुषों की दावेदारी दिखी है।

तीसरे चरण में भी आधी आबादी पड़ेगी भारी
पंचायत चुनाव के तीसरे चरण में भी महिलाएं पुरुषों से भारी पड़ेंगी। 23 हजार 128 पदों पर हुए चुनाव में 81 हजार 616 प्रत्याशियों ने दावेदारी की है। इसमें भी पुरुषों की संख्या काफी अधिक है। चुनाव लड़ने वाले पुरुष प्रत्याशियों की संख्या 38 हजार 555 है जबकि 43 हजार 061 है। वोटिंग में भी महिलाएं पुरुषों से पीछे नहीं रही हैं। तीसरे चरण में कुल 58.19 प्रतिशत मतदान हुआ है। 35 जिलों के 50 प्रखंडों में महिलाओं ने 60.19 प्रतिशत वोट किया जबकि पुरुषों का प्रतिशत 56.19 ही रहा।

निर्विरोध निर्वाचन में भी महिलाएं पुरुषों से आगे
पंचायत चुनाव में निर्विरोध निर्वाचित होने होने वालों में भी महिलाओं ने पुरुषों को पछाड़ दिया है। पहले और दूसरे चरण में हुए मतदान में 20 हजार 783 पदों पर 9 हजार 685 पुरुष और 11 हजार 098 महिलाओं ने जीत दर्ज की है। पहले चरण में 1956 और दूसरे चरण में 9142 महिलाएं जीती हैं। वहीं निर्विरोध निर्वाचित होने वालों में पहले चरण में कुल 852 प्रत्याशी निर्विरोध हुए जिसमें 554 महिलाएं हैं, दूसरे चरण में कुल 3396 प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित हुए जिसमें महिलाओं की संख्या 2114 है। इसमें पुरुषों की संख्या काफी कम रही है।

महिलाओं की जीत के बाद भी पुरुष का दबदबा
पंचायत चुनाव में महिलाओं की जीत के बाद भी पुरुषों का दबदबा है। पोस्टर से लेकर पंचायत तक महिलाएं पुरुषों के आगे कमजोर दिख रही हैं। जीत के बाद भी पंचायत में पुरुषों का जश्न यह साफ कर रहा है कि महिलाओं के हाथ पावर तो होगी लेकिन पंचायत की कमान घर के पुरुष ही संभालेंगे। कई ऐसी भी पंचायत है जहां चुनाव में जीत दर्ज कराने वाली अधिकतर महिलाएं घूंघट में ही रह जाएंगी। आरक्षण में उनके नाम पर मुहर तो लग गई, लेकिन पंचायत की पूरी कमान पुरुषों ने संभालना शुरू कर दिया है। अब तक जीत दर्ज कराने वालों में ऐसी महिलाओं की संख्या कम है जो खुद पंचायत की कमान संभाल सकें।

नौबतपुर और बिक्रम में वोटिंग में आगे महिलाएं
तीसरे चरण के चुनाव में पटना के नौबतपुर और बिक्रम में बूथों पर कड़ी धूप के बाद भी महिलाओं की भीड़ ने उनके जज्बे को बता दिया है। नौबतपुर में 68.25 और बिक्रम में 65.24% मतदान हुआ है। नौबतपुर में 68.49% पुरुष और 67.99% महिलाओं ने वोटिंग की है। बिक्रम में 64.44% पुरुषों ने और 66.13% महिलाओं वोट किया है। कोई भी बूथ ऐसा नहीं है जहां महिलाएं वोटिंग में पुरुषों से कम रही हाें।

पंचायत चुनाव के तीसरे चरण का परिणाम भी महिलाओं की पंचायत में पावर बढ़ाएगा। बिक्रम के ग्राम पंचायत बेनीबिगहा में महिला सीट है। इस पर चुनाव तो महिलाएं लड़ रही हैं लेकिन दावेदारी पुरुषों की है। गांव में पोस्टर भी बता रहे हैं कि महिलांए सिर्फ आरक्षण को लेकर है, लड़ाई तो पोस्टर में बड़े फोटो वाले पुरुष ही लड़ रहे हैं। बिक्रम और नौबतपुर के मतदाताओं का कहना है कि चुनाव परिणाम में महिलाएं ही सबसे अधिक आगे आएंगी।

10 और 11 को आएगा परिणाम
तीसरे चरण का चुनाव परिणाम 10 और 11 अक्टूबर को आएगा। थर्ड फेज में अब तक का सबसे अधिक प्रत्याशियों का परिणाम आएगा। इस चरण में सबसे अधिक उम्मीदवारों ने नामांकन दाखिल किया था जिसमें महिलाओं की संख्या अधिक है।

8 चरण का मतदान बाकी
पंचायत चुनाव में 8 चरण का मतदान बाकी है। अब तक तीन चरण का चुनाव हो चुका है। पहला चरण 24 सितंबर को 10 जिलों के 12 प्रखंडों में हुआ है। दूसरा चरण 29 सितंबर को 34 जिलों के 48 प्रखंडों में चुनाव हुआ। तीसरा चरण 8 अक्टूबर को 35 जिलों के 50 प्रखंडों में हुआ है।

यहां होना है पंचायत चुनाव का मतदान

  • 20 अक्टूबर को 36 जिलों के 53 प्रखंड में मतदान
  • 24 अक्टूबर को 38 जिलों के 58 प्रखंड में मतदान
  • 3 नवंबर को 37 जिलों के 57 प्रखंडों में चुनाव
  • 15 नवंबर को 37 जिलों के 63 प्रखंडों में चुनाव
  • 24 नवंबर को 36 जिलों के 55 प्रखंडों में चुनाव
  • 29 नवंबर को 35 जिलों के 53 प्रखंडों में चुनाव
  • 8 दिसंबर को 34 जिलों के 54 प्रखंड में चुनाव
  • 12 दिसंबर को 20 जिलों के 38 प्रखंडों में चुनाव
खबरें और भी हैं...