• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar Panchayat Election; T shirt Printed With Candidate's Photo And Voting Appeal, Campaigning In The Village

मुजफ्फरपुर में चुनाव प्रचार का अनोखा तरीका:प्रत्याशी की फोटो और वोटिंग अपील वाला छपवाया टीशर्ट, गांव में घूम-घूमकर चुनाव प्रचार कर रहे

मुजफ्फरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
करीब 200 से अधिक टीशर्ट बनवाया है। - Dainik Bhaskar
करीब 200 से अधिक टीशर्ट बनवाया है।

मुजफ्फरपुर में पंचायत चुनाव की सरगर्मी जोरों पर है। मड़वन और सरैया प्रखंड में चुनाव हो चुका है। अब आठ अक्टूबर को सकरा और मुरौल प्रखंड में चुनाव होना है। इन दोनों प्रखंडो में चुनाव प्रचार तेज़ हो गयी है। प्रत्याशी नए-नए तरीके से प्रचार कर जनता को आकर्षित करने का प्रयास कर रहे हैं। ऐसा ही एक मामला सकरा प्रखंड के गौरिहार पंचायत में देखने को मिला है।

यहां से रूबी शर्मा पंचायत समिति सदस्य की उम्मीदवार हैं। इनके पति महेश शर्मा निवर्तमान मुखिया हैं। अब मुखिया का सीट आरक्षित होने के कारण इस बार ये मौका उन्हें नहीं मिलेगा। इसलिए अपनी पत्नी को पंसस के पद पर उतारा है। इन्होंने जनता के बीच प्रचार करने का अनोखा रास्ता तैयार किया है। निवर्तमान मुखिया महेश शर्मा ने करीब 200 से अधिक टीशर्ट बनवाया है। इस पर वोटिंग अपील, चुनाव चिन्ह और इनकी पत्नी रूबी शर्मा की फोटो छपी है। वहीं टीशर्ट में एक तरफ महेश शर्मा की भी फोटो है। इनका चुनाव चिन्ह बरगद का पेड़ छाप है।

समर्थकों के बीच किया वितरण
टीशर्ट को इन्होंने अपने समर्थक और कार्यकर्ताओं के बीच वितरण किया है। कहते हैं की जो उनके समर्थक और कार्यकर्ता हैं, वे यहीं टीशर्ट पहनकर गांव में प्रचार कर रहे हैं। साथ ही लोगों से बरगद के पेड़ छाप पर बटन दबाने की भी अपील कर रहे हैं।

ईवीएम का डेमो बना महिलाओं और बुजुर्गों को समझा रहे हैं कि बटन कहां और कैसे दबाएं।
ईवीएम का डेमो बना महिलाओं और बुजुर्गों को समझा रहे हैं कि बटन कहां और कैसे दबाएं।

EVM का बनाया है डेमो
सिर्फ टीशर्ट ही नहीं EVM का भी डेमो तैयार किया है। इसे भी लेकर गांव में घूम रहे हैं। महिलाओं और बुजुर्गों को समझा रहे हैं की बटन कहां और कैसे दबाएं। EVM मशीन पर कितने नम्बर पर रूबी शर्मा का चुनाव चिन्ह है, वो भी समझा रहे हैं।

सरैया में पैर पकड़ने का वीडियो हुआ था वायरल
सरैया में गत दिनों एक प्रत्याशी का पैर पकड़कर जनता से वोट मांगने का वीडियो खूब वायरल हुआ था। प्रत्याशी तब तक पैर पकड़े रहता है, जब तक वह व्यक्ति उसे वोट देने की बात नही स्वीकार कर लेता है। इसके बाद पैर छोड़ता है। बता दें की पंचायत चुनाव में इस तरह से अनोखा प्रचार करने के खूब मामले सामने आते हैं।

खबरें और भी हैं...