पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

12 घंटे में पकड़ा गया पुलिस अभिरक्षा से फरार शातिर:दूसरे के घर मे सोया हुआ था, सिविल ड्रेस में पुलिस कर रही थी रेकी, कोर्ट परिसर से हुआ था फरार

मुजफ्फरपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपित रूपेश कुमार । - Dainik Bhaskar
आरोपित रूपेश कुमार ।

मुजफ्फरपुर में रविवार को पुलिस अभिरक्षा से हथकड़ी से हाथ सड़काकर फरार आरोपित रूपेश कुमार को 12 घंटे में दबोच लिया गया। वह कोर्ट परिसर से भागने के बाद गायघाट स्थित अपने घर गया था। वहां से खाना-पीना करने के बाद निकल गया। पुलिस उसे खोजते हुए घर तक पहुंची। लेकिन, पता नहीं लग सका।

इसके बाद पियर थानेदार रवि गुप्ता सन्देह के आधार पर छापेमारी कर रहे थे। शातिर यहां-वहां घूमता रहा। फिर रात को अपने गांव में ही एक परिचित के घर गया और वहीं पर खाना खाकर सो गया। इधर, पुलिस को पता था कि वह गांव या घर ज़रूर आएगा। थानेदार समेत चार सदस्यीय टीम सिविल ड्रेस में गांव में रेकी कर रही थी। उसके एक घर में छीपे होने की खबर मिल गयी। उक्त घर को चारों तरफ से घेर लिया गया। फिर दरवाजा खुलवाया गया।

छत से कूदा और पकड़ा गया

दरवाजा खटखटाने की आवाज सुनकर वह चौकन्ना हो गया। वह समझ गया कि पुलिस आ गयी है। वह सीधे छत पर चढ़ गया और कूद गया। नीचे पुलिस खड़ी थी। उसे दबोच लिया गया और हाजत में ले जाकर बन्द कर दिया। आज फिर उसकी पेशी होगी। तब जेल भेजा जाएगा।

यह हुई थी घटना

पियर थाना क्षेत्र के घोसरामा के मोहम्मद मुस्तकीम ने रूपेश के खिलाफ FIR दर्ज कराया था। बताया था कि आरोपित उसकी दुकान से मोबाइल चोरी कर भाग रहा था। शोर मचाकर अन्य लोगों के सहयोग से उसे दबोच लिया गया। जमकर पिटाई कर पुलिस के हवाले कर दिया गया। रविवार को उसे कोर्ट में पेशी के लिए लाया गया था। तभी वह चौकीदार को चकमा देकर फरार हो गया था।

खबरें और भी हैं...