पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar Police Officers Facing Problem To Get Single Hospital Bed For Corona Patient Family Member

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जो करते थे पैरवी, अब खुद बेबस:बिहार के एक DSP अपनी मां को बेड दिलाने 4 अस्पताल घूमे; सीनियर इंस्पेक्टर के भाई को पांचवें में मिली इंट्री

पटना23 दिन पहलेलेखक: अमित जायसवाल
  • कॉपी लिंक
  • पटना की दो कहानियों से समझिए कोरोना के सामने पॉवर की बेबसी

कोरोना वायरस के जाल में आम और खास हर कोई बुरी तरह से फंसता जा रहा है। जो इसके संक्रमण के जाल में फंस गया, उसके साथ-साथ उसके परिवार का भी हाल बुरा हो गया है। कोरोना संक्रमण से ड्यूटी कर रहे पुलिस वाले और उनके परिवार के लोग भी अछूते नहीं हैं। अब जो रियल स्टोरी सामने आ रही है, वो आपको और हैरान और परेशान कर देगी। पुलिस के वो अफसर अब बेबस होते दिख रहे हैं, जो अक्सर दूसरों के लिए पैरवी किया करते थे। जो दूसरों की मदद किया करते थे। कोरोना काल में उन्हें अपने पॉजिटिव आए माता-पिता, भाई और दूसरे रिश्तेदारों को हॉस्पिटल में एडमिट कराने में फजीहत झेलनी पड़ी। परेशान हुए पुलिस अफसरों की पहचान जाहिर नहीं किए जाने के शर्त पर ही भास्कर को इस रियल स्टोरी के बारे में बताया गया।

पहले, दूसरे, तीसरे ने मना किया तो चौथे हॉस्पिटल में मिली जगह

बिहार पुलिस के एक DSP की मां किसी तरह से कोरोना का शिकार हो गईं। उनकी तबियत काफी बिगड़ गई थी। पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद से ही मानसिक तौर पर परिवार के लोग परेशान होने लगे थे। इनकी परेशानी तब और बढ़ गई, जब बेहतर इलाज के लिए DSP की मां को हॉस्पिटल में एडमिट कराया जाना था। साहब तो परेशान थे ही, साथ उनके सेक्शन के सीनियर अधिकारी भी परेशान थे। हर कोई अपने स्तर से हॉस्पिटल में बेड के लिए चक्कर लगा रहा था।

पटना में लगातार तीन हॉस्पिटलों ने बेड उपलब्ध नहीं होने की बात कह कर एडमिट करने से मना कर दिया था। जब चौथे हॉस्पिटल में बेड मिला तो वहां भी शर्तों के आधार पर एडमिट किया गया। क्योंकि, वर्तमान में सबसे बड़ी समस्या ऑक्सीजन गैस की है। ऑक्सीजन गैस घटने पर खुद से व्यवस्था करने की शर्त हॉस्पिटल की तरफ से रखी गई थी, जिसे माना गया और उसके बाद ही उनकी मां को एडमिट किया गया।

चार के चक्कर लगाने के बाद एक छोटे हॉस्पिटल ने एडमिट तो किया पर...

बिहार पुलिस मुख्यालय के ही एक सेक्शन में पुराने बैच के इंस्पेक्टर पोस्टेड हैं। कई थानों में थोनदारी भी कर चुके हैं। लेकिन, कोरोना काल में ये भी बेबस हैं। इनका चचेरा भाई कोरोना पॉजिटिव निकला। इलाज के लिए सबसे पहले पाटलिपुत्रा इलाके में स्थित एशियन सिटी हॉस्पिटल ले जाया गया। वहां एडमिट करने से मना कर दिया गया। इसके बाद कुर्जी होली फैमिली हॉस्पिटल, IGIMS और कंकड़बाग में आरएन सिंह गली के पास स्थित एक हॉस्पिटल ने एडमिट करने मना कर दिया था। दर-दर भटकने के बाद धनुकी मोड़ के पास स्थित सेंट्रल हॉस्पिटल में बेड मिला। तब जाकर इंस्पेक्टर ने चचेरे भाई को एडमिट कराया। हालांकि ऑक्सीजन की कमी की वजह से एडमिट करने में परेशानी यहां भी हो रही थी।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत होगा। जिससे आपकी विचार शैली में नयापन आएगा। दूसरों की मदद करने से आत्मिक खुशी महसूस होगी। तथा व्यक्तिगत कार्य भी शांतिपूर्ण तरीके से सुलझते जाएंगे। नेगेट...

और पढ़ें