पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar Government School Students To Do 3 Month Catchup Course In New Session 2021 22

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

3 माह में साल भर की पढ़ाई कैसे होगी:बिहार के बच्चे नए सेशन में पहले कैचअप कोर्स करेंगे, टेस्ट पर अभी फैसला नहीं

पटना11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • विभाग ने खोजा बिना परीक्षा अगले वर्ग में जाने पर होने वाली दिक्कतों का समाधान
  • बिना कड़क मॉनिटरिंग के यह टारगेट एचीव करना आसान नहीं

बिहार में नए सत्र से सभी सरकारी स्कूलों के सभी वर्गों में कोरोना काल में पढ़ाई में आई बाधा की भरपाई करेगा। शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने भास्कर से बातचीत में बताया कि पिछले वर्ग की पढ़ाई तीन माह तक करायी जाएगी। उसके बाद नए क्लास की पढ़ाई शुरू होगी। इसे 'कैचअप कोर्स' का नाम दिया गया है। नए सत्र यानी अप्रैल माह से यह 'कैचअप कोर्स' शुरू होगा।

चल रहा था मंथन, अब फैसला
विभाग ने स्टूडेंट को नए वर्गों में बिना परीक्षा के प्रमोट करने का फैसला तो पहले ही कर लिया है। लेकिन पिछले वर्ग की पढ़ाई कैसे पूरी होगी, यह सवाल सभी के सामने है। इसके समाधान के लिए विभाग में मंथन चल रहा था। अब विभाग ने इस पर सैद्धांतिक फैसला ले लिया है। इसकी एक मीटिंग 23-24 फरवरी को भी होनी है।

कोर्स के बाद टेस्ट होगा या नहीं, यह तय होना बाकी
बिहार में सरकारी स्कूलों के शिक्षकों की काबिलियत और बच्चों के क्वालिटी एजुकेशन पर सवाल उठते रहे हैं। ये शिक्षक किस तरह तीन माह में पूरे एक साल का कोर्स पूरा करा पाएंगे, इस बारे में भी विभाग को भी सोचना पड़ेगा। बिना कड़क मॉनिटरिंग के यह महज खानापूर्ति की तरह हो जाएगा। सरकार शिक्षकों के जिम्मे पढ़ाने के अलावा भी कई तरह के काम सौंपती रहती है। इससे भी इसमें बाधा आ सकती है। इन सबके बावजूद शिक्षकों की इच्छा शक्ति पर यह निर्भर करेगा कि कैचअप कोर्स से सरकारी स्कूल के बच्चे क्या हासिल कर पाते हैं। पुराने वर्ग की पढ़ाई तीन माह तक कराने के बाद बच्चों का कोई टेस्ट लिया जाएगा कि नहीं, यह अगली बैठक में तय होगा।

बच्चे-अभिभावक सभी चिंतिंत
कोरोना काल में बच्चों की पढ़ाई बुरी तरह से प्रभावित रही। स्कूल बंद रहे। कोचिंग बंद रहे। अभिभावक परेशान रहे पर वे कुछ कर पाने की स्थिति में नहीं थे। प्राइवेट स्कूलों में तो ऑनलाइन क्लास हुए पर ज्यादातर सरकारी स्कूलों में बच्चों की पढ़ाई उस तरह से नहीं हो पाई। नए क्लास में बिना परीक्षा के प्रमोट कर दिए जाने के फैसले पर अभिभावक खुश होने के साथ चिंतिंत भी हैं कि बिना पढ़े अगले वर्ग में जाने पर उनके बच्चे आगे पढ़ाई में कमजोर तो नहीं हो जाएंगे। विभाग ने इसे समझते हुए तीन माह में पूरे एक साल का कोर्स पूरा कराने का फैसला लिया है। यह किस तरह से संभव हो पाएगा, कहना मुश्किल है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

और पढ़ें