करंट लगने से महिला की मौत:सब्जी के खेत में घास काटने गई थी महिला, करंट की चपेट में आने से गई जान, शव को पत्तों से ढका

बेतिया3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बेतिया के मझौलिया थाना क्षेत्र के शेख मझरिया पंचायत के यादव टोला वार्ड नंबर 1 में घास काटने गई महिला का बिजली करंट से मौत हो गई। मृतका की पहचान यादव टोला के बुचुक यादव की पत्नी बबीता देवी(25वर्ष) के रुप में की गई है । बेतिया के मझौलिया थानाध्यक्ष अशोक कुमार ने बताया कि अभी मामले में आवेदन प्राप्त नहीं हुआ है। आवेदन मिलते ही प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। वहीं, आरोपित घर छोड़ फरार है।

करंट के तार से की गई गई थी बाउंड्री

यादव टोला का लक्ष्मण यादव के खेत में विजय यादव ने बैगन की खेती की गई थी। खेत के चारों तरफ से बिजली की सप्लाई नंगा तार लगाकर कर दी गई थी। ताकि उसका फसल का कोई नुकसान ना कर सके। यादव टोला के बुचुक यादव की पत्नी बबीता देवी मवेशी के लिए चारा काट कर लौट रही थी। उसी समय वह तार की चपेट में आ गई । मौके पर ही उसने दम तोड़ दिया। घटना को देख विजय यादव एवं उसका पुत्र बुनेल यादव द्वारा बबिता के शव के ऊपर पाता बिछा कर ढक दिया।

शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया

उधर, पति बुचुक यादव चारा काट कर जब लौट रहा था, तब अपनी पत्नी को बेसुध अवस्था में गिरे हुए देख शोर मचाया। शोर सुनकर आसपास के ग्रामीण इकट्ठा होकर शव के पास विजय यादव व उसके पुत्र पर नारेबाजी करने लगे। इसकी सूचना मिलते ही मझौलिया थाना के दरोगा सुरेश राव दल बल के साथ पहुंचे पर मृतका के परिजनों द्वारा शव को पोस्टमार्टम के लिए नहीं दिया गया। इंस्पेक्टर अशोक कुमार दल बल के साथ मौके पर पहुंचकर मृतिका के परिवार को समझा-बुझाकर शव को पोस्टमार्टम के लिए बेतिया भेजा है।

बेसहारा हो गए तीन बच्चे
बबिता को तीन पुत्री है जिसमे सबसे बड़ी पुत्री की उम्र तकरीबन 4 वर्ष है, जबकि छोटी पुत्री महज एक माह की है। घटना को लेकर आस पास के लोगो मे कोहराम मचा है ।वहीं अबोध बच्चे को देखकर लोग परिजनों को ढांढस बांधने में जुट गए।

खबरें और भी हैं...