• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • BJP Quota Minister Ram Surat Rai Broke The Order Of CM's Department, Not A Single Woman In The Transfer Of CO

ट्रांसफर-पोस्टिंग पर BJP-JDU में ठनी:शाम में CM के विभाग ने कहा- CO के पद पर 35% महिलाएं हों, रात में मंत्री ने 22 ट्रांसफर किए; जिसमें एक भी महिला नहीं

पटना4 महीने पहलेलेखक: प्रणय प्रियंवद
  • कॉपी लिंक

बिहार में BJP और JDU के बीच तकरार एक बार फिर सामने आ गई है। इस बार तकरार जुबानी न होकर आदेश-पालन को लेकर भी दिख रही है। शुक्रवार शाम को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामान्य प्रशासन विभाग ने राजस्व व भूमि सुधार विभाग को अंचलाधिकारी (CO) के पद पर पदस्थापना में महिलाओं के लिए 35 फीसदी सीट रखने का आदेश दिया।

वहीं, शुक्रवार रात ही भूमि सुधार विभाग ने 22 CO का ट्रांसफर किया, जिसमें एक भी महिला अधिकारी को जगह नहीं दी गई। इसके बाद से चर्चा शुरू हो गई कि अब ट्रांसफर-पोस्टिंग को लेकर BJP-JDU में पावर-वॉर हो रहा है।

कई तरह के सवाल उठ रहे हैं

आनन-फानन में किए गए इस ट्रांसफर से कई तरह के सवाल उठने लगे हैं। राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के मंत्री रामसूरत राय हैं और वे BJP कोटे से आते हैं। यह भी सवाल उठ रहा है कि आखिर कौन सी अंदरुनी वजह रही कि मुख्यमंत्री के सामान्य प्रशासन विभाग के आदेश की धज्जी उड़ाते हुए मंत्री ने लगभग 22 CO का तबादला कर दिया। भास्कर को जानकारी है कि अभी तो 22 का ही ट्रांसफर हुआ है, इसके अलावा ट्रांसफर के लिए लंबी लिस्ट मंत्री जी के पास तैयार है।

सवाल का जवाब मंत्री ने ट्रांसफर से दिया

18 जून को सामान्य प्रशासन विभाग; जिसके मंत्री खुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हैं, की ओर से पत्र जारी किया गया। विभाग ने राजस्व एवं भूमि सुधार के अपर मुख्य सचिव को पत्र लिख कर निर्देश दिया कि वे यह रिपोर्ट दें कि अंचलाधिकारी के पद पर कितनी महिलाओं की तैनाती की गई है? कहा गया कि मुख्यमंत्री के सात निश्चय पार्ट-2 के तहत सरकार ने फैसला लिया है कि स्थानीय प्रशासन में महिलाओं को 35 फीसदी प्रतिनिधित्व दिया जाए। इसका मतलब यह हुआ कि CO, BDO, SDM और थानेदार की ट्रांसफर-पोस्टिंग में महिलाओं की 35 फीसदी हिस्सेदारी निश्चित की जानी चाहिए। इन सवालों का जवाब राजस्व व भूमि सुधार विभाग ने ट्रांसफर कर दे दिया।

मंत्री बोले- अभी पूरा ट्रांसफर बाकी है

भूमि एवं राजस्व विभाग के मंत्री रामसूरत राय ने भास्कर से कहा, 'अभी पूरा ट्रांसफर बाकी है। महिलाओं को भी तरजीह दी जाएगी। ऐसा नहीं है कि किसी महिला अफसर को शंटिंग में हमलोगों ने रखा हुआ है। जिनका समय पूरा होगा उनका ट्रांसफर जरूर किया जाएगा। निश्चिंत रहिए, नियम का पालन होगा'।

नीतीश लेते रहे हैं महिलाओं को लुभाने वाले फैसले

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार महिलाओं के अधिकारों के प्रति हमेशा सचेत दिखने की कोशिश करते रहे हैं। सबसे पहले उन्होंने पंचायतों में 50% सीट महिलाओं को दे दी। इसके बाद बिहार सरकार की सभी नौकरियों में महिलाओं को 35% आरक्षण दिया। फायदा यह हुआ कि महिलाएं नीतीश की साइलेंट वोटर बन गई। हाल ही में तकनीकी कॉलेजों और ट्रांसफर-पोस्टिंग में भी महिलाओं के लिए सीट रखने का प्रावधान किया गया है।

खबरें और भी हैं...