पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bollywood Actor Sushant Singh's Suicide In Mumbai Father Is Shocked To Hear The News Of Son Suicide

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुशांत की मौत पर सदमे में परिवार:बेटे की मौत की खबर सुनकर पिता बेहोश हुए, परिजन रो रहे; पटना स्थित घर के बाहर भीड़

पटना7 महीने पहले
बेटे की मौत की खबर सुनकर पिता केके सिंह सदमे में आ गए। परिजन उन्हें संभालने की लगातार कोशिश कर रहे हैं।
  • मुंबई से जैसे ही सुशांत की मौत की खबर आई, आस-पड़ोस से कई लोग उनके घर पहुंच गए
  • लोगों ने कहा- खबर पर यकीन ही नहीं हुआ, वे जिंदादिल थे, सुसाइड कैसे कर सकते हैं

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने रविवार को मुंबई स्थित अपने अपार्टमेंट में फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया। सुशांत की मौत की खबर जैसे ही परिवार वालों की मिली सभी सदमे में आ गए। बेटे की मौत की खबर सुनते ही पिता बेहोश हो गए। घर के लोग उन्हें संभालने में जुटे हैं। वे होश में आते हैं और फिर थोड़ी देर बाद बेहोश हो जा रहे हैं। करीबी लोग उन्हें समझाने की कोशिश कर रहे हैं। परिजन का रो-रोकर बुरा हाल है। सूत्रों के मुताबिक डॉक्टरों को घर बुलाया गया है। सुशांत के पिता पटना में राजीव नगर स्थित रोड नंबर 6 में रहते हैं।

पिता के लिए बेटे की मौत से बड़ा दुख कुछ नहीं। सुशांत की मौत की खबर के बाद पिता बेसुध दिखे।
पिता के लिए बेटे की मौत से बड़ा दुख कुछ नहीं। सुशांत की मौत की खबर के बाद पिता बेसुध दिखे।

सुशांत की मौत की खबर जैसे ही मुंबई से आई, आस-पड़ोस के कई लोग उनके घर पहुंच गए। घर के बाहर मीडियाकर्मियों का जमावड़ा लगा है। कुछ ऐसे लोग हैं जो कई बार सुशांत से मिले थे। उनका कहना है कि उन्हें इस खबर पर यकीन ही नहीं हुआ। सुशांत एक जिंदादिल इंसान थे। वे कैसे सुसाइड कर सकते हैं।

पटना के राजीव नगर रोड नंबर 6 स्थित सुशांत सिंह के घर के बाहर लोगों की भीड़ जुटी है।
पटना के राजीव नगर रोड नंबर 6 स्थित सुशांत सिंह के घर के बाहर लोगों की भीड़ जुटी है।

सुशांत सिंह मूल रूप से बिहार के पूर्णिया जिले के रहने वाले थे। 90 के दशक में पूरा परिवार पटना आ गया। पिता केके सिंह सरकारी अधिकारी रहे हैं। सुशांत की पढ़ाई पटना के सेंट कैरेंस स्कूल से हुई है। इसके बाद वे दिल्ली चले गए। खगड़िया में सुशांत का ननिहाल है। पिछले साल यहां उनका मुंडन संस्कार भी किया गया था। सुशांत के गांव वालों को यकीन ही नहीं हो रहा है उन्होंने सुसाइड किया है।

पटना वाले घर में भी नेमप्लेट पर सुशांत का नाम लिखा है।
पटना वाले घर में भी नेमप्लेट पर सुशांत का नाम लिखा है।

स्टार बनने के बाद भी व्यवहार नहीं बदला
पड़ोसी भरत सिंह ने बताया कि सुशांत अपने पिता का एकमात्र सहारा था। 2002 में मां की मौत हो गई थी। वह बचपन से ही सौम्य स्वभाव का था। पढ़ने में भी काफी अच्छा था। फिल्म स्टार बनने के बाद भी उसके व्यवहार में कोई बदलाव नहीं आया।

एक अन्य पड़ोसी श्याम सिंह ने बताया कि स्टार बनने के बाद सुशांत घर पर कम ही आता था, लेकिन जब भी आता तो हम लोगों से जरूर मिलता। मुंबई जाकर उसने अपने संस्कार नहीं भूले। जब भी मिलता पैर छूकर प्रणाम करता। हमें भरोसा ही नहीं हो रहा है कि वह ऐसा कदम उठा सकता है। दीघा विधानसभा क्षेत्र से विधायक संजीव चौरसिया ने भी मौके पर पहुंचकर परिजन को सांत्वना दी।

सुशांत सिंह से जुड़ीं और भी खबरें...

खुदकुशी / एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने फांसी लगाकर सुसाइड किया, मुंबई के बांद्रा स्थित फ्लैट में शव मिला; 6 दिन पहले उनकी पूर्व मैनेजर ने भी खुदकुशी कर ली थी

रील में जो निभाया, रियल में भुलाया / ‘छिछोरे’ में सुशांत सुसाइड की कोशिश करने वाले बेटे को जीने का हौसला देने वाले पिता बने थे, पर असल जिंदगी में खुद जान दे बैठे

एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में खुदकुशी का सिलसिला / लॉकडाउन के 70 दिनों में कई एक्टर्स ने मौत को गले लगाया, कोई टूटे सपनों तो कोई तंगहाली के चलते जिंदगी की जंग हार गया

जमीन से चांद तक सुशांत / बॉलीवुड में जमीनी स्ट्रगल के दौरान सुशांत की पहली कमाई 250 रुपए थी, जब स्टार बन गए तो चांद पर प्लॉट खरीदा

सुशांत सिंह राजपूत का फिल्मी सफर / 2005 में फिल्म फेयर अवॉर्ड में डांस ट्रूप का हिस्सा थे, 2017 में पहली बार इसी के लिए नॉमिनेट हुए

सुशांत की खुदकुशी पर रिएक्शन / मोदी ने कहा- होनहार युवा अभिनेता बहुत जल्द चला गया, खुदकुशी पर हैरान बॉलीवुड बोला- डिप्रेशन सबसे बड़ी महामारी

यादें शेष / सुशांत ने 11 दिन पहले शेयर की थी इंस्टाग्राम पर आखिरी पोस्ट, मां को याद कर कहा था- जिंदगी का कोई ठिकाना नहीं

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser