पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Crowds Thronged The Markets For Chhath's Offerings, Did Not See Social Distancing, Faces Without Mask Everywhere Chhath Puja In Bihar Chhath In Patna

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

छठ का बाजार:छठ के प्रसाद लिए उमड़ी बाजारों में भीड़, नहीं दिखी सोशल डिस्टेंसिंग, दिखे हर ओर बिना मास्क के चेहरे

पटना6 दिन पहले
छठ के बाजार में कई जगह बच्चों से भी काम करवाया गया। ठेले पर बाजार में मिट्टी के चूल्हे ले जाती बच्ची।
  • लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क का नियम भूलकर की खरीदारी
  • भीड़ के कारण पटना की कई सड़कों पर जाम भी दिखा

छठ महापर्व पर पूरे बिहार में फल और पूजा सामग्री के बाजार गुलजार हो गए हैं। कोरोना काल में लोग सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क का नियम भूल जमकर खरीदारी करते देखे गए। हर चौक-चौराहे पर दुकानें सज गई हैं और सुबह से यहां ग्राहकों की भीड़ लग गई है। बाजारों में खरीदारों के लिए केले के हजारों घौद लाइन से लगे हुए हैं। गन्ने, गागल नींबू, सेब, संतरे के टोकरे हर जगह दिख रहे हैं। कच्ची हल्दी, मूली और पानीफल सिंघारा के टोकरे ग्राहकों का इंतजार कर रहे हैं। बाजार में फूलों का भी अंबार लगा हुआ है। गेंदे के फूलों की लड़ियां सजी हुई हैं।

बेली रोड पर पटना जू के पास सजा बाजार।
बेली रोड पर पटना जू के पास सजा बाजार।

चाहे वह बिहटा का बाजार हो, सरमेरा चौक का बाजार हो या पटना में मुसल्लहपुर, मीठापुर, कंकड़बाग, कदमकुआं, बेली रोड, बोरिंग रोड, पाटलिपुत्रा कॉलोनी, राजा बाजार, दानापुर, दीघा और पटना सिटी समेत हर इलाके में खरीदारों की भीड़ उमड़ रही है। इस भीड़ के कारण कई जगह सुबह से जाम लगा हुआ है। आज शाम में खरना का प्रसाद बनेगा। इसमें रोटी और गुड़ की खीर बनती है। प्रसाद की रोटी बनाने के लिए हर मोहल्ले में आटा चक्कियों पर गेहूं पिसाने के लिए लोगों की भीड़ देखी गई। लोग लाइन लगाकर अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं। खरना के दूसरे दिन शाम का अर्घ्य दिया जाता है। इसके लिए लोग फल और भोजन सामग्री आज खरीदकर रख लेते हैं, ताकि अगले दिन शाम के अर्घ्य के तैयारी आराम से कर सकें। हर इलाके के बाजारों में पुलिस के जवान भी मुस्तैद दिखे।

बोरिंग रोड पर ग्राहकों का इंतजार करते दुकानदार।
बोरिंग रोड पर ग्राहकों का इंतजार करते दुकानदार।

बाजारों में छोटे बच्चे भी खटते दिखे

खरना का प्रसाद बनाने के लिए मिट्‌टी के चूल्हे और आम की लकड़ियों के ढेर भी बाजारों में दिखे। मिट्‌टी के बर्तन खरीदने के लिए भी भीड़ देखी गई। सूप और दउरा भी बिकते देखे गए। कई जगह बाजारों में छोटे-छोटे बच्चे भी चूल्हे और अन्य सामान बेचते देखते गए।

छठ का इतना महत्व क्यों, पुरोहित की जरूरत नहीं

कोरोना काल में छठ के बाजार में महंगाई
कोरोना काल के छठ में बाजार में महंगाई है। केला 400 से 500 रुपए प्रति घौद मिल रहा है। गागल नींबू 20 रुपए का एक है। नारियल 40 रुपए में एक बिक रहा है। हल्दी का रेट भी 30 रुपए एक पाव है। अनानास भी 30 से 40 रुपए में बिक रहा है। गन्ना का रेट भी कम से कम 40 रुपए पीस है। दुकानदारों का कहना है कि बाजार में इस बार कोरोना के कारण भी काफी महंगाई है। पिछले वर्ष से इस साल 10 प्रतिशत से अधिक महंगाई है। सामान बाहर से नहीं आ रहा है इस कारण से भी महंगाई है। लोकल बाजार से आने वाले सामान भी महंगे हैं।

छठ पर पटना के बाजार
चिड़िया खाना, बेली रोड

अधिकतर ग्राहकों और दुकानदारों के मुंह पर मास्क नहीं था। फल कारोबारी राजेंद्र प्रसाद गुप्ता ने बताया कि इस बार बाजार में भीड़ है लेकिन बिक्री पहले जैसी नहीं है। पहले खूब खरीदारी होती थी लेकिन इस बार ऐसा नहीं है। सामान के दाम में भी महंगाई है। जो गन्ना पिछले साल 30 रुपए में बेच देते थे वह इस बार 40 रुपए में उन्हें खरीद पड़ रही है। नीबू और फलों पर भी महंगाई है।

बोरिंग रोड चौराहे पर सजी दुकानें।
बोरिंग रोड चौराहे पर सजी दुकानें।

बोरिंग रोड चौराहा
यहां प्रसाद के साथ पूजा व फल-फूल की दर्जनों दुकानें हैं। बाजार में भीड़ है लेकिन दुकानदारों का कहना है कि पिछले साल की तरह इस बार बिक्री नहीं है। इस बार लोग पूजा का सामान ही अधिक खरीद रहे हैं। दुकानदार गोपी का कहना है कि इसका बड़ा कारण कोरोना और महंगाई है। दुकानों पर सामान का पूरा ढेर है लेकिन खरीदार नहीं है। यही कारण है कि भीड़ है, इसके बाद भी बिक्री उतनी अच्छी नहीं है।

बोरिंग कैनाल रोड
दर्जनों दुकानें लगी हैं। यहां गन्ने से लेकर दउरा तक बिक रहा है। बाजार में लोगों की इतनी भीड़ है कि सड़क पर जाम लग जा रहा है। दुकानदार अमरेश राय ने बताया कि बिक्री है लेकिन पिछले साल की तरह नहीं। इस बार लोग सजावट के सामान व फल की ज्यादा खरीद नहीं कर रहे हैं। बस में छठ में जो जरूरी सामान होता है, उसकी ही डिमांड है।

राजा बाजार
भीड़ से जाम लगा रहा है जिस कारण से यातायात के जवानों को लगाया गया था। पूजा सामानों के साथ फल की दर्जनों दुकानों के कारण लोगों की भीड़ रही और इस कारण से ही जाम की स्थिति बनी रही। यहां भी कोरोना को लेकर कोई गंभीर नहीं दिखा। ग्राहक से लेकर दुकानदार तक गंभीर नहीं दिखे। न तो मास्क का ध्यान था और ना ही सोशल डिस्टेंस का ही पालन किया जा रहा था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें