• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Chirag Paswan Is Mixing Yes With Tejashwi Yadav, If He Meets, Bihar Will Spoil The Equation Of NDA.

तेजस्वी की हां में हां मिला रहे चिराग:अब तेजस्वी के बेरोजगारी के मुद्दे को चिराग अपना बना रहे; दोनों मिले तो बिहार NDA का समीकरण बिगाड़ देंगे

पटना4 महीने पहलेलेखक: बृजम पांडेय
  • कॉपी लिंक
अब चिराग पासवान, तेजस्वी यादव के सभी मुद्दों पर हां में हां मिला रहे हैं। - Dainik Bhaskar
अब चिराग पासवान, तेजस्वी यादव के सभी मुद्दों पर हां में हां मिला रहे हैं।

चिराग पासवान एक बार फिर से CM नीतीश कुमार की राह में बाधा खड़ी कर रहे हैं। अब वह तेजस्वी यादव के साथ मिलकर नीतीश को घेरने में जुटे हैं। वह तेजस्वी के सभी मुद्दों पर हां में हां मिला रहे हैं। बेरोजगारी के मुद्दे पर तेजस्वी की तरह चिराग ने भी नीतीश सरकार पर निशाना साधा है।

चिराग ने कहा कि सरकार में बैठे लोग ही बेरोजगारी पर विपक्ष से सवाल कर रह हैं, जबकि उन्हें जवाब देना चाहिए। जो लोग 19 लाख रोजगार का वादा कर सरकार में आए हैं, वह अभी तक क्या कर रहे हैं? क्या बिहार से पलायन रुक गया है? क्या बेरोजगार लोगों को बिहार में रोजगार मिल रहा है? उन्होंने कहा कि सच तो यह है कि राज्य सरकार के पास इसका कोई जवाब नहीं है और लगातार बिहार के लोग पलायन करने पर मजबूर हैं। भले चिराग नीतीश कुमार पर निशाना साध रहे हों, लेकिन 19 लाख रोजगार देने का दावा BJP ने भी किया था और इस बहाने वह BJP पर भी हमला कर रहे हैं।

9वीं पास लोग रोजगार की बात कर रहे हैं: ललन सिंह

JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने तेजस्वी यादव पर हमला करते हुए कहा है कि 9वीं पास लोग बिहार में रोजगार की बात कर रहे हैं। जबकि, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में पिछले 15 सालों में लोगों को कितना रोजगार दिया गया है। इसका आंकड़ा एक बार निकालकर देख लें। उन्होंने महिला सशक्तिकरण के तहत बिहार में महिला पुलिस की बहाली के लिए मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया।

उन्होंने कहा कि सरकार ने 3 लाख 49 हजार नौजवानों की भी बहाली की है। बिहार में कानून का राज स्थापित करने के लिए नीतीश सरकार की सराहना करते हुए कहा कि आने वाले समय में नीतीश कुमार का नाम स्वर्ण अक्षरों में लिखा जाएगा। वहीं, उन्होंने सरकार द्वारा चलाए जा रहे सात निश्चय योजना की भी खुलकर तारीफ की और स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड की चर्चा करते हुए कहा कि 1 लाख 35 हजार लोगों को इसका लाभ दिया गया है।

चिराग पासवान पहले अपने घर को निपटाए: JDU

JDU के प्रदेश प्रवक्ता अभिषेक झा कहते हैं कि चिराग पासवान पहले अपने घर को निपटाए। जिससे अपना घर नहीं संभालता है वह बिहार और देश क्या संभालेंगे। बिहार में चिराग जैसे नेताओं की स्वीकार्यता नहीं है। यह हवा हवाई नेता है। हवाई जहाज से आते हैं। AC गाड़ी में बैठते हैं, घूमते हैं और चले जाते हैं।

उन्होंने कहा कि बिहार के लोगों का दर्द और पीड़ा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समझते हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हाल के दिनों में हर क्षेत्र में बहाली निकाली है। तेजस्वी यादव और चिराग पासवान को ज्यादा व्याकुल होने की जरूरत नहीं है।

चिराग के पास एक ही विकल्प है, वो विपक्ष की राजनीति करें

राजनीतिक जानकारों का कहना है कि अलग-थलग पड़े चिराग के पास एक ही विकल्प है कि वो विपक्ष की राजनीति करें, क्योंकि उनके चाचा को LJP की तरफ से केंद्र में मंत्री बनाया दिया गया है। बिहार में विपक्ष के तौर पर RJD है। भले सत्ता में RJD नहीं है, लेकिन यादवों का 16 % वोट RJD की झोली में जाता ही है।

वहीं, मुसलमान RJD और कांग्रेस को छोड़कर दूसरे को बहुत कम वोट देते हैं। बिहार में मुसलमान 17% हैं। यदि, चिराग पासवान का 6% वोट इसमें मिल जाता है तो अगले चुनाव में महागठबंधन सरकार बनाने की स्थिति में होगी। सभी पार्टियों का वोट प्रतिशत मिला लिया जाए तो 16+17+6= 39 फीसदी वोट हो जाते हैं। वहीं, लेफ्ट और कांग्रेस के अलग कैडर हैं, जो हर हाल में कांग्रेस और लेफ्ट को ही वोट देते हैं। ऐसे में चिराग ने यदि पलटी मारी तो NDA का पूरा समीकरण ध्वस्त हो जाएगा।

खबरें और भी हैं...