• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Chirag Paswan Vs Pashupati Paras; Three BJP Leaders Promoted By Removing General Secretary Janak Ram

LJP के वोटबैंक पर बिहार में सबकी नज़र!:BJP भी दलित वोटों को साधने की जुगत में, जनक राम बने मिनिस्टर तो बेबी कुमारी बनीं संगठन में महामंत्री, चिराग-पारस के विवाद के बाद सभी पार्टी सावधान

पटना4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दलित कार्ड खेल रही बीजेपी। - Dainik Bhaskar
दलित कार्ड खेल रही बीजेपी।

गुरुवार को JDU ने अपनी जम्बो कमेटी बनाई तो शुक्रवार को BJP ने भी समीकरण के आधार पर अपने संगठन में कुछ नेताओं को प्रमोशन दे दिया। BJP के महामंत्री जनक राम के सरकार में मंत्री बन जाने के बाद BJP ने ये कदम उठाया है। BJP ने तीन नेताओं को प्रमोशन दिया है। इसमें दो दलित तो एक बनिया का पोस्ट बढ़ाया गया है।

प्रदेश उपाध्यक्ष बेबी कुमारी को प्रमोट करते हुए उनको प्रदेश में महामंत्री बनाया गया है। वहीं, बेबी कुमारी के उपाध्यक्ष पद पर प्रदेश सचिव सिद्धार्थ शम्भू को प्रमोट किया गया है। इस फेहरिस्त में विधायक अनिल राम को प्रदेश मंत्री बनाया गया है। अनिल राम को पहली बार संगठन में लाया गया है तो बाकी दो नेताओं को प्रमोशन दी गई है।

ऐसे साधा जा रहा समीकरण

अब इस समीकरण को समझना होगा। दलित नेता जनक राम की जगह पर दलित नेत्री और बोचहां की पूर्व विधायक बेबी कुमारी को उपाध्यक्ष से महामंत्री बनाया गया है। बेबी कुमारी जाति से धोबी है। दलित नेता की जगह पर दलित नेत्री को उनका पद दिया गया। वहीं, बेबी कुमारी से खाली उपाध्यक्ष के पद को प्रदेश के सचिव सिद्धार्थ शम्भू को उपाध्यक्ष बना गया है।

सिद्धार्थ शम्भू जाति से बनिया हैं। इस कमेटी में पहली बार अनिल राम को सचिव बना कर लाया गया है। बथनाहा से विधायक अनिल राम दलित होने के साथ पेशे से इंजीनियर भी है। BJP में संगठन में जम्बो कमेटी बनाने की प्रथा नहीं है। प्रदेश अध्यक्ष के अलावा 12 उपाध्यक्ष, 4 महामंत्री और 14 प्रदेश सचिव बनाये जाते हैं।

लोगों का टूटा भ्रम

महामंत्री से सरकार में मंत्री बने जनक राम को एक पद एक व्यक्ति के फार्मूले के तहत हटाया गया है। उनका कहना है कि पार्टी का आदेश सर्वोपरी हैं। दलित होने के बावजूद उन्हें महामंत्री का पद दिया गया। संगठन के लिए वो लगातार काम करते रहे। जो भ्रम था कि BJP सिर्फ वैश्यों और सवर्णों की पार्टी है वो भ्रम टूटा हैं। हाल के वर्ष में पार्टी से दलितों का जुड़ाव बढ़ा है।

वहीं, प्रदेश सचिव से उपाध्यक्ष बनाये गये सिद्धार्थ शम्भू बताते हैं कि संगठन में काम कर रहे थे, पार्टी को लगा कि मेरा उपयोग उपाध्यक्ष पद पर किया जाएगा तो उन्होंने उपाध्यक्ष बना दिया। BJP में संगठन में काम करने वालों को ही आगे बढ़ाया जाता है।

मंत्री बन सकते हैं संजय जायसवाल

इस संगठन में फेरबदल के बीच चर्चा यह भी है कि प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल को केंद्र में मंत्री बनाया जा सकता है। बनिया समाज से आने वाले संजय जायसवाल संगठन छोड़ते हैं तो सिद्धार्थ शम्भू उनकी भरपाई कर सकते हैं। वैसे, दोनों चम्पारण से ही आते हैं। उधर, LJP में चिराग पासवान और पशुपति पारस के बीच मचे घमासान के बाद BJP ने दलित समाज से आने वाली बेबी कुमारी और अनिल राम को संगठन में प्रमुख जगह दी गई है।

खबरें और भी हैं...