• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • CM And Ministers Were Quarantined In Corona, Then The Cabinet Meeting Room Changed

कॉर्पोरेट लुक वाले कमरे में होगी मंत्रिमंडल की बैठक:कोरोना में CM नीतीश और मंत्री हुए क्वारैंटाइन तो बदल गया बैठक वाला कमरा

पटना4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बिहार में कोरोना के कारण मंत्रिमंडल की बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हो रही है। वहीं, इस बीच बिहार के मंत्रिमंडल सभागार का पूरा रंग-रूप बदल गया है। चंद दिनों पहले तक पुराने अंदाज में दिख रहा मंत्रिमंडल सभागार अब कॉर्पोरेट लुक में सामने आ गया है। बिहार का मंत्रिमंडल कक्ष यानी वो कमरा जहां बैठकर मुख्यमंत्री और मंत्री, राज्य से जुड़े फैसले लेते हैं उसका लुक पूरी तरह से बदल गया है।

मंत्रिमंडल कक्ष का लुक बदलकर पूरी तरह कॉर्पोरेट ऑफिस का लुक दिया गया है। मंत्रिमंडल कक्ष, मुख्य सचिवालय यानी घंटाघर के ठीक बीचों-बीच है। मुख्य सचिवालय भवन का निर्माण कार्य 1913 में शुरू हुआ था। 4 साल तक इस भवन का निर्माण हुआ, जो 1917 में बनकर पूरी तरह तैयार हो गया था। इस भवन की लंबाई 716 फीट और चौड़ाई 364 फीट है।

मंत्रियों को बैठने की अब मिलेगी ज्यादा जगह

मंत्रिमंडल कक्ष को नया लुक देने का काम दिसंबर में शुरू हुआ था, जो अब पूरा कर लिया गया है। पुराने मंत्रिमंडल कक्ष में मुख्यमंत्री और मंत्रियों को जहां एक-दूसरे से नजदीक होकर बैठना पड़ता था। अब वहां दूरी बढ़ सकेगी। वजह यह है कि मंत्रिमंडल कक्ष को और विस्तार दिया गया है। कक्ष की सीलिंग को फॉल्स सीलिंग और लाइटिंग के जरिए कॉर्पोरेट और मॉडर्न लुक देने की कोशिश की गई है।

झूमर के साथ सजाई गई सीलिंग के सफेद रंग को सफेद लाइटिंग दी गई है, ताकि सादगी पूर्ण और सुंदर लगे। इस कमरे का लुक चेंज करने में कितना का खर्च हुआ है यह तो आधिकारिक तौर पर कोई बताने को तैयार नहीं, लेकिन माना जा रहा है कि इस पर करीब 30 से 35 लाख खर्च हुआ है।

खबरें और भी हैं...