पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • CM Nitish Kumar Inauguration E Sanjivani Facility In Patna; Telemedicine Facility News Update

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बिहार में हेल्थ की 4 सेवाओं की शुरुआत:CM नीतीश ने लांच किया ई-संजीवनी, एंबुलेंस पोर्टल और वंडर एप; सबके बारे में जानिए

पटना3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ई-संजीवनी सेवाओं की शुरुआत करते CM नीतीश कुमार ने स्वास्थ्य विभाग से जुड़े सभी अधिकारियों को धन्यवाद दिया। - Dainik Bhaskar
ई-संजीवनी सेवाओं की शुरुआत करते CM नीतीश कुमार ने स्वास्थ्य विभाग से जुड़े सभी अधिकारियों को धन्यवाद दिया।
  • इन सेवाओं की शुरुआत से ग्रामीण मरीजों को समय और पैसे की होगी बचत

CM नीतीश कुमार ने रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश में ई-संजीवनी टेलीमेडिसिन सेवा का उद्घाटन किया। प्रदेश में 1723 सेंटर पर मरीजों को इसकी सुविधा मिलेगी। इसके बाद मार्च के अंत तक 3 हजार स्वास्थ्य केंद्रों तक ई-संजीवनी की व्यवस्था होगी। फिलहाल, सप्ताह में तीन दिन सुबह 9 बजे से 2 बजे तक मरीजों को ऑनलाइन परामर्श दिया जाएगा। ई-संजीवनी के जरिए ग्रामीण इलाकों के मरीजों को स्वास्थ्य सेवाएं दी जाएंगी। दूर-दराज इलाकों के मरीजों का पास के अस्पताल में ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बड़े अस्पतालों के डॉक्टर इलाज करेंगे। इससे लोगों के पैसे और समय की बचत होगी। उन्हें ज्यादा परेशानी नहीं होगी। इसके साथ ही एम्बुलेंस सेवाओं के लिए '102 इमरजेंसी बिहार' एप, गर्भवती महिलाओं की देखभाल-सहायता के लिए 'वंडर' एप लांच किया गया।

ऑनलाइन मिलेगी एंबुलेंस 102 की सेवा
CM ने '102 इमरजेंसी बिहार' की भी शुरुआत की। इसके जरिए एंबुलेंस की ट्रैकिंग की जाएगी। परिजन अपने मरीज की एंबुलेंस के साथ ट्रैकिंग कर सकते हैं। इस एप्लीकेशन से अधिकारी एम्बुलेंस की रियल टाइम ट्रैकिंग कर सकेंगे। 102 एंबुलेंस अब आसानी से हर किसी के लिए सुलभ होगी। लाइव लोकेशन ट्रेस करने के लिए इन्हें मोबाइल एप से जोड़ा जा रहा है। इसके माध्यम से पल-पल की जानकारी कंट्रोल रूम के साथ ही एंबुलेंस के लिए कॉल करने वालों को मिलती रहेगी। जैसे ही कोई मरीज या परिजन 102 एंबुलेंस के लिए कॉल करेगा, संबंधित के पास मैसेज चला जाएगा। इसमें चालक, टेक्नीशियन के मोबाइल नंबर, एंबुलेंस के नंबर लिंक होंगे। इस लिंक को खोलने पर एंबुलेंस की लाइव लोकेशन मिलती रहेगी।

गर्भवती महिलाओं के लिए 'वंडर एप'
मुख्यमंत्री ने 'वंडर एप' का भी शुभारंभ किया। गर्भवती महिलाओं को किन-किन बातों का ख्याल रखना चाहिए और किस तरह की दवा लेनी चाहिए, यह सब कुछ इसपर उपलब्ध होगा। महिलाओं के गर्भधारण से लेकर प्रसव काल तक हुए नियमित और आवश्यकता आधारित जांच के आंकड़ों को वंडर वेब पोर्टल पर डाला जाएगा। इससे उन्हें जरूरी चिकित्सा प्रोटोकॉल मिल सकेगा। मतलब, अलग लक्षण आने पर इस वंडर एप से चिकित्सीय सलाह भी ली जा सकती है।

'दीदी की रसोई' के लिए MoU
बिहार के सरकारी अस्पतालों में मरीजों और उनके सहयोगियों को स्वस्थ और पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराने के लिए राज्य स्वास्थ्य समिति और जीविका के बीच में MoU पर हस्ताक्षर किया गया। इसके तहत सरकारी अस्पतालों में 'दीदी की रसोई' नाम का कैंटीन चलाया जाएगा। फिलहाल राज्य के 7 जिलों में इसे शुरू किया जा रहा है, जिसमें बक्सर, शिवहर, सहरसा, गया, शेखपुरा, पूर्णिया, वैशाली के सदर अस्पताल शामिल हैं. गया शेरघाटी अनुमंडल अस्पताल में भी इस सुविधा की शुरुआत की जा रही है। 'दीदी की रसोई' के तहत जीविका दीदियां समूह बनाकर कैंटीन खोलेंगी। इनकी संख्या 6 से 10 होगी। कैंटीन में काम करने को लेकर केरल के कुटुंब श्री संस्थान की तरफ से सभी दीदियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इसका उद्देश्य मरीजों और उनके सहयोगियों को स्वस्थ भोजन देना है।

आशा के लिए अश्विन पोर्टल की लांचिंग

आशा कार्यकर्ताओं के लिए अश्विन पोर्टल की लांचिंग की गई। इसके जरिए आशा वर्कर परफारमेंस एंड इंसेंटिव पोर्टल के माध्यम से आशा अपना दावा प्रपत्र एवं अश्विन पोर्टल पर लोड करेगी। साथ ही उनकी सैलरी की भी जानकारी ऑनलाइन दी जाएगी।

क्या बोले CM नीतीश कुमार

CM नीतीश कुमार ने काफी कम समय में ई- संजीवनी की लॉंचिंग के लिए स्वास्थ्य विभाग से जुड़े सभी अधिकारियों को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि इसके माध्यम से स्वास्थ्य उपकेंद्र को जिला अस्पताल से जोड़ने पर काम किया गया है। प्रत्येक स्वास्थ्य उपकेंद्र को लिंक किया जाएगा। इलाज के लिए दवाओं की संख्या भी बढ़ाई गई है। ऑनलाइन परामर्श के बाद मरीजों को दवाइयां भी मिलेगी। उन्होंने यह भी कहा कि सोशल मीडिया के जरिए स्वास्थ्य क्षेत्र में दी जा रही सुविधाओं के बारे में लोगों को जानकारी देनी चाहिए। मोबाइल पर नई पीढ़ी के सामने कुछ भी आ जाता है। उन्हें 15 साल के पहले की स्थिति को बताना चाहिए। इस दौरान डिप्टी CM रेणु देवी और तारकिशोर प्रसाद, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय भी मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- सकारात्मक बने रहने के लिए कुछ धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करना उचित रहेगा। घर के रखरखाव तथा साफ-सफाई संबंधी कार्यों में भी व्यस्तता रहेगी। किसी विशेष लक्ष्य को हासिल करने ...

और पढ़ें