पटना में शाम को हुई हल्की बूंदाबांदी:कई जिलों में कल भी हल्की बारिश की संभावना, सभी जगह गिरेगा पारा

पटनाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
गोपालगंज में भी ठंड ने लोगों को ठिठुरने पर मजबूर कर दिया है। - Dainik Bhaskar
गोपालगंज में भी ठंड ने लोगों को ठिठुरने पर मजबूर कर दिया है।

बिहारवासियों को कोल्ड डे और कनकनी से फिलहाल निजात नहीं मिलने वाली है। पटना में शाम को हल्की बूंदाबांदी हुई है। इससे रात में गलन के और बढ़ने का अनुमान है। गुरुवार की रात का तापमान 10 डिग्री से नीचे रह सकता है। 8 से 10 किलोमीटर की रफ्तार से चल रही सर्द पछुआ हवा और कुहासा की वजह से धूप नहीं निकल रही है। इससे न्यूनतम पारा में थोड़ी बढ़ोत्तरी तो है, लेकिन अधिकतम पारा में गिरावट हो रही है। इससे ठंड घटने के बजाय बढ़ रही है। अगले 48 घंटे तक ऐसा ही मौसम रहने का अनुमान है।

इधर, गुरुवार को हवा की दिशा में परिवर्तन के साथ एक चक्रवाती परिसंचरण का क्षेत्र मध्य प्रदेश और आस पास बना है। इसके प्रभाव से उत्तर पश्चिम और दक्षिण पश्चिम बिहार के कुछ हिस्सों में कुछ स्थानों पर बूंदा बांदी हो रही है। मौसम विभाग ने 48 घंटे तक बूंदा बांदी और हल्की बारिश का अलर्ट किया है।

गुरुवार को पटना, अररिया, दरभंगा, गोपालगंज, गया, पूर्णिया, भागलपुर, सुपौल, पूर्वी चंपारण, बक्सर, सीतामढ़ी में कोल्ड डे रहने का अनुमान है। बताया जा रहा है कि बिहार में पश्चिमी विक्षोभ दस्तक देने वाला है। इस वजह से मौसम में फिर बदलाव होगा। पूर्वानुमान में कहा गया है कि शुक्रवार को कहीं-कहीं हल्की बारिश होने की संभावना है। जबकि, 22 और 23 को पटना समेत बिहार के ज्यादातर हिस्सों में गरज के साथ बारिश, बिजली चमकने और ओला गिरने की संभावना है।

आज सुबह करीब 8 बजे भागलपुर में भी घना कोहरा था।
आज सुबह करीब 8 बजे भागलपुर में भी घना कोहरा था।

वहीं, गुरुवार को भी खराब मौसम का असर फ्लाइट की सेवाओं पर पड़ा। आज पटना आने वाली पहली और दूसरी फ्लाइट लेट हो गई है। इस कारण यहां से जाने वाली पहली फ्लाइट भी रिशिड्यूल हुई है। आज कुल 12 फ्लाइट आने-जाने में लेट हुई हैं। इनमें सबसे अधिक बेंगलुरु की फ्लाइट ढाई घंटे लेट हो गई है। जबकि, दिल्ली, बेंगलुरु और मुम्बई की कुल 8 फ्लाइट आने-जाने में कैंसिल की गई है।

गोपालगंज में आग सेंकते लोग।
गोपालगंज में आग सेंकते लोग।

आज पहली फ्लाइट ही हो गई लेट, 12 में सबसे अधिक 2.5 घंटे लेट हुई बेंगलुरु की फ्लाइट

ऐसे बढ़ रही है हवा के साथ कनकनी

मौसम विभाग के मुताबिक, राज्य में सतह से 0.9 किलोमीटर ऊपर उत्तर एवं उत्तर पछुआ हवा का प्रवाह बना हुआ है। इसकी गति 8 से 10 किलोमीटर प्रति घंटे की है। हवा और तापमान का संयुक्त प्रभाव देखा जाए तो 5 किमी हवा के प्रवाह के कारण शरीर को महसूस होने वाला तापमान दर्ज किए गए तापमान से दो से तीन डिग्री कम होते हैं। अर्थात 5 से 7 किलोमीटर प्रति घंटे की हवा के प्रवाह के कारण 8 डिग्री का तापमान 6 डिग्री महसूस होता है। इसे सामान्य भाषा में कनकनी कहते हैं, अत: ठंड भरी हवा के कारण राज्य के पश्चिमी और मध्य भाग के कुछ स्थानों पर अगले 48 घंटे तक शीत की स्थित बनी रहेगी।

औरंगाबाद में भी सुबह का तापमान 10 डिग्री से कम था।
औरंगाबाद में भी सुबह का तापमान 10 डिग्री से कम था।

इन जिलों में दिखेगा हवा का प्रवाह

मौसम विभाग के मुताबिक, उत्तर पश्विम बिहार के पश्चिमी चंपारण, सीवान, सारण, पूर्वी चंपारण, गोपालगंज तथा दक्षिण पश्चिम बिहार के बक्सर, भोजपुर, रोहतास, भभुआ, औरंगाबाद, अरवल और दक्षिण मध्य बिहार के पटना, गया, नालंदा, शेखपुरा, नवादा, बेगूसराय, लखीसराय, जहानाबाद के साथ उत्तर मध्य बिहार के मधुबनी, मुजफ्फरपुर, उरभंगा, वैशाली, शिवहर, समस्तीपुर में कोल्ड डे का प्रभाव होगा। इन जिलों में रात का तापमान 10 डिग्री से कम रह सकता है। मौसम विभाग का कहना है कि इन जिलों में 10 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से चलने वाली हवाएं अपना प्रभाव कनकनी के रूप में दिखाएंगी।

औरंगाबाद में छाया घना कोहरा।
औरंगाबाद में छाया घना कोहरा।

24 घंटे में शेखपुरा सबसे ठंड

मौसम विभाग के मुताबिक, बीते 24 घंटे में मौसम शुष्क रहा। रात के तापमान में कोई खास बदलाव नहीं हुआ, लेकिन राज्य के अधिकतर शहरों में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से कम रिकॉर्ड किया गया। इस कारण से शीत दिवस की स्थिति बनी हुई है, सबसे कम न्यूनतम तापमान 7.4 डिग्री शेखपुरा में दर्ज किया गया। राज्य के प्रमुख शहर जहां शीत दिवस जैसी स्थिति रही उनमें पटना, गया, भागलपुर, मुजफ्फरपुर, पूर्णिया, फारबिसगंज, सुपौल, दरभंगा और मोतिहारी सहित कई जिले शामिल थे।

खबरें और भी हैं...