पटना पहुंचे कन्हैया, जिग्नेश, हार्दिक:बोले- बिहार ने जब-जब हल्ला बोला है दिल्ली का तख्त डोला है, दावा- अगली बार दोनों जगह बनेगी कांग्रेस सरकार

पटना7 महीने पहले
सदाकत आश्रम में जिग्नेश मेवान, हार्दिक पटेल और कन्हैया कुमार।

कांग्रेस में शामिल हाेने के बाद पहली बार कन्हैया कुमार शुक्रवार को पटना पहुंचे। उनके साथ गुजरात कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष हार्दिक पटेल और विधायक जिग्नेश मेवाणी भी थे। तीनों का कांग्रेस प्रदेश कार्यालय "सदाकत आश्रम' में प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा ने स्वागत किया। इसके बाद प्रेस कॉफ्रेंस में कन्हैया कुमार ने कहा कि बिहार की भूमि परिश्रम की भूमि है। परिश्रम का आदर्श दशरथ मांझी हैं। गुजरात में जन्मे मोहनदास करमचंद गांधी को बिहार ने महात्मा बना दिया था। वहीं, हार्दिक पटेल ने दावा किया कि बिहार से दिल्ली का तख्ता पटल होगा और 2024 में केंद्र तो 2025 में बिहार में कांग्रेस की सरकार बनेगी।

उन्होंने कहा कि देश की एकता को छिन्न-भिन्न किया जा रहा है। बिहार का पुनर्जागरण करना होगा। जो पार्टी इस देश को आजादी दिला सकती है वही पार्टी इसे बचा भी सकती है। सामाजिक न्याय के साथ सामाजिक एकता बेहद जरूरी है। देश में एकमात्र नेता राहुल गांधी हैं, जो हम जैसे नेताओं को हाथ फैला कर स्वागत करते हैं। हम जैसे नेताओं का कोई पारिवारिक बैकग्राउंड नहीं है।

कांग्रेस में दिक्कत के सवाल पर कन्हैया ने कहा कि जब एक परिवार को छोड़कर कोई दूसरे परिवार में जाता है तो लोग कहते हैं कि नए परिवार में एडजस्ट होने में दिक्कत होती है, लेकिन मुझे कांग्रेस में कोई परेशानी नहीं हो रही है। सारे चेहरे जाने पहचाने हैं। यहां क्लिक कर पटना आए कांग्रेसी कन्हैया का पूरा संबोधन पढ़िए, RJD-तेजस्वी पर बिना नाम लिए किया है व्यंग

बिना नाम लिए तेजस्वी को बताया अहंकारी

उन्होंने कहा कि लोग प्रदेश प्रभारी भक्त चरण दास के बारे में बाते करते हैं। भक्त चरण दास के कारण ही आज कन्हैया, जिग्नेश मेवाणी कांग्रेस में हैं। कांग्रेस ने भक्त चरण दास के कारण वेदांता के 50 हजार करोड़ का प्रोजेक्ट बंद कर दिया था। आदिवासियों की जमीन की लड़ाई लड़ रहे थे। इनका सम्मान कांग्रेस ने किया। इस दौरान कन्हैया ने बिना नाम लिए तेजस्वी यादव को अहंकारी बताया। साथ ही रामधारी सिंह दिनकर की कविता पढ़कर विरोधियों को नसीहत दी।

फौजिया राणा ने भेंट दिया।
फौजिया राणा ने भेंट दिया।

हार्दिक बोले- बिहार ने जब-जब हल्ला बोल किया, तब तब दिल्ली में तख्ता पलट हुआ

हार्दिक पटेल ने कहा कि बिहार ने जब-जब हल्ला बोल किया है, तब-तब दिल्ली में तख्ता पलट हुआ है। बिहार से पहले गुजरात में चुनाव होना है। गुजरात की जनता नरेंद्र मोदी और अमित शाह को जवाब देगी। जब तक हम जनता के हित के लिए नहीं लड़ेंगे, तब तक देश में विकास संभव नहीं होगा। उन्होंने दावा किया कि 2024 में कांग्रेस केंद्र में सरकार बनाएगी, फिर 2025 विधानसभा चुनाव में बिहार में कांग्रेस की सरकार बनेगी। जिग्नेश मेवाणी ने कहा कि गुजरात और बिहार, दोनों जगह कांग्रेस की सरकार बनेगी।

बिहार कांग्रेस के नेताओं के साथ तीनों स्टार प्रचारक।
बिहार कांग्रेस के नेताओं के साथ तीनों स्टार प्रचारक।

प्रदेश अध्यक्ष बोले- घबराने की जरूरत नहीं

प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा ने कहा कि इन तीनों नेताओं से कई लोगों को घबराहट हो रही है, लेकिन किसी को घबराने की जरूरत नहीं है। कल का नेतृत्व युवाओं का ही है। हम उपचुनाव में अकेले हैं। दोनों सीटों पर लड़ रहे हैं, इसका सबसे ज्यादा फायदा नौजवानों को ही होगा।

कांग्रेस विधायक दल के नेता अजीत शर्मा ने कहा कि बिहार में राजद के साथ गठबंधन टूटा है। कांग्रेस के सारे कार्यकर्ता इसका इंतजार कर रहे थे। कांग्रेस अगर विधानसभा उपचुनाव की दोनों सीटें जीती है तो आने वाले समय में बिहार में कांग्रेस की सरकार बनेगी।

बताया जा रहा है कि कन्हैया कुमार पटना सिटी में अशफाकउल्ला खां की स्मृति सभा में भी शामिल होंगे। वह तारापुर में 23, 24, 25 अक्टूबर को और कुशेश्वरस्थान में 26, 27, 28 अक्टूबर को चुनाव प्रचार करेंगे।

खबरें और भी हैं...