पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

'देश को ब्लू टिक नहीं, कोरोना का टीका चाहिए':कांग्रेस ने ट्विटर में उलझी केंद्र सरकार को आड़े हाथ लिया, कहा-यह समय लोगों की जान बचाने का

पटना7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कांग्रेस कमिटी के मीडिया विभाग के चेयरमैन राजेश राठौड़ और BJP प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल। - Dainik Bhaskar
कांग्रेस कमिटी के मीडिया विभाग के चेयरमैन राजेश राठौड़ और BJP प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल।

देश जहां कोरोना के टीके के लिए परेशान है, वहीं BJP ट्विटर पर ब्लू टिक के लिए बेहाल है। यह कहना है बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया विभाग के चेयरमैन राजेश राठौड़ का। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी में जहां अब भी रोजाना लाखों लोग संक्रमित हो रहे हैं और हजारों लोग उचित इलाज के अभाव में जान गंवा रहे हैं। वहीं केंद्र की सरकार उचित इलाज और वैक्सीन की आपूर्ति सुनिश्चित कराने की जगह कहीं और व्यस्त है। सरकार सोशल मीडिया के प्लेटफॉर्म ट्विटर से वेरिफाइड एकाउंट के प्रतीक ब्लू टिक के लिए उलझने में अपना समय बर्बाद कर रही है। देश की जनता को बार-बार दिग्भ्रमित करने के लिए केंद्र की सरकार कभी टूलकिट तो कभी ब्लू टिक में उलझाकर असल मुद्दों से ध्यान भटका रही है।

लोगों को ब्लू टिक नहीं कोरोना का टीका चाहिए
राठौड़ ने कटाक्ष करते हुए कहा कि कहीं ब्लू टिक के चक्कर में भाजपा ब्लैक न हो जाए। उन्होंने सरकार की निष्ठा पर सवाल उठाते हुए कहा कि आम लोगों के जीवन की कीमत से ज्यादा ट्विटर पर वेरिफाइड टिक को सरकार ने अपनी प्रतिष्ठा का विषय बना रखा है। जब देश को कोरोना से लड़ने की जरूरत है तो सरकार कभी विपक्ष से तो कभी सोशल मीडिया ऑपरेटर से लड़ने में अपनी ऊर्जा बर्बाद कर रही है।

कांग्रेस की सरकार होती तो मौतों का आंकड़ा कुछ और होता
BJP प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल ने कहा कि अभी कांग्रेस की सरकार देश में रहती तो लोगों की मौत विदेशों से भी खतरनाक तरीके से होती। नरेन्द्र मोदी सरकार में देश के वैज्ञानिकों ने टीका की खोज की और तेजी से टीकाकरण चल रहा है। द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद 1918 में स्पेनिश फ्लू से कितने लोग मरे थे, सब को मालूम है। उन्होंने कहा कि ट्विटर को हमारे देश में भारतीय कानून के अनुसार ही चलना होगा। सरकार शिकंजा कस रही है तो वह चुन-चुन कर वेरिफाइड ब्लू टिक हटा रही है। कांग्रेस यह समझ ले कि विदेशी मनमानी BJP भारत में नहीं चलने देगी।

खबरें और भी हैं...