• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Congress's National Spokesperson Mohan Prakash's Question Who Is The Hero Of The Heroine Found At Adani Port?

देश की आंतरिक सुरक्षा को निजीकरण खतरे में डाल रही!:कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता मोहन प्रकाश का सवाल- अडानी पोर्ट पर मिले हीरोइन का हीरो कौन?

पटना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता मोहन प्रकाश ने ये बातें प्रदेश कांग्रेस कार्यालय सदाकत आश्रम में कहीं। - Dainik Bhaskar
कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता मोहन प्रकाश ने ये बातें प्रदेश कांग्रेस कार्यालय सदाकत आश्रम में कहीं।

देश के युवाओं को नशे की चंगुल में फंसाने की बड़ी साजिश का खुलासा होना केंद्र की मोदी सरकार के निजीकरण की हकीकत बयान करती है। 3000 किलो की पकड़ी गई नशीली पदार्थों जिनकी अनुमानित कीमत 21000 हजार करोड़ है, ये बताने के लिए काफी है कि देश की आंतरिक सुरक्षा को निजीकरण खतरे में डाल रही है। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता मोहन प्रकाश ने ये बातें प्रदेश कांग्रेस कार्यालय सदाकत आश्रम में कहीं।

निजीकरण की आड़ में देश गैर जिम्मेदार पूंजीपतियों के हवाले

मोहन प्रकाश ने कहा कि लोकतंत्र की शिक्षा देने वाला हमारा देश आज लोकतांत्रिक मूल्यों को स्थापित करने से परहेज करने लगा है। निजीकरण की आड़ में केंद्र सरकार देश को पूरी तरीके से गैर जिम्मेदार पूंजीपतियों के हवाले करती चली जा रही है। उन्होंने खाद्य तेल और जैव ईंधनों की कीमतों पर बोलते हुए कहा कि अम्बानी और अडानी, भाजपा को इस मुनाफे का हिस्सा बांट रहे हैं। इसीलिए सरकार मौन धारण किए हुए है। देश के लोगों की गाढ़ी कमाई को केंद्र की मोदी सरकार अपने पूंजीपति मित्रों को सौंपकर देश की ही संपत्ति खरीदने की खुली छूट दे रखी है। वैश्विक स्तर पर अमेरिका यात्रा में नरेंद्र मोदी को अमेरिका ने भी आईना दिखा दिया। बावजूद इसके देश में उनकी पार्टी के लोग उन्हें हीरो बना कर पेश कर रहे हैं।

सभी मौन साधे हुए हैं

कहा कि मुम्बई की मायानगरी में कम मात्रा में मिली नशीली पदार्थ पर पूरे देश में हल्ला मच जाता है लेकिन देश के निजी पोर्ट जो अडानी के अधीन है वहां 3000 किलो मिले नशीले पदार्थ पर गृह मंत्री से लेकर प्रधानमंत्री तक मौन साध लेते हैं। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता मोहन प्रकाश ने कहा कि हीरोइन मिल गयी है लेकिन असली हीरो कहां है। वह अब तक पकड़ा नहीं गया है। महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर सरकार का रवैय्या गैर-जिम्मेदाराना बना हुआ है। इस अवसर पर बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के कार्यकारी अध्यक्ष विधान पार्षद समीर कुमार सिंह, मीडिया विभाग के चेयरमैन राजेश राठौड़, महिला कांग्रेस अध्यक्ष अमिता भूषण,प्रवक्ता जया मिश्र, असितनाथ तिवारी, आनन्द माधव, ज्ञान रंजन, स्नेहाशीष वर्धन, सौरभ सिन्हा, शशि रंजन आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...