पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बिहार में बेकाबू हुआ कोरोना:24 घंटे में 935 नए मामलों से 5 माह का टूटा रिकॉर्ड; अब अस्पतालों में बेड बढ़ाने की तैयारी

पटना12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • NMCH में 3 और PMCH में 24 घंटे में हुई एक मौत, AIIMS की ICU को 20 से बढ़ाकर किया गया 30

बिहार में कोरोना अब बेकाबू हो गया है। 24 घंटे में 935 संक्रमितों के आंकड़ों से 5 माह का रिकॉर्ड टूट गया है। 2021 में यह सबसे बड़ा और डराने वाला आंकड़ा है। सोमवार को NMCH में इलाज के दौरान 3 संक्रमितों की मौत हो गई है। PMCH में भी एक संक्रमित की मौत हुई है। बढ़ते मामलों को लेकर स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से अलर्ट मोड पर है। अब अस्पतालों में बेडों की संख्या बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है। पटना में 500 बेड के ESIC हॉस्पिटल को फिर से चालू करने की तैयारी चल रही है। पटना के ही कंगन घाट पर 200 बेड का हॉस्पिटल बनाने की तैयारी चल रही है। साथ ही पटना के आधा दर्जन से अधिक अस्पतालों में 100-100 बेड के कोविड वार्ड बनाने की तैयारी है।

ESIC हॉस्पिटल का DM ने किया निरीक्षण

बिहटा के ESIC हॉस्पिटल को फिर से चालू करने की तैयारी है। सोमवार को DM डॉ चंद्रशेखर सिंह ने हॉस्पिटल का निरीक्षण किया। पटना AIIMS के सहयोग से इस हॉस्पिटल को चलाया जा रहा था। संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए अस्पताल को फिर से चलाने की तैयारी है। DM ने निरीक्षण के दौरान पूरी व्यवस्था देखी और इसे अलर्ट मोड पर रखने को कहा है।

सरकार ने अस्पतालों में तैयारी को लेकर दिया आदेश

सिविल सर्जन की तरफ से बाढ़, विक्रम, मसौढ़ी और मनेर में 100-100 बेड के कोविड हॉस्पिटल बनाने का निर्देश दिया गया है। सिविल सर्जन का कहना है कि पटना में अभी बेडों की कमी नहीं है, लेकिन जिस तरह से मरीजों की संख्या बढ़ रही है, इसे देखते हुए नए सेंटर भी बनाए जा रहे हैं। इसके लिए जगह चिह्नित किए जा रहे हैं और हर स्तर से इसकी मॉनिटरिंग की जा रही है। सरकार की तरफ से हरी झंडी मिलते ही अस्पतालों को चालू कर दिया जाएगा। जहां भी डायट सेंटर हैं, वहां कोविड को लेकर विशेष व्यवस्था की जा रही है।

NMCH में 24 साल की महिला की कोरोना से मौत

NMCH में सोमवार को 24 साल की एक महिला की इलाज के दौरान कोरोना से मौत हो गई। आरा भोजपुर के शाहपुर की रहने वाली 24 साल की प्रतिमा कुमारी वीरेंद्र कुमार की पत्नी थी। संक्रमण की पुष्टि के बाद 31 मार्च को उसे NMCH में भर्ती कराया गया था। दरभंगा के 82 वर्षीय प्रेम चंद्र चौधरी की भी इलाज के दौरान NMCH में मौत हुई है। उन्हें 2 मार्च को संक्रमण के कारण गंभीर हालत में भर्ती कराया गया था। गांधी नगर जहानाबाद की रहने वाली 80 साल की चंद्रकला देवी की भी सोमवार को मौत हुई है। वह रविवार को भर्ती हुई थी। हालत में कोई सुधार नहीं हुआ और सोमवार को मौत हो गई। सोमवार को NMCH में कुल 19 संक्रमित भर्ती हैं। सोमवार को एक नया मामला आया है और एक को डिस्चार्ज किया गया है। NMCH के कोविड के नोडल डॉ मुकुल का कहना है कि कुल 81 बेड खाली हैं।

PMCH में 27 संक्रमित भर्ती, एक की गई जान

PMCH में सोमवार को कुल 27 संक्रमित भर्ती हैं। सोमवार को एक संक्रमित की मौत हो गई है। सोमवार को 5 संक्रमितों की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उन्हें छुट्‌टी दी गई है। कोविड के नोडल डॉ अरुण अजय का कहना है कि संक्रमण की रफ्तार जिस तरह से बढ़ रही है। इसे देखते हुए बेड की संख्या 100 कर दी गई है। जांच भी बढ़ा दी गई है। संदिग्धों की जांच कराई जा रही है। संक्रमितों की पहचान कर उन्हें आइसोलेट किया जाए] इस पर विशेष जोर दिया जा रहा है।

प्रधान सचिव ने की समीक्षा बैठक

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने सोमवार को प्रदेश के सभी जिलों के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। इस दौरान उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार प्रतिदिन कोरोना की समीक्षा कर रहे हैं। AIMS में ICU को 20 से बढ़ाकर 30 कर दिया गया है। PMCH और NMCH में 100 -100 बेड का अतिरिक्त वार्ड बनाया जा रहा है। प्रधान सचिव ने बताया कि सोमवार को 24 घंटे में 72418 लोगों की जांच कराई गई है, जिनमें 935 नए मामले सामने आए हैं। प्रधान सचिव ने भी माना है कि इस साल कोरोना की रफ्तार काफी तेज है। कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर CM नीतीश कुमार मंगलवार को प्रदेश के सभी जिलों के DM, SSSP और SP के साथ अन्य अफसरों के साथ बैठक करेंगे। प्रधान सचिव ने कहा दूसरे राज्यों में हालात काफी तेजी से बिगड़ रहे हैं, ऐसे में हमे भी पूरी तरह से अलर्ट मोड पर रहना होगा।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय निवेश जैसे किसी आर्थिक गतिविधि में व्यस्तता रहेगी। लंबे समय से चली आ रही किसी चिंता से भी राहत मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए बहुत ही फायदेमंद तथा सकून दायक रहेगा। ...

और पढ़ें