पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Coronavirus Vaccine Online Registration Rule Changed; CoWIN Vaccine For Above 18 Age

अब टीका के लिए देना होगा सिक्योरिटी कोड:ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने वालों के लिए कल से नई व्यवस्था, 4 अंकों के सिक्योरिटी कोड से होगी पहचान

पटनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पहले सिक्युरिटी कोड, फिर लगेगा सुरक्षा टीका - Dainik Bhaskar
पहले सिक्युरिटी कोड, फिर लगेगा सुरक्षा टीका

कोरोना के टीका के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन का नियम बदल गया है। अब ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बाद रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आए 4 अंकों का सिक्योरिटी कोड बताना होगा। इसी के आधार पर वैक्सीनेशन होगा। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है और 8 मई से Co-Win पोर्टल में नया फीचर भी जोड़ दिया जाएगा। पटना के प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ SP विनायक का कहना है कि टीकाकरण में जो भी बदलाव आते हैं, उन्हें सेंटर को अपडेट करा दिया जाता है। सिस्टम को लगातार अपडेट किया जा रहा है, अभी 18+ के टीकाकरण को लेकर भी तैयारी चल रही है।

अब नहीं होगी ऐसी समस्या

ऐसे मामले सामने आ रहे थे कि Co-Win पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने के बाद अगर लाभार्थी निर्धारित दिन टीका लगवाने नहीं जा पाया तो भी उसके मोबाइल पर टीका की खुराक लेने का SMS आ जाता था। बिहार में ऐसे मामलों की संख्या काफी कम रही है, लेकिन अन्य प्रदेशों में शिकायत अधिक मिली है। जांच में पाया गया कि टीकाकरण करने वालों की गलती के कारण लाभार्थियों के पास गलत सूचनाएं चली जाती थीं, जबकि व्यक्ति को टीका नहीं लगा होता था। इस तरह की समस्या को दूर करने के लिए ही सुरक्षा कोड लाया जा रहा है।

बिना 4 अंकों का कोड दिए नहीं लग पाएगा टीका

भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने ऐसे कई अड़चनों को दूर करने और नागरिकों को असुविधा से बचाने के लिए Co-Win पोर्टल के कोविन एप्लीकेशन में 4 अंकों वाला सिक्योरिटी कोड शुरू करने का फैसला किया है। अब पहले पुष्टि की जाएगी कि टीका के लिए आया व्यक्ति पात्र है या नहीं, इसके बाद उससे टीका लगाने के पहले 4 अंकों वाला सिक्योरिटी कोड पूछा जाएगा। उसके बाद उस अंक को Co-Win सिस्टम में दर्ज कर दिया जाएगा। यह नया फीचर केवल उन लोगों के लिए लागू होगा, जिन्होंने टीकाकरण के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया है। यह कोड बुकिंग के बाद लाभार्थी को SMS के जरिए भेजा जाएगा।

ऑनलाइन बुकिंग वालों को होगी सही जानकारी

स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि इससे यह सुनिश्चित होगा कि जिन नागरिकों ने ऑनलाइन बुकिंग करवाई है, उनके टीकाकरण की स्थिति को सही-सही सिस्टम में दर्ज कर लिया जाए। उनके सेंटर का नाम, समय, तिथि सहित हर जानकारी सिस्टम में दर्ज हो जाएगी। यह सुविधा केवल उन्हीं सेंटरों पर मिलेगी, जहां के लिए बुकिंग कराई गई है। इससे फर्जी लोगों को दूर रखने और कोविन सिस्टम को सरल बनाया जा सकेगा।

अगर आपने कराया है ऑनलाइन बुकिंग तो जान ले यह बात

स्वास्थ्य विभाग का निर्देश है कि लाभार्थी रजिस्ट्रेशन स्लिप, अपना पंजीकृत मोबाइल, जिस पर SMS आया है, उसे अपने साथ रखें, ताकि टीकाकरण की प्रक्रिया में कोई बाधा नहीं आने पाए। चार अंकों वाले सिक्योरिटी कोड को सुरक्षित रखें। वैक्सीन लगने के बाद लाभार्थी को एक मैसेज आएगा, जो इस बात का प्रमाण होगा कि टीकाकरण की प्रक्रिया सफलतापूर्वक पूरी हो गई है और डिजिटल प्रमाण पत्र बन गया है। अगर किसी को SMS नहीं मिलता तो उसे संबंधित टीकाकरण केंद्र से संपर्क करना होगा।

खबरें और भी हैं...