प्रॉपर्टी डीलर की गोली मारकर हत्या:भागलपुर में बदमाशों ने सीने में मारी गोली, मौक पर ही हुई मौत, पुश्तैनी जमीन विवाद को लेकर हत्या का शक

Bhagalpurएक वर्ष पहले
कारोबारी के शव के पास परिजन।

भागलपुर में बदमाशों ने एक प्रॉपर्टी डीलर की गोली मारकर हत्या कर दी। घटना सोमवार की शाम बरारी थाना क्षेत्र के डीआइजी कार्यालय के पीछे की है। मृतक विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र के रिकाबगंज निवासी मोहम्मद जलालुद्दीन का पुत्र मोहम्मद रिजवान परवेज उर्फ छोटे बाबू (35) है। मोहम्मद रिजवान परवेज जमीन कारोबारी थे और वे एक गर्ल्स हॉस्टल के संचालक भी थे।

मृतक के भतीजे विककी खान ने बताया कि सोमवार की शाम को ख़ंजरपूर में किसी से मिलना था,यह पूर्व से निर्धारित था। रिजवान परवेज ने विक्की को रविवार की शाम को ही बताया था कि सोमवार को किसी दूसरे काम मे व्यस्त मत होना। किसी से मिलने जाना है। हालांकि, किससे मिलना था, ये जानकारी नहीं दी थी। हत्या के पीछे पुश्तैनी जमीन विवाद का मामला बताया जा रहा है।

गोली मारकर अपराधी फरार

सोमवार की शाम करीब सात बजे खंजरपुर स्थित डीआईजी गली में मोहम्मद रिजवान परवेज और विक्की दोनों एक ही बाइक से पूर्व निर्धारित समय पर उक्त स्थल पर पहुंचे। वहां पहुंचकर परवेज ने फोन कर उन दोनों को बुलाया। बात करने के सिलसिले में उन दोनों शख्स ने परवेज को बुलाया, गली के अंदर कुछ दूर तक ले गये और फिर गोली मार दी। गोली की आवाज सुनकर विक्की भी अपने चाचा की तरफ दौड़ा। तब तक वहां से तीन आदमी उसी अंदर की गली से होते हुए फरार हो गए।

सीने में लगी गोली

गोली मोहम्मद रिजवान परवेज के सीने में लगी है। विक्की की चीख पुकार सुनकर आसपास के लोग भी उधर दौड़े और उन्हें तुरंत मायागंज अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना मिलते ही बरारी थाना पुलिस की पूरी टीम घटनास्थल पर पहुंचकर घटना की जानकारी लेने में जुट गई। हालांकि, फिर सिटी एसपी स्वर्ण प्रभात भी मायागंज अस्पताल पहुंचे। फिर वो विक्की को साथ लेकर घटना का जायजा लिया।

पुश्तैनी जमीन भी हो सकती है वजह
यह हत्या किसने और क्यों की, इस संबंध में परिजन फिलहाल कुछ नही बता रहे हैं। सूत्र बताते हैं कि बायपास कुर्बन बहियार में इनकी पुश्तैनी जमीन है, जिसे निकालने के लिए ये संबंधित दस्तावेज तैयार करवाने लगे हुए थे। इनकी पुश्तैनी जमीन अरबों की है और इसी वजह से इनकी हत्या हुई है।

दो महीने पूर्व भी मिली थी धमकी
विक्की ने बताया कि लगभग दो महीने पूर्व मोजाहिद पुर थाना क्षेत्र के गोरहठा चौक के पास दोकट्ठे जमीन 72 लाख में बेची गई थी। जमीन बेचने के बाद मोहम्मद रिजवान परवेज को धमकी भी मिली थी। धमकी किसने दी, क्या दी ये बात विक्की ने नहीं बताई। वहीं, इस पूरे मामले पर सिटी एसपी स्वर्ण प्रभात ने बताया कि जांच चल रही है।

खबरें और भी हैं...