पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Four Trunet Machine Facility In Bhagalpur Hospital; Corona Test Report Available Within 24 Hour

24 घंटे के अंदर आएगी कोरोना जांच रिपोर्ट:भागलपुर में कोरोना जांच के लिए नहीं करना होगा इंतजार, रिपोर्ट भी 24 घंटे के अंदर, 4 ट्रूनट मशीन की मिली फैसिलिटी

भागलपुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल में मशीन का उद्घाटन करते सिविल सर्जन। - Dainik Bhaskar
अस्पताल में मशीन का उद्घाटन करते सिविल सर्जन।

कोरोना संक्रमण की तबाही के बीच कोविड जांच के लिए भटकते लोगों के बीच एक अच्छी खबर आई है। भागलपुर के लोकनायक जयप्रकाश नारायण सदर अस्पताल में कोरोना संक्रमण की जांच के लिए लोगों को अब इंतजार नही करना पड़ेगा। क्योंकि, अब ज्यादा से ज्यादा लोगों का कोरोना जांच कर तुरंत रिपोर्ट देने के लिए चार ट्रूनट मशीन लगाए गए हैं। इसका उद्घाटन सिविल सर्जन डॉ उमेश शर्मा ने किया।

सिर्फ मायागंज अस्पताल में थी व्यवस्था

दरअसल, भागलपुर में आरटीपीसीआर जांच की व्यवस्था अब तक मायागंज स्थित जेएलएनएमसी अस्पताल में ही थी। इस वजह से मायागंज अस्पताल में मरीजों की भीड़ लगती थी। कोरोना टेस्ट होने के बाद जांच के लिए सैंपल पटना भेजे जाते थे। जिसका रिपोर्ट आने में लगभग चार-पांच दिन लग जाते थे। कभी-कभी 10 दिन या उससे ज्यादा भी समय लग जाते थे। रिपोर्ट में विलंब आने से मरीजों की परेशानी बढ़ जाती थी। इस वजह से मरीजों की बीमारी बढ़ जाती थी और फिर मरीज के मरने की संभावना बढ़ जाती थी। इसलिए ऐसे में उचित इलाज भी नहीं हो पाता था।

सदर अस्पताल में थी एंटीजन टेस्ट की व्यवस्था

हालांकि सदर अस्पताल एवं जिले के समस्त रेफरल अस्पतालों में एंटीजन टेस्ट की व्यवस्था है लेकिन अब सदर अस्पताल में चार टूनट की मशीन आ जाने से कोरोना संक्रमित मरीजों के सैंपल की जांच महज 24 घंटे के अंदर हो जाएगी और उन्हें रिपोर्ट भी सौंप दिए जाएंगे।

एक बार मे होंगे इतने टेस्ट

मशीन एक बार में 200 लोगों के सैंपल की जांच कर सकती है और रिपोर्ट दिया जा सकता है।इस तरह चार मशीनों से अब 24 घंटे के अंदर कुल 800 कोरोना संक्रमित मरीजों की जांच हो सकती है और 24 घंटे के अंदर ही उन्हें उनकी रिपोर्ट हो मिल सकती है जिससे समय पर उक्त मरीज का इलाज हो सकता है।

क्या कहते हैं सिविल सर्जन

इस बाबत सिविल सर्जन डॉ उमेश शर्मा ने बताया कि इस मशीन के आ जाने से जांच की एक बड़ी समस्या अब दूर हो जाएगी और लोगों को यथाशीघ्र रिपोर्ट मिल जाएगा जिससे मरीज के इलाज होने में बहुत ही आसानी होगी।अब लोग राहत की सांस लेंगे।