• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • IAF Airforce Helicopter Emergency Landing Case; American Experts Fix Issue OF Chinook In Bihar Buxar

एयरफोर्स हेलिकॉप्टर की इमरजेंसी लैडिंग मामला:बक्सर में 'चिनूक' को ठीक करने पहुंचे अमेरिकी एक्सपर्ट, हेलिकॉप्टर देखने के लिए मैदान के चारों ओर जुटी भीड़

बक्सरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
चिनुक हेलिकॉप्टर की लैडिंग के बाद से उसे सुरक्षा घेरे में ले लिया गया। - Dainik Bhaskar
चिनुक हेलिकॉप्टर की लैडिंग के बाद से उसे सुरक्षा घेरे में ले लिया गया।

जिले के मानिकपुर गांव में बुधवार को चिनुक हेलिकॉप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग के बाद इंडियन एयरफोर्स और अमेरिकी एक्सपर्ट की टीम उसे ठीक करने में लग गई है। गुरुवार को इंडियन एयरफोर्स के चार वाहनों के साथ टेक्नीशियन हाई स्कूल मानिकपुर पहुंचे। हालांकि, चिनूक कब तक ठीक होगा, यह स्पष्ट नहीं हो सका है। इधर, हेलिकॉप्टर को देखने के लिए लोगों की मैदान के चारों ओर काफी भीड़ जुट गई। कल भी लोग चिनूक को देखने के लिए मैदान में जुट गए थे।

चिनूक हेलिकॉप्टर को ठीक किए जाने को लेकर कई बार इंडियन एयरफोर्स के हेलिकॉप्टर हाई स्कूल मानिकपुर मैदान के पास मंडराते दिखे। हेलिकॉप्टर से टेक्नीशियन व अन्य सामग्री को उतारा गया। वहीं, एयरफोर्स की टीम और हेलिकॉप्टर को देख ग्रामीण भारत माता की जयकारे लगाते भी नजर आए।

गुरुवार को एयरफोर्स का हेलिकॉप्टर कई बार मैदान में पहुंचा।
गुरुवार को एयरफोर्स का हेलिकॉप्टर कई बार मैदान में पहुंचा।

चिनूक बहुउद्देश्यीय हेलिकॉप्टर है, जिनका उपयोग दुर्गम और ज्यादा ऊंचाई वाले स्थानों पर जवानों, हथियारों, मशीनों तथा अन्य प्रकार की रक्षा सामग्री को ले जाने में किया जाता है। ये 20 हजार फीट की ऊंचाई तक उड़ान भर सकते हैं और 10 टन तक का वजन ले जा सकते हैं।

खबरें और भी हैं...