• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • In The Afternoon, When Things Deteriorated In NDA, Dharmendra Pradhan, Who Arrived From Delhi In A Hurry, Met Nitish.

बीच सदन से चली गई JDU, BJP असहज:अग्निपथ पर विधानसभा की कार्यवाही का बॉयकॉट, दिल्ली से पहुंचे धर्मेंद्र प्रधान; नीतीश से मिले

पटना3 महीने पहले
पटना में CM से मुलाकात करते केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान। - Dainik Bhaskar
पटना में CM से मुलाकात करते केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान।

विधानसभा के बाहर JDU और BJP के बीच की कड़वाहट अब सदन के अंदर भी दिखने लगी है। मानसून सत्र के तीसरे दिन मंगलवार को JDU ने BJP से अपनी नाराजगी साफ-साफ जाहिर कर दी। भोजनावकाश के बाद सदन की कार्यवाही का बॉयकॉट कर दिया। दोनों के बीच बात बिगड़ी है, यह इससे भी स्पष्ट हो गया कि इन सबके बीच केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान पटना पहुंच गए। उन्होंने CM नीतीश से मुलाकात की। हालांकि, मुलाकात के बाद प्रधान ने कहा कि राष्ट्रपति चुनाव को लेकर मिलने आया था।

दोनों पार्टियों के रिश्ते में यह कड़वाहट पहले के कई अन्य कारणों के साथ ही हालिया 'अग्निपथ' योजना के बाद आई है। इसे लेकर विधानसभा में भी लगातार गतिरोध की स्थिति बनी हुई है। विपक्ष हंगामा कर रहा है और पीछे हटने को तैयार नहीं है। विपक्ष चाहता है कि विधानसभा से 'अग्निपथ' के विरोध में प्रस्ताव पारित करके केंद्र पर दबाव बनाए। अंदर-अंदर JDU भी योजना से खफा है, लेकिन खुलकर विरोध नहीं कर पा रही है।

CM हाउस में मुख्यमंत्री से मुलाकात करते केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान।
CM हाउस में मुख्यमंत्री से मुलाकात करते केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान।

पहले जानिए, विधानसभा में आज क्या हुआ?

आज विधानसभा में सदन की कार्यवाही दूसरी पाली में जब शुरू हुई, तो जदयू के विधायक पहुंचे ही नहीं। विपक्ष ने पहले ही सदन का बहिष्कार कर दिया था। सदन के अंदर सिर्फ BJP के विधायक और विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ही मौजूद थे।

सदन में उत्कृष्ट विधायक पर चर्चा होनी थी, लेकिन BJP विधायकों के रहते हुए भी कोरम पूरा नहीं हो सका। इससे झल्लाए स्पीकर विजय सिन्हा ने सदन की कार्यवाही बुधवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

क्यों गायब हुई JDU?

सदन की कार्यवाही शुरू होने पर जदयू के अधिकतर विधायक नहीं पहुंचे। लेसी सिंह, सुनील कुमार और शीला मंडल मंत्री के रूप में सदन में मौजूद थे, लेकिन उन्हें भी वापस बुला लिया गया। पहले मंत्री श्रवण कुमार के चैंबर में बैठक की गई। बाद में एक और बैठक दूसरी जगह की गई।

JDU के एक विधायक ने नाम नहीं जाहिर करने के अनुरोध पर कहा कि विधानसभा अध्यक्ष और BJP के रवैये से पार्टी में असंतोष है। स्थिति खराब है। अब JDU भी कड़े फैसले ले सकती है। इस सबके बाद भाजपा के विधायक पवन जायसवाल ने मीडिया से कहा कि कहीं कोई दिक्कत नहीं है। किसी विधायक ने बॉयकॉट की बात नहीं कही है। जदयू और भाजपा एक साथ हैं।

विधानसभा की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित:RJD विधायक प्रेमशंकर का डायमंड रिंग हंगामे में गुम, कल 'अग्निपथ' पर तेजस्वी देंगे धरना