पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • JDU Expelled Ravi Jyoti, Ramchandra Sada, Lalan Bhuiyan And Raju Gupta From The Party For 6 Years

बागियों पर कार्रवाई जारी:जदयू ने रवि ज्योति समेत 4 को निकाला, भाजपा ने भी पूर्व विधायक आशा देवी सहित 3 को दिखाया बाहर का रास्ता

पटना4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रवि ज्योति को कांग्रेस ने राजगीर से उम्मीदवार बनाया है। जदयू से टिकट नहीं मिलने पर उन्होंने कांग्रेस का दामन थामा था।
  • राजगीर से टिकट कटने के बाद रवि ज्योति कांग्रेस में शामिल हो गए थे, जिसके बाद पार्टी ने उन्हें राजगीर से उम्मीदवार बना दिया
  • इससे पहले 15 नेताओं को भी पार्टी से निष्कासित किया गया था

जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने राजगीर के वर्तमान विधायक रवि ज्योति, पूर्व विधायक रामचंद्र सदा, ललन भुइंया और डेहरी के जिला संगठन प्रभारी राजीव रंजन कुमार उर्फ राजू गुप्ता को 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया। इससे पहले भी 15 लोगों को पार्टी ने निष्कासित किया था। पार्टी से अलग गतिविधियों में संलिप्त होने का आरोप लगाकर जदयू ने इन्हें बाहर का रास्ता दिखाया था।

राजगीर से टिकट कटने के बाद रवि ज्योति कांग्रेस में शामिल हो गए थे, जिसके बाद कल शाम को कांग्रेस ने उन्हें राजगीर से उम्मीदवार भी बना दिया। बीते दिनों जब जदयू ने अपने सभी प्रत्याशियों के नाम का ऐलान किया था, तभी यह साफ़ हो गया कि रवि ज्योति को टिकट नहीं मिलने जा रहा है। इसके बाद ही रवि के कांग्रेस में शामिल होने की चर्चा जोर पकड़ने लगी थी। कांग्रेस ने अभी अपने उम्मीदवारों का आधिकारिक ऐलान नहीं किया है, लेकिन उनका टिकट तय है।

भाजपा ने भी तीन नेताओं पर की कार्रवाई

जदयू के साथ भाजपा ने भी बागी नेताओं पर कार्रवाई की है। पार्टी ने बड़हरा से निर्दलीय चुनाव लड़ रही पूर्व विधायक आशा देवी, मनेर से श्रीकांत निराला और जगदीशपुर के भाई दिनेश को बाहर का रास्ता दिखा दिया है। भास्कर डिजिटल ने पहले ही यह जानकारी दी थी कि बागी हुए 9 नेताओं को पार्टी से निकालने की कार्रवाई के बाद भाजपा अब दूसरी लिस्ट भी तैयार कर रही है, जिसमें आधा दर्जन से अधिक नाम हैं। ये वो लोग हैं जिन्होंने एनडीए के घोषित उम्मीदवारों के खिलाफ चुनाव में उतरने की हिमाकत की है।

वीआरएस लेकर राजनीति में रखा था कदम

मूल रूप से दरभंगा के लहेरियासराय के रहने वाले रवि ज्योति राजनीति में आने से पहले पुलिस सेवा में थे। उनकी अंतिम पोस्टिंग नालंदा में थी। वे नालंदा के थाना प्रभारी थे। इसी वक़्त उनके चुनाव लड़ने की चर्चा होने लगी थी। फिर उन्होंने वीआरएस लिया और जदयू के टिकट पर चुनाव जीत विधानसभा पहुंच गए। रवि की जीत इस मायने में महत्वपूर्ण थी कि उन्होंने भाजपा के कद्दावर नेता और इस सीट से बीते 40 सालों से जीतते आ रहे सत्यदेव नारायण आर्य को हराया था।

15 नेताओं को जदयू ने दिखाया था बाहर का रास्ता

पिछले ही दिनों जदयू ने 15 नेताओं को 6 साल के लिए निष्कासित किया था। पार्टी से बगावत कर दूसरे दल में जाने वाले नेताओं को पार्टी ने बाहर का रास्ता दिखाया था। वशिष्ठ नारायण सिंह ने डुंमराव के विधायक ददन पहलवान, पूर्व मंत्री भगवान सिंह कुशवाहा, डॉ. रणविजय सिंह सिंह, पूर्व मंत्री रामेश्वर पासवान, सुमित कुमार सिंह, कंचन कुमारी गुप्ता, प्रमोद सिंह चंद्रवंशी, अरुण कुमार, तजम्मूल खान, अमरेश चौधरी, शिव शंकर चौधरी, सिंधु पासवान, करतार सिंह यादव, राकेश रंजन, मुंगेरी पासवान को निष्कासित किया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर जाने का प्रोग्राम बन सकता है। साथ ही आराम तथा आमोद-प्रमोद संबंधी कार्यक्रमों में भी समय व्यतीत होगा। संतान को कोई उपलब्धि मिलने से घर में खुशी भरा माहौल ...

और पढ़ें