• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • JDU National President Lalan Singh And Bihar Ex CM Jitan Ram Manjhi Attacked Lalu Parasad Yadav Over His Speech

लालू पर निकली नेताओं की भड़ास:ललन सिंह ने बिना नाम लिए कहा- महादलितों को आपने ठगा है; मांझी ने कहा- ये डर अच्छा है…

पटना4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दलितों-महादलितों के लिए संघर्ष और उनको हक दिलाने के लालू यादव के बयान पर बवाल छिड़ गया  है। - Dainik Bhaskar
दलितों-महादलितों के लिए संघर्ष और उनको हक दिलाने के लालू यादव के बयान पर बवाल छिड़ गया है।

RJD सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के पटना आने की सुगबुगाहट है। बताया जा रहा है कि लालू यादव तारापुर और कुशेश्वरस्थान विधानसभा के उपचुनाव में प्रचार करने आ रहे हैं। इसको लेकर उनके विरोधी दलों में खलबली है। लालू यादव ने दलित-महादलितों के लिए संघर्ष करने और उनको हक दिलाने की बात कही है। इस पर JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने लालू यादव पर करारा हमला किया है। यहां तक कि उन्होंने लालू यादव को आक्रांता तक करार दे दिया।

बता दें कल (मंगलवार को) लालू यादव ने RJD कार्यकर्ताओं और नेताओं को प्रशिक्षण दिया। इसमें उन्होंने दलित महादलित पिछडों को हक दिलाने की बात कही थी।

सोशल मीडिया पर निकाली भड़ास

ललन सिंह ने सोशल मीडिया पर लिखा है, 'विकास की सीढ़ियों पर अंतिम पंक्ति में खड़े महादलित समाज के अंतिम तबके को बिहार में अलग से कानूनी आरक्षण, सामाजिक- राजनीतिक प्रतिनिधित्व और अनेकों विकासोन्मुखी योजनाओं के तहत मुख्य धारा में लाने का कार्य देशभर में पहले CM नीतीश कुमार ने ही किया है, लेकिन एक अहंकारी-आक्रांता व्यक्ति जो जमानत पर जेल से बाहर है, महादलित समाज का मज़ाक उड़ाकर केवल उन्हीं की नहीं, बल्कि फिर से समूचे बिहार की बेइज्जती कर रहा है। बिहार के लोग अब बर्दाश्त नहीं करेंगे। अपने वोट की चोट से इन्हें और इनके कुनबे की राजनीति को सूबे से बाहर फेंक ही देंगे।'

ललन सिंह ने आगे लिखा है, 'हेलीकॉप्टर में चढ़ाये, बदले में भोलेभाले तूफ़ानी जी से फ़र्जी दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करवा बिहार का खजाना लूटे। खुद के लिए बिहार व देश-विदेश में अथाह संपत्ति बनाए। आपकी साजिश व सदमा में भोला राम जी दिवंगत भी हो गए। अपने बउआ व बिहार के लोगों को सारी बातें भी बताइए श्रीमान जी!'

मांझी बोले - ये डर अच्छा है

वहीं, पूर्व CM जीतन राम मांझी ने सोशल मीडिया पर कहा, 'माननीय लालू यादव जी, जब आप बिहार के अघोषित CM थे, तब मैंने माउंटेनमैन दशरथ मांझी जी को सम्मान दिलाने के लिए कई बार आपसे अनुरोध किया। आपका जवाब था- “मुसहर कुर्सी पर बईठे ला, हो मांझी जी”। खैर आज जीतन के डर से ही सही, पर अब आपने मुसहर को सम्मान देना तो शुरू किया। ये डर अच्छा है…'

लालू ने कहा क्या था, यह जानिए

मंगलवार को राजद के प्रशिक्षण शिविर कार्यक्रम को संबोधित करते हुए लालू यादव ने कहा था, 'कुशेश्वरस्थान में मुसहरों का उदय हुआ है। गणेश भारती वहां से उम्मीदवार हैं। वहां यादव, बिंद, मुस्लिम, मल्लाह हैं, पर मुसहरों की संख्या सबसे ज्यादा है। मुसहरों को मुख्यधारा में लाने के लिए मैंने काफी काम किया। डोम, हलखोर सबको मुख्यधारा में लाया। भोला राम तूफानी को मंत्री बनाया था। उनसे हमने एक दिन पूछा कि हेलिकॉप्टर पर चढ़े हैं कि नहीं? बोले - नहीं चढ़े हैं, चढ़वा दीजिए। हमने हेलीकॉप्टर दिया कार्यक्रम में जाने के लिए। समाज के हर तबका को हमने टिकट दिया।'

पढ़िए, लालू के संबोधन की मुख्य बातें; आंदोलन से गायब रहने वाले तेज-तेजस्वी को RJD सुप्रीमो ने कहा- जेल जाने से मत डरो

खबरें और भी हैं...