• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • JDU New National President Lalan Singh Wont Spare Anyone Criticising Nitish Kumar Or Party

ललन की तल्खी के सामने सहयोगियों की नहीं चलेगी:JDU के सहयोगी दलों को अब रहना होगा संभलकर, नए राष्ट्रीय अध्यक्ष पार्टी या नीतीश पर कमेंट बर्दाश्त नहीं करते

पटनाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ललन सिंह सदन या सदन से बाहर अपने एजेंडे से टस से मस नही होंगे। - Dainik Bhaskar
ललन सिंह सदन या सदन से बाहर अपने एजेंडे से टस से मस नही होंगे।

JDU के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह तल्ख तेवर वाले नेता माने जाते हैं। माना जा रहा कि CM नीतीश कुमार ने ललन सिंह को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाकर एक तीर से कई निशाने साधे हैं। ललन सिंह संगठन के स्तर पर JDU के एजेंडे को अपने सहयोगी दलों के सामने रखने में सक्षम होंगे। कई ऐसे मसले होते हैं, जिसका JDU समर्थन नहीं करता है, तो उन मसलों को सदन में मजबूती से ललन सिंह रख सकते हैं।

JDU के कद्दावर नेता और नीतीश कुमार के करीबी रहे ललन सिंह सदन या सदन से बाहर अपने एजेंडे से टस से मस नही होंगे। CM नीतीश कुमार को केंद्र में एक ऐसे व्यक्ति जरूरत थी जो JDU के मान सम्मान के साथ कोई समझौता ना करे। केंद्र में मंत्री बन जाने के बाद RCP सिंह नरम दिखने लगे थे। RCP सिंह की ईमानदारी नीतीश कुमार से हटकर PM नरेंद्र मोदी की तरफ चली गई। क्योंकि जब से RCP सिंह केंद्र में मंत्री बने हैं, तब से उन्होंने नीतीश कुमार का आभार तक व्यक्त नहीं किया. बल्कि PM नरेंद्र मोदी के प्रति उदारता व्यक्त की।

BJP को मुखर होकर जवाब देंगे ललन सिंह

राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद ललन सिंह BJP के सामने JDU की बातों को मुखर तरीके से रखेंगे। बिना लाग-लपेट के बातें करने में माहिर ललन सिंह सदन में भी JDU के एजेंडे पर ही बात करेंगे। हाल में जातीय जनगणना को कराने से जिस तरह से BJP ने इंकार कर दिया था। इस पर JDU कोटे से मंत्री बने RCP सिंह ने कुछ नहीं कहा। लेकिन, ललन सिंह इस मुद्दे पर विरोध कर सकते थे।

वहीं, जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर जिस तरह से केंद्र सरकार मुखर है, उसका जवाब भी ललन सिंह सदन में दे सकते थे। कई मौके ऐसे आए जब BJP ने नीतीश कुमार को घेरा तो ललन सिंह ने BJP नेताओं को करारा जबाब दिया था। JDU और नीतीश कुमार पर कोई टिप्पणी बर्दाश्त नहीं करते हैं।

जहां नरम पड़ेंगे RCP, वहां गरम होंगे ललन

जिस मसले को लेकर RCP सिंह, BJP के सामने नरम पड़ सकते हैं, वहां ललन सिंह तल्ख तेवर दिखा सकते हैं। ललन सिंह के इस तेवर को पार्टी के नेता भी मानते हैं। JDU के प्रवक्ता निखिल मंडल कहते हैं कि नए राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह अपनी बातों को सटीक तरीके से रखते हैं। वो बातों को घुमा-फिराकर नहीं करते। संगठन से लेकर सरकार तक में उन्होंने कई कड़े फैसले लिए हैं। संगठन के तौर पर वो पार्टी से नए लोगों को जोड़ेंगे तो राष्ट्रीय स्तर पर JDU के एजेंडे को आगे ले जाएंगे। निखिल बताते हैं कि ललन सिंह अपने इरादों के पक्के हैं और उनके लिए पार्टी व संगठन सर्वोपरि है।

खबरें और भी हैं...