पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • JP Nadda Update; BJP National President Election Meeting Today In Nawada Hisua Vidhan Sabha Constituency

कांग्रेस पर निशाना:बहुमत मिला इसलिए धारा-370 खत्म हुई, राम जन्मभूमि विवाद सुलझा और ट्रिपल तलाक खत्म हुआ: जेपी नड्डा

नवादा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जेपी नड्डा ने कहा कि बिहार में राजद के शासनकाल में जंगलराज कायम हुआ था।
  • भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने नवादा के हिसुआ में चुनावी सभा को संबोधित किया, कहा- कांग्रेस राम जन्मभूमि मामले को लटकाने का काम करती रही
  • चीन से मुकाबले के लिए भारतीय सेना पूरी तरह सक्षम है, पिछले छह सालों में अरुणाचल से लद्दाख तक सड़क का निर्माण किया गया है

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा है कि लोकसभा चुनाव में 40 में 39 सीटें देने का नतीजा रहा कि धारा 370, राम जन्मभूमि और ट्रिपल तलाक का मामला खत्म किया जा सका। जेपी नड्डा शुक्रवार को नवादा जिले के हिसुआ में भाजपा प्रत्याशी अनिल सिंह के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बहुमत मिलने के कारण ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने धारा 370 को खत्म किया।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि राम जन्मभूमि के मामले को कांग्रेस पार्टी लटकाने का काम करती रही, लेकिन इसके निर्माण की दिशा में पहल की गई। नड्डा ने कहा कि कई इस्लामिक देशों में भी ट्रिपल तलाक को मान्यता नहीं है, लेकिन भारत में मुस्लिम महिलाओं के शोषण की परंपरा कायम थी, जिसे खत्म किया गया। उन्होंने कहा कि चीन से मुकाबले के लिए भारतीय सेना हर दृष्टिकोण से सक्षम है। पिछले छह सालों में अरुणाचल से लद्दाख तक सड़क का निर्माण किया गया है।

उन्होंने कहा कि बिहार में राजद के शासनकाल में जंगलराज कायम हुआ था। लेकिन आज राजद के नेता विकास की बात कर रहे हैं, यह मोदी जी के कार्यों का नतीजा है। जेपी नड्डा ने कहा कि कोरोना के समय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गरीबों और जरूरतमंदों के बीच 1141 करोड़ रुपए उनके खाते में पहुंचाने का काम किया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले कुछ समय से आप अपनी आंतरिक ऊर्जा को पहचानने के लिए जो प्रयास कर रहे हैं, उसकी वजह से आपके व्यक्तित्व व स्वभाव में सकारात्मक परिवर्तन आएंगे। दूसरों के दुख-दर्द व तकलीफ में उनकी सहायता के ...

और पढ़ें