BPSC टॉपर से जानिए कैसे क्रैक किया एग्जाम:इंटरव्यू में गौरव पहले 3 सवालों के नहीं दे पाए जवाब, फिर भी घबराए नहीं; इन सवालों का जवाब देकर किया टॉप

राेहतास2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मां के साथ BPSC टॉपर गौरव सिंह। वे रोहतास जिले के रहने वाले हैं। - Dainik Bhaskar
मां के साथ BPSC टॉपर गौरव सिंह। वे रोहतास जिले के रहने वाले हैं।

BPSC की 65वीं संयुक्त परीक्षा के टॉपर रोहतास के गौरव सिंह ने अपने इंटरव्यू के अनुभव को दैनिक भास्कर से साझा किया। गौरव ने बताया कि उनका इंटरव्यू लगभग 25 मिनट चला था। शुरू के तीन सवालों का वह जवाब भी नहीं दे पाए थे। लेकिन, वे घबराए नहीं और आत्मविश्वास के साथ इसे स्वीकार कर लिया। हालांकि, बाद के सभी प्रश्नों का संतुलित उत्तर दिया। इंटरव्यू खत्म होने के बाद लगा कि सब कुछ अच्छा हुआ है। परिणाम भी अच्छा ही होगा। उन्होंने बताया कि पूरे इंटरव्यू के दौरान अफगानिस्तान पर कई प्रश्न पूछे गए थे। इनमें से कुछ का वे जवाब नहीं दे पाए थे।

इंजीनियरिंग के दौरान ही सिविल सर्विस में जाने का लिया था फैसला
गौरव सिंह बिहार के रोहतास जिले के चमरहा गांव के निवासी हैं। उनकी 5वीं क्लास तक की पढ़ाई गांव में ही हुई। इसके बाद बनारस के सेंट्रल हिंदू स्कूल से 12वीं की परीक्षा पास की। फिर कलिंगा विश्वविद्यालय से मैकनिकल इंजीनियरिंग की। इंजीनियरिंग के दौरान ही सिविल सर्विस में जाने का फैसला कर लिया था।

तीसरी बार में मिली पहली रैंक
डिग्री पूरी होने के बाद कुछ दिनों तक पुणे में जॉब किया। इसके बाद जॉब छोड़कर सिविल सर्विस की तैयारी करने लगे। ऑप्शनल विषय भूगोल रखा। उन्होंने बताया कि तीसरी बार में नंबर वन रैंक मिली है। इससे पहले 64वीं BPSC की परीक्षा में 144वां स्थान मिला था। निदेशक सामाजिक सुरक्षा के पद पर ज्वाइनिंग होने वाली थी।

मां को दिया अपनी सफलता का श्रेय
गौरव ने बताया कि उनकी सफलता में सबसे बड़ी भूमिका मां की है। पिता की मौत के बाद मां ने ही घर को संभाला और बच्चों को पढ़ाया। पिता मनोज कुमार सिंह एयरफोर्स में थे। पिता की धुंधली यादें ही साथ में हैं, क्योंकि उनका काफी पहले देहांत हो गया था। मां शशि देवी उत्क्रमित मध्य विद्यालय मे पंचायत शिक्षिका हैं।

गौरव सिंह।
गौरव सिंह।

ये थे गौरव से पूछे गए सवाल-

प्रश्न- अशरफ एवं उनकी पत्नी की नागरिकता कहां की है?
गौरव-
मुझे इसकी जानकारी नहीं है।

प्रश्न- अफगानिस्तान में तालिबान के ड्रग कनेक्शन के बारे में बताएं?
गौरव- इस प्रश्न का जवाब विस्तार में बताया, जिससे इंटरव्यूअर संतुष्ट दिखे।

प्रश्न- भारत की अफगान नीति क्या अमेरिका के हिसाब से है?
गौरव- भारत अफगानिस्तान मामले में स्वतंत्र नीति पर चल रहा है और अपने राष्ट्र के हितों के अनुरूप निर्णय ले रहा है।

प्रश्न- आपकी हॉबी क्या है?
गौरव- क्रिकेट खेलना और बारिश में भींगना।

प्रश्न- क्या आप ठंड में भी बारिश में भींगते हैं?
गौरव- नहीं।

प्रश्न- ओडिशा की तीन बड़ी उपलब्धियों को बताएं?
गौरव- पूरी देश का ऐसा पहला शहर बना जहां प्रत्येक घर में शुद्ध पेयजल की आपूर्ति की जा रही है। ओडिशा ओलिंपिक में बॉन्ज मेडल जीतने वाली हॉकी टीम का प्रायोजक बना। साथ ही भुवनेश्वर शहर की उपलब्धियों के बारे में बताया।

रिपोर्ट: ब्रजेश कुमार।

खबरें और भी हैं...