पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Lalu's Son Tejpratap Yadav Made Serious Allegations Against ISKCON Temple Management; Bihar Bhaskar Latest News

तेज प्रताप के इस्कॉन मंदिर प्रबंधन पर गंभीर आरोप:लालू के बड़े लाल बोले- 8 साल के बच्चे का शोषण हुआ, महिलाओं का भी, जल्द सबूत सामने लाऊंगा

पटना21 दिन पहले
तेज प्रताप यादव। (फाइल फोटो)
  • कहा- मेरी मां राबड़ी देवी और पिता लालू प्रसाद ने इस्कॉन मंदिर पटना को जमीन दिलवाई थी

लालू प्रसाद के बड़े बेटे और कृष्ण भक्त तेजप्रताप यादव ने पटना इस्कॉन मंदिर पर बहुत गंभीर आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि इस मंदिर को बर्बाद किया जा रहा है। यहां महिलाओं का शोषण किया जा रहा है। मंदिर की आड़ में दुर्गंध मचाया जा रहा है। मेरे पास इसके सबूत हैं। उन्होंने आगे कहा कि आठ साल के बच्चे के साथ वहां कांड हुआ है। मेरे पास इसके बारे में पूरा सबूत है। इसे मैं लोगों के सामने लाऊंगा। पापियों का सबूत मैं लोगों के सामने जल्द लाऊंगा। ये बातें उन्होंने सेकेंड लालू तेजप्रताप यादव फेसबुक पेज के जरिए कही हैं।

पटना इस्कॉन मंदिर में कृष्ण का छठिआर क्यों नहीं मनाया

तेज प्रताप यादव ने कहा कि कृष्ण के जन्म दिन के छठे दिन बाद पूरी दुनिया में कृष्ण भक्त उनका छठिआर मना रहे हैं। छह दिन के बाद ब्रज में भी धूमधाम से इसे मनाया जा रहा है। वहां 56 तरह के भोग लगाए जा रहे हैं, लेकिन पटना के इस्कॉन टेम्पल में कोई आयोजन नहीं हो रहा है। तेजप्रताप यादव ने कहा है कि जब वे पटना इस्कॉन मंदिर गए तो उन्हें यहां यह आयोजन होता नहीं दिखा।

मेरी मां और पिता जी ने इस्कॉन मंदिर को जमीन दिलवाई थी

तेजप्रताप ने कहा कि इस्कॉन की जमीन मेरी मां राबड़ी देवी और पिता लालू यादव ने जमीन देने का काम किया था, लेकिन इस मंदिर के बारे में बताते हुए मुझे शर्म आ रही है। यदुवंशी भाई और कृष्ण के भक्तों के लिए यह दुखद है। मेरी आंखों से आंसू निकल पड़े यह सब देखकर। यह सब बताते हुए तेजप्रताप ने गंभीर आरोप लगाया।

चार लोगों का नाम भी लिया तेज प्रताप ने

उन्होंने पटना इस्कॉन मंदिर से जुड़े लोगों के नाम भी फेसबुक लाइव में लिया है। कहा कि पटना इस्कॉन मंदिर में कुछ लोगों ने दुर्भाग्यपूर्ण हरकत की है। तीन चार भक्तों ने पटना इस्कॉन मंदिर को खराब किया हुआ है। गोपाल कृष्ण महाराज को भी मैंने बताया था कि पटना इस्कॉन मंदिर में गतिविधि सही तरीके से नहीं चल रही है। 15 वर्षों में भी पटना इस्कॉन मंदिर बन कर पूरी तरह से तैयार नहीं हुआ। चार-पांच लोग इस मंदिर में काम नहीं होने दे रहे हैं। कहा कि पटना इस्कॉन मंदिर के प्रेसीडेंड कृष्ण कृपा दास और उनके अंदर में भक्त हरिकेशव दास, हरिप्रेम दास और प्रमोद ने मंदिर को बर्बाद करने का काम किया है।

महिलाओं का शोषण भी हो रहा
तेज प्रताप ने कहा कि इस्कॉन मंदिर में जाकर हम इसका खुलासा करेंगे। इस्कॉन का संचालन जहां से होता है मायापुर, वहां गोपाल कृष्ण महाराज से निवेदन किया है कि पटना इस्कॉन मंदिर को आकर देखिए। इसको बर्बाद किया जा रहा है। महिलाओं का शोषण किया जा रहा है मंदिर में। मंदिर की आड़ में दुर्गंध मचाया जा रहा है। मेरे पास इसके सबूत हैं। आठ साल के बच्चे के साथ वहां कांड हुआ है। मेरे पास इसके बारे में पूरा सबूत है। यहां के पापियों का सबूत मैं लोगों के सामने जल्द लाऊंगा। तेज प्रताप के आरोपों को लेकर भास्कर ने इस्कॉन प्रबंधन को कॉल भी किया। लेकिन, कॉल रिसीव नहीं किया गया।

इस्कॉन मंदिर प्रबंधन ने क्या कहा
वहीं, इस पूरे मामले पर इस्कॉन मंदिर के अध्यक्ष कृष्ण कृपा दास ने कहा कि तेज प्रताप यादव के आरोप बेबुनियाद हैं। मंदिर की जमीन हावड़ा मोटर्स से खरीदी गई थी। बाकी जो भी आरोप लगा रहे हैं। वे बेबुनियाद हैं। हमलोग नहीं जानते हैं कि वे ऐसा क्यों कह रहे हैं। इस्कॉन मंदिर में कृष्ण के छठियार मनाने की परंपरा नहीं है।

खबरें और भी हैं...