पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिहार में बढ़ सकता है लॉकडाउन:बंदिशों में कुछ छूट के साथ 7 जून तक बढ़ाया जा सकता है लॉकडाउन, सोमवार को CM कर सकते हैं घोषणा

पटना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार। (फाइल इमेज) - Dainik Bhaskar
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार। (फाइल इमेज)

बिहार सरकार कोरोना को लेकर कोई रिस्क लेने के पक्ष में नहीं है। प्रदेश में लॉकडाउन को बढ़ाया जा सकता है। CM नीतीश कुमार इसको लेकर खुद मॉनिटरिंग कर रहे हैं। लॉकडाउन का चौथा चरण 2 जून से 7 जून तक बढ़ाया जा सकता है। इसमें कुछ छूट दी जा सकती है। सीएम नीतीश कुमार इसकी घोषणा सोमवार को कर सकते हैं। फैसले से पहले CM नीतीश कुमार ने सभी जिलों के DM और प्रधान सचिव से शनिवार को हाईलेवल मीटिंग की।

मीटिंग में शामिल एक अधिकारी के मुताबिक, सरकार 7 जून तक लॉकडाउन को बढ़ा सकती है। वहीं, भारत सरकार के गृह मंत्रालय की तरफ से देश के सभी राज्यों को 30 जून तक कोरोना को लेकर कोई कोताही नहीं बरतने की अपील की गई है। फिलहाल, बिहार में 1 जून तक लॉकडाउन है।

कोरोना की रफ्तार हुई सुस्त
बिहार में कोरोना की रफ्तार सुस्त पड़ गई है। बिहार सरकार के एक अधिकारी के मुताबिक, CM नीतीश कुमार इस लॉकडाउन के परिणाम से काफी उत्साहित हैं। लॉकडाउन के दौरान बरती गई सख्ती का परिणाम है कि बिहार देश में सबसे तेजी से रिकवरी करने वाला राज्य हो गया है।

यहां का पॉजिटिविटी रेट भी काफी कम हो रहा है। इस बाबत सरकार अब एक राउंड और लॉकडाउन करके कोरोना को पूरी तरह से मात देना चाहती है। बिहार सरकार ने पहले चरण में 11 दिन, दूसरे चरण में 10 दिन और तीसरे चरण में 7 दिन का लॉकडाउन लगाया था। अब चौथा चरण 6 दिन का होगा। बिहार में 5 मई से लॉकडाउन चल रहा है।

2 दिन में एक्टिव केस में कमी
बिहार में कोरोना से रिकवरी का ग्रोथ रेट 96.29 प्रतिशत है। जो 27 मई की तुलना में 0.53 प्रतिशत अधिक है। अब तक 6 लाख 78 हजार 36 लोग पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। कोरोना टेस्ट के लिए पिछले 24 घंटे में 82468 लोगों के सैंपल कलेक्ट किए गए थे। इसमें कुल 1491 नए पॉजिटिव केस मिले। पिछले 2 दिनों में एक्टिव केसों में भी काफी कमी आई है। 27 मई को एक्टिव केसों की संख्या 24809 थी। पिछले 24 घंटे में एक्टिव केसों की संख्या घटकर 21084 हो गई है।

खबरें और भी हैं...