पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिहार में कमजोर पड़ा मानसून:97 दिन में 14% अधिक हुई बारिश, इसके बाद भी गर्मी से मिली निजात, जहां बाढ़ वहां बारिश, सूखा में बरसात की आस

पटना12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सांकेतिक तस्वीर। - Dainik Bhaskar
सांकेतिक तस्वीर।
  • 5 सितंबर तक 839 MM बारिश होनी चाहिए थी लेकिन 953 MM हुई लेकिन राहत नहीं

बिहार में मानसून की सक्रियता ठंडी पड़ गई है। हालांकि बारिश सामान्य से 14 प्रतिशत अधिक हुई फिर भी राहत नहीं है। मानसून में सक्रियता नहीं होने से बिहार में दिन के तापमान में वृद्धि हो रही है। तपिश भरी गर्मी से लोग परेशान हो रहे हैं। 24 घंटे में महज एक दो स्थानों पर हल्की वर्षा हुई है।

मौसम विभाग के मुताबिक 24 से 48 घंटे में नेपाल से सटे कुछ जिलों में हल्की बारिश हो सकती है। बारिश वहीं हो रही है, जहां बाढ़ का अधिक प्रभाव है। सामान्य इलाकों में बारिश का औसत काफी कम है।

24 घंटे तक तपिश भरी गर्मी से नहीं मिलेगा छुटकारा

मौसम विभाग का कहना है कि अब तक पूरे बिहार में 1 जून से 5 सितंबर तक मानक के अनुसार 839 MM बारिश होनी चाहिए थी जो 953 MM यानी 14 प्रतिशत अधिक हुई है। बिहार में मानसून के दौरान सामान्य वर्षा 1017 MM है। वायु मंडलीय दबाव औसतन 1004 मिलीबार के आस पास बना हुआ है और मानसून की अक्षीय रेखा भी पूर्णत: परिलक्षित नहीं है। इस कारण से सुबह से शाम तक गर्मी और वातावरण में काफी नमी बढ़ जाने के कारण तपन और उमश अगले 24 घंटे तक बने रहने की संभावना है।

बारिश का नहीं बन रहा कोई सिस्टम

मौसम विभाग के मुताबिक बारिश का कोई सिस्टम नहीं बन रहा है। मौसम विभाग का कहना है कि पूर्वोत्तर और उससे सटे पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी पर परिसंचरण अब उत्तर और उससे सटे पूर्व केंद्र बंगाल की खाड़ी पर स्थित है। यह समुद्र तल से 4.5 किलो मीटर तक फैला हुआ है जो उंचाई के साथ दक्षिण पश्चिम की ओर झुका हुआ है। इसके प्रभाव से प्रभावित मध्य बंगाल की खाड़ी पर कम दबाव का क्षेत्र बने रहने की संभावना है।

24 से 48 घंटे के दौरान बारिश का सिस्टम

मौसम विभाग के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में आद्र हवाओं का व्यापक प्रभाव नमी लेकर बिहार के भागों पर पहुंच रहा है। इस कारण से अगले 24 से 48 घंटे के दौरान गरज के साथ बारिश की गतिविधियां बिहार के तराई वाले इलाकों में बढ़ने वाली है। इसके प्रभाव से मधुबनी, सीतामढ़ी, दरभंगा में बारिश का प्रभाव दिखाई पड़ेगा।

पटना सहित दक्षिण बिहार के 19 जिलों में बारिश को लेकर लेकर मौसम विभाग का कोई पूर्वानुमान नहीं है। हालांकि मौसम विभाग का कहना है कि अधिक गर्मी के कारण लोकल प्रभाव से कुछ क्षणों के लिए बारिश एक दो स्थानों पर हो सकती है लेकिन इसका प्रभाव ऐसा नहीं होगा जिससे लोगों को राहत मिल सके।

खबरें और भी हैं...