पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • More Than 2.28 Crore Cash Received From Nal Jal Yojana Contractor's Locations In Patna

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

75 करोड़ की अघोषित आय का खुलासा:नल-जल योजना के ठेकेदार के पटना स्थित ठिकानों से मिला 2.28 करोड़ से अधिक कैश

पटना/भागलपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भागलपुर और पटना सहित पांच जिलों में हुई कार्रवाई, स्टोन चिप्स के आठ कारोबारियों पर भी सर्वे

आयकर विभाग की ओर से शुक्रवार को चार प्रमुख कांट्रैक्टर फर्मों के पटना, भागलपुर, हिलसा और कटिहार स्थित ठिकानों पर किए गए सर्वे में 75 करोड़ की अघोषित आय का पता चला है। इनमें से दो ठेकेदार नल-जल योजना से संबंधित हैं। एक ठेकेदार के पटना स्थित ठिकानों से 2.28 करोड़ से अिधक कैश बरामद हुआ है।

दूसरी ओर आयकर ने गया के गिट्‌टी कारोबारियों के ठिकानों का भी सर्वे किया। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के अनुसार इन फर्मों ने उन पार्टियों को भी फर्जी पेमेंट किया जिनसे इन्होंने कोई सेवा ही नहीं ली। लेबर और मटेरियल खर्च बढ़ा-चढ़ाकर दिखाया। बोगस फर्म को दी गई 10 करोड़ की राशि ठेकेदारों ने वापस खुद प्राप्त कर लिया।

20 करोड़ का भुगतान उन फर्मों को कर दिया जो हैं ही नहीं। लेबर भुगतान के नाम पर भी 15 करोड़ का फर्जी भुगतान हुआ। एक फर्म ने बिहार, उड़ीसा और मध्य प्रदेश में संपत्ति खरीदने में 15 करोड़ निवेश किया। सर्च-सर्वे ऑपरेशन में 3.21 करोड़ कैश भी बरामद हुआ। आयकर सर्वे में शामिल ठेका फर्मों का 30 करोड़ फिक्स्ड डिपॉजिट और 16 करोड़ की संपत्ति निगरानी में रखी गई है। दूसरी ओर चिराग लगातार कहते रहे हैं कि उनकी सरकार बनी तो जांच कराएंगे।

भागलपुर में ठेकेदार बंधुओं के यहां 32 लाख रुपए और मिले

भागलपुर में ठेकेदार बंधुओं के यहां दूसरे दिन भी इनकम टैक्स विभाग की छापेमारी जारी रही। शुक्रवार को आयकर अधिकारियों को इनके यहां से 32 लाख और कैश मिले। गुरुवार को 50 लाख रुपए कैश मिले थे। इस तरह अब तक 82 लाख नकद बरामद हुए हैं। टीम को इन बंधुओं के यहां कई एकड़ जमीन की खरीद के भी सबूत मिले हैं।

ठेकेदार ललन कुमार और उसका भाई सुमन कुमार ने ठेकेदारी की काली कमाई से अर्जित रकम सबौर और गोराडीह इलाके में कई एकड़ जमीन की खरीदने में निवेश किया है। दोनों भाई लोटस कंस्ट्रक्शन कंपनी लिमिटेड के कर्ताधर्ता हैं और सरकारी विभागों में ठेका का काम करते हैं। आयकर विभाग ने जिले के कई पंचायतों में जल-नल योजना में इन ठेकेदार बंधुओं को मिले काम का वर्क आर्डर भी जब्त किया है।

महागठबंधन की सरकार बनी तो जांच: तेजस्वी

राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि जिस तरह से नल-जल योजना से जुड़े ठेकेदारों के यहां इनकम टैक्स ने छापेमारी की है उससे साफ हो गया है कि योजना में बड़े तौर पर घोटाले हुए हैं। जब महागठबंधन की सरकार बनेगी, तो इन घोटाले बाजों पर कार्रवाई तय है।

भूपेंद्र यादव बोले- आयकर कार्रवाई को लेकर तथ्यों की पड़ताल कर रहे हैं

आयकर की कार्रवाई में नल-जल योजना का नाम आने के बाद भाजपा के बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव ने कहा कि नल-जल योजना में छापेमारी के तथ्यों की जानकारी ली जा रही है। नीतीश कुमार के नेतृत्व में पूरी पारदर्शिता से शासन चलाया गया है। चिराग के पास कोई विजन ही नहीं है, उसके बारे में बात क्या करना।

पासवान ने तो दिल्ली में सात निश्चय और नल-जल योजना की तारीफ की थी। इधर, बिहार सरकार के मंत्री प्रेम कुमार ने कहा कि नल-जल योजना में अगर गड़बड़ी हुई है तो जांच होगी। हमारी सरकार जांच कराएगी। जो भी दोषी होंगे, उनपर कार्रवाई होगी। सरकार भ्रष्टाचार के खिलाफ पूरी तरह प्रतिबद्ध है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर विजय भी हासिल करने में सक्षम रहेंगे। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से ...

और पढ़ें