पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • MP Pashupati Paras Skips Press Conference Of Chirag Paswan Vision Document Launch

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ये है राजनीति:जब सीएम नीतीश को 'असंभव' बता रहे थे चिराग, तब प्रेस कांफ्रेंस से गायब रहे चाचा पारस, नीतीश सरकार में मंत्री रहे थे

पटनाएक महीने पहलेलेखक: बृजम पांडेय
  • कॉपी लिंक
  • सांसद पशुपति पारस सीएम नीतीश की तारीफ़ कर पलट चुके हैं
  • नीतीश सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रहे थे पशुपति पारस

चिराग पासवान भले चुनावी मैदान में हुंकार भरने के लिए निकल पड़े हों लेकिन वो अपने परिवार को समेट नही पाये। चिराग जब अपना घोषणा पत्र जारी करने वाले थे तो उस प्रेस कांफ्रेस में उनके चाचा और हाजीपुर के सांसद पशुपति पारस उसमें शामिल नही हुए। वजह साफ है कि पशुपति पारस उस प्रेस कांफ्रेस में क्यों नहीं शामिल हुए। पशुपति पारस 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले नीतीश कुमार की कैबिनेट में पशु पालन मंत्री थे। 2017 में जब एनडीए की सरकार बनी थी तो उन्हें नीतीश कुमार ने एमएलसी बनाया और मंत्री भी। अगर पीसी में रहते तो उनसे भी सवाल होता कि आखिर वो क्यों नहीं पहले आवाज उठाए? इस सवाल का जबाब देने से पहले पारस वहां से निकल लिए।

ये पहली दफा नहीं है जब पारस चिराग पासवान की वजह से असहज हुए हैं। इससे पहले भी पशुपति पारस ने जब नीतीश कुमार और उनकी सरकार की खूब तारीफ की तो महज दो घंटे में बैकफुट पर आना पड़ा था। जब बिहार विधान सभा चुनाव में चिराग ने नीतीश कुमार से अलग चुनाव लड़ने की बात की तो चाचा पारस ने इसका विरोध किया था। बात यहां तक पहुंच गई कि लोजपा टूटने के कगार पर पहुंच गई थी। लेकिन उस समय रामविलास पासवान जीवित थे और मामला संभल गया था।

चिराग पासवान ने अपनी पार्टी का घोषणा पत्र जारी किया

चिराग पासवान ने आज अपनी पार्टी का विजन डॉक्यूमेंट घोषणा पत्र के तौर पर जारी किया। लेकिन निशाने पर रहे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार। नीतीश कुमार पर हमला करने में चिराग ने कोई कोताही नही बरती। बिहार सरकार की एक-एक योजना को विफल और भ्रष्टाचार से लिप्त बताया। कहा - नीतीश कुमार को अब पिछले 15 साल में क्या किया, ये बताने की जरुरत नहीं है, वो ये बताएं कि उन्होंने पिछले पांच साल में क्या किया। चिराग ने नीतीश कुमार को जातिवादी नेता से लेकर युवाओं का टांग खींचने वाला भी बता दिया।

चिराग ने फिर से दोहराया - असंभव नीतीश

चिराग अपने पूरे भाषण में नीतीश कुमार पर हमला करते रहे लेकिन तेजस्वी यादव पर कुछ नहीं कहा। उन्होंने अपने भाषण में यहां तक कह दिया कि बिहार भाजपा के जो नेता उनके खिलाफ बोल रहे, वो खुद नहीं, ब्लकि नीतीश कुमार बोलवा रहे हैं। चिराग ने यहां तक कह दिया कि नीतीश कुमार अपने सहयोगियों की नहीं सुनते हैं। उनकी सरकार में भाजपा वालों की नहीं, सिर्फ नीतीश कुमार की चलती है। नीतीश अपनी सरकार अधिकारियों के बदौलत चलाते हैं। उनकी सरकार में लालफीताशाही चरम पर है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर के बड़े बुजुर्गों की देखभाल व उनका मान-सम्मान करना, आपके भाग्य में वृद्धि करेगा। राजनीतिक संपर्क आपके लिए शुभ अवसर प्रदान करेंगे। आज का दिन विशेष तौर पर महिलाओं के लिए बहुत ही शुभ है। उनकी ...

और पढ़ें