पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Nitish Said Every House Got Electricity; Here Tejashwi Said Bihar Government Fails, More People Die Due To Hunger And Accidents On The Way To Corona

सियासत:नीतीश बोले- हर घर को बिजली मिली; इधर तेजस्वी ने कहा- फेल है बिहार सरकार, कोरोना से ज्यादा रास्ते में हादसे-भूख से मरे प्रवासी

दिनारा/करगहर/राजपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मुंगेर के तारापुर क्षेत्र में गाजीपुर में हुई सभा को संबोधित करते तेजस्वी यादव।
  • नीतीश- आने वाली पीढ़ी उस शासनकाल को भुला देना चाहती है, जो सिर्फ अपराध और नरसंहार के रूप में याद किया जाता है
  • तेजस्वी- कोरोनाकाल में प्रदेश के मजदूरों को आने से रोका जा रहा था और मुख्यमंत्री 144 दिनों तक अपने घर से भी नहीं निकले

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को राेहतास के तीन विधानसभा क्षेत्रों दिनारा, करगहर और राजपुर में चुनावी सभाएं कर अपने 15 वर्षों के कार्यकाल को विकट परिस्थितियों में किए गए विकास का उदाहरण बताया। कहा कि 15 वर्षों के शासन काल में हर पांच वर्ष के बाद दुगने विकास हुए। आम आदमी की जरूरत से जुड़ी हर सुविधाओं के लिए सड़क-बिजली, शिक्षा व स्वास्थ्य पर सरकार ने अपनी योजनाओं को फोकस किया। जिसका नतीजा है कि हम हर गांव को सड़क देने और राज्य के दस लाख युवक युवतियों को रोजगार देने में सफल रहे। उन्होंने हर घर को मिली बिजली को सरकार की महत्वपूर्ण उपलब्धियों में बताया। यह भी कहा कि पंचायत राज व्यवस्था में महिलाओं को पचास प्रतिशत आरक्षण देकर सरकार ने आधी आबादी की भागीदारी को समाज में और मजबूत किया। अल्पसंख्यकों के लिए किए गए कार्यों पर फोकस कर कहा कि हमारी सरकार जाति धर्म में विभेद नहीं करती। हमारा एक मात्र लक्ष्य न्याय के साथ विकास है।

राजद के 15 वर्षों के शासन का भी जिक्र

राजद के पंद्रह वर्षों के शासन काल की याद दिलाते हुए कहा कि तब और अब के अंतर को नई पीढ़ी समझेगा तभी बिहार का विकास होगा। हमें पति-पत्नी और बेटा बेटी के शासन काल पर क्या बोलना, आने वाली पीढ़ी उस शासन काल को भुला देना चाहती है। जो सिर्फ अपराध और नरसंहार के रूप में याद किया जाता है। नीतीश कुमार ने बिना नाम लिए विरोधियों के बारे में कहा कि उनकी बातों पर ध्यान देने की कोई जरूरत नहीं। उन्हें विकास से कोई मतलब ही नहीं है।

संयुक्त राष्ट्र में बिहार पर चर्चा होना है उपलब्धि
नीतीश कुमार ने तीनों चुनावी सभाओं में संयुक्त राष्ट्र द्वारा वीडियो कांफ्रेसिंग के तहत 24 सितंबर को बिहार के मेगा प्रोजेक्ट को लेकर की गई सराहना को बिहार और बिहारियों के लिए उपलब्धि बताया। कहा कि यह हमारे लिए गर्व की बात है कि हमारे प्रोजेक्ट की चर्चा अब विदेशों में भी होने लगी है। उन्होंने प्रत्येक दस पंचायत पर एक पशु चिकित्सालय स्थापित करने और भविष्य में सात निश्चय योजना को सौ प्रतिशत पूरा कर लेने के साथ हर खेत को पानी देने के अपने संकल्प को दाेहराया।

कोरोना से ज्यादा रास्ते में हादसे-भूख से मरे प्रवासी

राजद नेता तेजस्वी यादव शनिवार को मुंगेर की तारापुर सीट से पार्टी प्रत्याशी दिव्या प्रकाश के पक्ष में चुनाव प्रचार करने पहुंचे। यहां गाजीपुर मैदान में हुई सभा में तेजस्वी ने बिहार सरकार की आलोचना करते हुए उसे सभी मोर्चों पर विफल बताया। उन्होंने कहा कि जनता बेरोजगारी, भ्रष्टाचार तथा महंगाई और भुखमरी से कराह रही है और सरकार चैन की बंसी बजा रही है।

कोरोना काल में बिहार के मजदूराें को बाहर से आने से रोका जा रहा था। जितने लोग कोरोना वायरस से मरे, उससे कहीं अधिक लोग रास्ते में भूख-प्यास तथा दुर्घटना में मारे गए। और बिहार के मुख्यमंत्री 144 दिनों तक अपने घर से नहीं निकले। सभा में तेजस्वी यादव ने घोषणा की कि हमारी सरकार बनते ही हम 10 लाख युवाओं को नौकरी देंगे। वृद्धजनों को पेंशन राशि 1000 करेंगे। नियोजित शिक्षकों को समान काम के लिए समान वेतन देंगे। युवाओं से कहा कि बीपीएससी को ठीक कर देंगे। समय पर परीक्षा होगी और समय पर रिजल्ट होगा। परीक्षार्थी को फॉर्म भरने के लिए पैसा नहीं देना होगा। नीतीश कुमार की सरकार कोई कल कारखाना नहीं लगा पाई। उद्योग धंधे चौपट कर दिए गए।

अनुभवहीन था तो फिर डिप्टी सीएम क्यों बनाया

तेजस्वी यादव ने सीएम द्वारा उनको अनुभवहीन कहने पर जवाब दिया- तो डिप्टी सीएम क्यों बनाया। दरअसल वो राज्य के मुख्य एजेंडा से भटकाने के लिए नई-नई बात कहेंगे पर हम उन्हें रोजगार और नौकरी के मुख्य एजेंडा पर खींच कर ले आएंगे।

जहां तक अनुभव की बात है तो 16 महीने के कार्यकाल में हमने पथ निर्माण विभाग के मंत्री की हैसियत से बिहटा से पटना तक डेडिकेटेड एयरपोर्ट एक्सप्रेसवे बनाने की स्वीकृति दी। हजार से ज्यादा किलोमीटर स्टेट हाइवे को नेशनल हाइवे में परिणत कराया।

क्या विशेष राज्य का दर्जा देने ट्रंप को आना पड़ेगा!
तेजस्वी ने आगे कहा कि सीआरएफ का पैसा 200 करोड़ से 1000 करोड़ सलाना कराया। राज्य में पहला डबल डेकर पुल छपरा में पास कराया। वो कहते हैं कि बिहार लैंडलॉक्ड स्टेट है तो बताएं कि राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद ने मढ़ौरा, मधेपुरा और परसा में कारखाने कैसे खुलवा दिए।

तेजस्वी ने कहा कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा के लिए संघर्ष जारी रहेगा। डबल इंजन की सरकार से भी बिहार को यह दर्जा नहीं मिला। तंज कसते हुए कहा- डोनाल्ड ट्रम्प अमेरिका से आकर बिहार को विशेष राज्य का दर्जा ताे नहीं न दे देंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले कुछ समय से आप अपनी आंतरिक ऊर्जा को पहचानने के लिए जो प्रयास कर रहे हैं, उसकी वजह से आपके व्यक्तित्व व स्वभाव में सकारात्मक परिवर्तन आएंगे। दूसरों के दुख-दर्द व तकलीफ में उनकी सहायता के ...

और पढ़ें