पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Pappu Yadav Visits Saran MP Rajiv Pratap Rudy Place In Chhapra To Show Dozens Of Ambulances Lying Unused

यहां दर्जनों एंबुलेंस लावारिस:पप्पू यादव पहुंचे BJP सांसद राजीव प्रताप रूडी के गांव, ढंक कर रखी गई थी दो दर्जन एंबुलेंस, कहा- यह अपराध है, जांच हो

पटना4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्व सांसद ने अमनौर में सांसद फंड (MPLADS) की दर्जनों एंबुलेंस खड़ी रहने पर सवाल किया। - Dainik Bhaskar
पूर्व सांसद ने अमनौर में सांसद फंड (MPLADS) की दर्जनों एंबुलेंस खड़ी रहने पर सवाल किया।

छपरा के अमनौर में विश्व प्रभा सामुदायिक केंद्र परिसर में दो दर्जन एंबुलेंस खड़ी थी। सभी को ढंका गया था। तभी पूर्व सांसद व जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव अपने दल-बल के साथ वहां पहुंच गए। वहां पहुंचने के बाद एंबुलेंस खड़ी देख पप्पू यादव दंग रह गये। उन्होंने सांसद राजीव प्रताप रुडी व सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि कोरोना काल में एक तरफ एंबुलेंस की किल्लत से जनता जूझ रही है। एंबुलेंस माफिया एक किलोमीटर का सात हजार रुपए तक वसूली कर रहे हैं। वहीं सांसद फंड (MPLADS) की दर्जनों एंबुलेंस यहां क्यूं खड़ी हैं? यह जांच का विषय है।

सांसद कोष से खरीदी दर्जनों एंबुलेंस रखी थी वहां

दरअसल सांसद कोष से पंचायत एंबुलेंस सेवा योजना के तहत खरीदी गई दर्जनों एंबुलेंस विश्व प्रभा सामुदायिक केंद्र परिसर में रखे जाने की सूचना थी। यह छपरा के BJP सांसद राजीव प्रताप रुडी का गांव है। पटना से सीवान जाने के क्रम में जाप अध्यक्ष पप्पू यादव वहां पहुंचे। टेंट-तिरपाल से घेर कर रखे गए एंबुलेंस को देखा। कहा कि कोरोना काल में इन्हें तड़पते-तरसते लोगों को उपलब्ध नहीं कराया जाना अपराध है। इसकी जांच होनी चाहिए।

सांसद रूडी ने दी सफाई।
सांसद रूडी ने दी सफाई।

रुडी की सफाई- चालकों ने एंबुलेंस छोड़ा

इस बात की जानकारी जब राजीव प्रताप रुडी को हुई तो उन्होंने तुरंत इन आरोपों का खंडन किया। कहा कि जिला में लगभग 80 एंबुलेंस है। वर्तमान में इसमें से 50 परिचालन में हैं। कई स्थानों पर पंचायतों के एंबुलेंस को चालकों ने छोड़ दिया था। बावजूद इसके पर्याप्त संख्या में केंद्रीकृत सांसद कंट्रोल रूम से एंबुलेंस सारण जिला में चलवाया जा रहा था। पप्पू यादव कोविड के दौरान चालक दें और एंबुलेंस चलवाएं। सारण बिहार ही नहीं, देश का पहला ऐसा जिला है, जहां इतनी संख्या में सांसद निधि के एंबुलेंस पिछले पांच वर्षों में संचालित किए जा रहे हैं।

खबरें और भी हैं...