केंद्रीय मंत्री पारस को आई हाजीपुर की याद:भतीजे चिराग को अपने इलाके में घूमता देख चाचा सावधान, 20 अगस्त को आएंगे दिल्ली से पटना, संसदीय क्षेत्र का दौरा करेंगे

पटनाएक वर्ष पहले
पशुपति पारस और चिराग पासवान।

केंद्र में मंत्री बने लोक जनशक्ति पार्टी के नेता पशुपति कुमार पारस को आखिरकार हाजीपुर की याद आ ही गई। भतीजे चिराग पासवान को अपने संसदीय क्षेत्र में घूमते और बाढ़ पीड़ितों के बीच पहुंचते देख चाचा पारस भी अब जाग गए हैं। वह अब अपने ससंदीय क्षेत्र जाएंगे। बाढ़ वाले इलाकों में घूमकर वहां के पीड़ितों से मिलेंगे। उनका हालचाल जानेंगे। इसके लिए उनके गुट के नेताओं ने पूरा प्रोग्राम सेट कर लिया है।

प्रवक्ता (पारस गुट) श्रवण अग्रवाल के अनुसार, 20 अगस्त को केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस दिल्ली से पटना आएंगे। केंद्र में मंत्री बनने के बाद यह उनका पहला बिहार दौरा होगा। पार्टी की तरफ से उनके भव्य स्वागत की तैयारी चल रही है।

सांसद बनने के बाद सिर्फ एक बार किया दौरा

लोकसभा चुनाव 2019 में सांसद बनने के बाद मात्र एक बार ही पशुपति कुमार पारस हाजीपुर गए थे। अब 2021 है और वह दूसरी बार अपने संसदीय इलाके में जाएंगे। गंगा नदी में बढ़े जलस्तर की वजह से हाजीपुर के शहरी इलाके के साथ-साथ ग्रामीण इलाका भी बाढ़ की चपेट में आ चुका है। संसदीय इलाके के कई ब्लॉक डूब गए हैं। बाढ़ की वजह से बड़ी आबादी प्रभावित हो गई है। पारस गुट के प्रवक्ता का दावा है कि केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस को अपने इलाके की जनता की फिक्र है। बाढ़ प्रभावित लोगों तक मदद पहुंच सके, इसलिए दो दिनों पहले ही उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को एक पत्र लिखा है।

हाजीपुर पर चिराग का ध्यान ज्यादा

पार्टी में टूट के बाद से चिराग पासवान काफी एक्टिव हुए हैं। बिहार के अलग-अलग जिलों में घूम कर वो जनता से अपने लिए आशीर्वाद मांग रहे हैं। संसदीय क्षेत्र जमुई से भी ज्यादा ध्यान उनका पारस चाचा के संसदीय क्षेत्र हाजीपुर पर है। आशीर्वाद यात्रा की शुरुआत के लिए भी उन्होंने उसी क्षेत्र को चुना। फिर 15 अगस्त को वो नाव से हाजीपुर और उसके आसपास के इलाकों में बाढ़ पीड़ितों के बीच पहुंच गए। हालचाल पूछने के साथ-साथ अपनी तरफ से सूखा राशन भी उपलब्ध कराया।

हाजीपुर से चुनाव की तैयारी

चिराग के ये कदम पारस गुट के नेताओं को फूटी नजर भी नहीं सुहा रहे हैं। पारस गुट के प्रवक्ता का कहना है कि चाचा के संसदीय क्षेत्र में तो चिराग एक महीने से घूम रहे हैं। उन्हें अपने क्षेत्र की जनता का ख्याल रखना चाहिए था। आने वाले लोकसभा चुनाव को ध्यान में रख कर चिराग हाजीपुर में कहीं अपने लिए फील्ड तो नहीं सेट कर रहे? भास्कर के इस सवाल पर पारस गुट के प्रवक्ता ने कहा कि चिराग तो सुपर स्टार हैं, वह कहीं से भी लड़ सकते हैं।

खबरें और भी हैं...