पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna Coronavirus; Violating Covid Protocol In Hotel Maurya In Presence OF Deputy CM Tarkishore Prasad

डिप्टी CM के लिए दूरी नहीं जरूरी, मेयर बिना मास्क:पटना नगर निगम के प्रोग्राम में तोड़ा कोरोना नियम, भास्कर ने सवाल पूछा तो निकल गए

पटना2 महीने पहले
मंच पर सोशल डिस्टेंसिंग का नहीं रखा गया ख्याल, बिना मास्क के नजर आईं मेयर सीता साहू।

जनता मास्क नहीं लगाना चाह रही, क्योंकि जन-प्रतिनिधि मिसाल नहीं बन रहे। कोरोना को लेकर सबक दे रहे, मगर खुद नहीं सीख रहे। बुधवार को नगर निगम के एक कार्यक्रम में भाजपाई डिप्टी CM तारकिशोर प्रसाद दूरी को जरूरी नहीं समझ रहे थे और पटना की मेयर सीता साहू ने तो मास्क की जरूरत भी नहीं समझी थी। भास्कर रिपोर्टर ने यही सवाल पूछ दिया तो दोनों बिना जवाब दिए तेजी से निकल लिए। कार्यक्रम होटल मौर्या में था और सरकार ने होटल, रेस्तरां समेत सभी जगहों पर मास्क व दूरी का नियम अनिवार्य रखा है, लेकिन इन्हें किसी ने नहीं टोका। किसी सरकारी कार्यक्रम के आयोजकों को भी ऐसा नियम नहीं मानने पर टोकना है, लेकिन किसी ने नहीं टोका।

मंगलवार को भी भाजपा कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में भी डिप्टी CM तारकिशोर प्रसाद बिना मास्क के नजर आए थे। भाजपा के स्थापना दिवस कार्यक्रम में डिप्टी CM के अलावा राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी, मंत्री अमरेन्द्र प्रताप सिंह, मंत्री जीवेश कुमार समेत कई नेताओं ने मास्क नहीं लगाया था। इसके बाद भास्कर ने खबर चलाई थी कि कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन करने में भाजपा के कार्यकर्ता ही नहीं, बल्कि कई दिग्गज नेता भी शामिल हैं।

कार्यक्रम के दौरान बिना मास्क के नजर आईं मेयर सीता साहू।
कार्यक्रम के दौरान बिना मास्क के नजर आईं मेयर सीता साहू।

दूसरे राज्य से आए लोगों से है खतरा
स्मार्ट सिटी सम्मेलन 2021 में बिहार के विभिन्न इलाकों से लोगों को बुलाया गया था। इसके साथ ही दिल्ली और अन्य प्रदेशों में काम कर रही कंपनियों के प्रतिनिधि भी कार्यक्रम में शामिल हुए। कार्यक्रम में शामिल होने वाले दिल्ली के साथ अन्य ऐसे प्रदेशों से आए हैं, जहां कोरोना का भयावह हाल है। कार्यक्रम में इन लोगों की भूमिका अहम रही। क्योंकि, इनको ही प्रजेंटेशन करना था कि पटना कैसे स्मार्ट सिटी बने। बिहार के विभिन्न इलाकों के साथ दूसरे राज्य से आए लोगों के बीच कोरोना प्रोटोकॉल का टूटना बड़ा खतरा बन सकता है।

कैमरा देखते ही लगाने लगे मास्क
जब मीडिया के कैमरे मंच पर बिना दूरी और मास्क के बैठे जिम्मेदारों पर चलने लगे तो मास्क की याद आई। मेयर सीता साहू काफी देर बाद मास्क मंगाकर लगाया, हालांकि डिप्टी सीएम मास्क तो पहन रखे थे, लेकिन मंच पर दो गज की दूरी का वह भी पालन नहीं कर पाए। डिप्टी सीएम के आसपास मेयर के साथ मोतिहारी नगर निगम की मेयर मंजू देवी भी बिना मास्क लगाए बैठी रही। डिप्टी सीएम के पास बैठे करीब आधा दर्जन लोग गाइडलाइन का पालन करते हुए नहीं दिखे।

कार्यक्रम की अनुमति कैसे
सवाल यह भी है कि जब कोरोना प्रोटोकॉल में सभी कार्यक्रम रद कर दिए गये हैं तो फिर नगर निगम कैसे बड़ा सम्मेलन करा रहा है। नगर निगम भी कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराने में अहम कड़ी है, इसके बाद भी ऐसे भीड़-भाड़ वाले सार्वजनिक कार्यक्रम का आयोजन कर खतरा बढ़ाने का काम कर रहे हैं।

बिहार बोर्ड ने रद्द कर दिया था कांफ्रेंस
भीड़ के कारण प्रदेश में हर तरह के कार्यक्रम कैंसिल कर दिए गए हैं। बिहार बोर्ड ने मैट्रिक का रिजल्ट जारी किया तो कोरोना के खतरे को देखते हुए प्रेस कांफ्रेंस तक स्थगित कर दिया। लेकिन, पटना में डिप्टी CM की मौजूदगी में सार्वजनिक कार्यक्रम कराकर कोरोना का खतरा बढ़ाया जा रहा है। 24 घंटे पहले ही CM नीतीश कुमार ने कोरोना के खतरे को लेकर प्रदेश के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की थी। उन्होंने कहा था कि कोरोना का खतरा बढ़ रहा है। ऐसे में सामाजिक दूरी और मास्क का प्रयोग हर हाल में की जाए, जांच की रफ्तार बढ़ाई जाए। साथ ही लोगों को जागरूक किया जाए।

खबरें और भी हैं...