पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Pegasus Phone Tapping Case; Bihar Congress Unit Demands Resignation Of Home Minister Amit Shah

कांग्रेस ने मांगा गृहमंत्री का इस्तीफा:पेगासस जासूसी प्रकरण में राज्यपाल को ज्ञापन सौंप केंद्र सरकार पर दागे छह सवाल, सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में की जांच की मांग

पटना6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने जाते कांग्रेस नेता। - Dainik Bhaskar
राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने जाते कांग्रेस नेता।

पेगासस जासूसी मामले में कांग्रेस ने सर्वोच्च न्यायालय की निगरानी में जांच की मांग की है। इसी के साथ देश के गृह मंत्री के इस्तीफे की भी मांग की है। बिहार कांग्रेस ने राजभवन मार्च कर राज्यपाल के माध्यम से राष्ट्रपति को इससे जुड़ा ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन सौंपने के बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए प्रदेश अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा ने कहा कि देश के लोकतांत्रिक मूल्यों को भारतीय जनता पार्टी द्वारा कमजोर किया जा रहा है। देश के प्रमुख लोगों के साथ हमारे नेता राहुल गांधी की जासूसी करने वाली यह सरकार बेहद डरी और सहमी हुई है।

सत्ता में बने रहने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गलत हथकंडे आजमा रहे हैं। देश को लगातार सच से दूर रखने की प्रधानमंत्री की कोशिशों में पेगासस जासूसी प्रकरण नया प्रतिमान है। केंद्र सरकार का व्यवहार तानाशाहों की भांति जबरन देश के लोगों पर अपना अधिकार जमाने वाला है। पेगासस सॉफ्टवेयर के माध्यम से देश की आंतरिक सुरक्षा को विदेशी कम्पनी के हाथों गिरवी रखने वाली यह सरकार करोड़ों रुपए के इस जासूसी सॉफ्टवेयर के लिए खर्च कर सकती है, लेकिन देश के नागरिकों के लिए कोरोना जैसी मोदी निर्मित आपदा पर उचित मुआवजा नहीं दे सकती। राष्ट्रपति को राज्यपाल के माध्यम से समर्पित ज्ञापन के माध्यम से बिहार कांग्रेस ने देश के प्रधानमंत्री से छह सवाल किए।

PM मोदी से कांग्रेस के 6 सवाल

  1. भारतीय सुरक्षा बल, न्यायपालिका, कैबिनेट मंत्री, विपक्ष के नेताओं, पत्रकारों की ताकझांक में विदेशी सॉफ्टवेयर की मदद लेना गलत कृत्य है या नहीं ?
  2. अप्रैल-मई 2019 के लोकसभा चुनावों के दौरान कांग्रेस के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार राहुल गांधी के कार्यालय सहित अन्य प्रमुख लोगों की जासूसी करवाने वाली इस सरकार की मंशा क्या थी?
  3. कितने रुपयों से इस सॉफ्टवेयर की खरीद की गई और किसके आदेश से यह खरीद हुई?
  4. सरकार को जब पता था कि 2019 से जासूसी का कार्य अनवरत चल रहा है तो उसने चुप्पी क्यों साध रखी थी?
  5. राष्ट्रीय आंतरिक मसलों को विदेशी कम्पनी के हाथों गिरवी रखने के एवज में क्या गृह मंत्री अमित शाह को इस्तीफा नहीं देना चाहिए?
  6. देश में ऑक्सीजन खरीद और कोरोना मृतकों के परिजनों को देने के लिए मुआवजा राशि नहीं है, वैसे में इतने महंगे सॉफ्टवेयर की खरीद सरकार कर रही है, यह कहां तक न्यायसंगत है?

राजभवन में ज्ञापन सौंपने वाले शिष्टमंडल में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा, कार्यकारी अध्यक्ष कौकब कादरी, श्याम सुंदर सिंह धीरज, अशोक कुमार, डॉ समीर कुमार सिंह, पूर्व राज्यपाल निखिल कुमार, MLC प्रेमचंद मिश्र, पूर्व मंत्री कृपानाथ पाठक, मीडिया विभाग के चेयरमैन राजेश राठौड़, विधायक कुमारी प्रतिमा दास, विजेंद्र चौधरी, अजय कुमार सिंह, पूर्व विधायक विनय वर्मा आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...