• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Preparing For New Machines For Cleaning Road In Patna; Panta Muncipality Latest News

शहर में सफाई के नाम पर खेल:रोड की सफाई के लिए पहले खरीदी गई मशीन से नहीं हो पाया काम, अब नई मशीनों को खरीदने की तैयारी

पटना10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सांकेतिक तस्वीर। - Dainik Bhaskar
सांकेतिक तस्वीर।

पटना में सड़कों की सफाई और धुलाई के लिए पहले कई मशीनों को खरीदा गया है। इन मशीनों से कोई लाभ नहीं दिख रहा है। अब फिर नई मशीनों की खरीद कर सड़कों की सफाई की योजना बन रही है। सफाई के नाम पर कई वर्षों से मशीन खरीदने का खेल चल रहा है। पटना नगर निगम की 51 वी सशक्त स्थायी समिति की साधारण बैठक में कई फैसले लिए गए हैं, जिसमें सड़कों की सफाई और धुलाई के लिए नई मशीन खरीदने का फैसला भी शामिल है।

पुरानी मशीनों से सड़क की सफाई नहीं

नगर निगम ने सड़कों की सफाई के लिए पूर्व में कई मशीनों की खरीद की थी। लेकिन मशीनों से सड़काें की सफाई का उद्देश्य पूरा नहीं हो पाया। अब पटना नगर निगम क्षेत्र में रोड की सफाई एवं धुलाई के लिए बड़ी स्वीपिंग मशीन खरीदने का निर्णय लिया गया है। दावा किया जा रहा है कि यह मशीन आम स्वीपिंग मशीन से अलग होगी। यह ना सिर्फ धूल कण की सफाई करेगी बल्कि रास्ते में आने वाले कचरे, प्लास्टिक, घासफूस और कीचड़ को भी साफ करेगी।

मेट्रो को लेकर बैठक में निर्णय

पटना में निर्माणधीन मेट्रो रेल परियोजना के लिए पटना नगर निगम के क्षेत्रान्तर्गत भू-खंड के हस्तानान्तरण करने के संबंध में नगर निगम की स्थाई समिति द्वारा यह निर्णय लिया गया है कि मीठापुर की भूमि पटना नगर निगम को कृषि विभाग द्वारा हस्तानान्तरण किया गया था इसलिए इस पर नगर निगम कोई आपत्ति नहीं दर्ज कर रहा है। अन्य भूखंड जिसमें जीरोमाइल ट्रांसपोर्ट नगर आदि शामिल है उनपर नगर निगम द्वारा कोई आपत्ति नहीं है। बैठक में निर्णय लिया गया कि पटना नगर निगम अंतर्गत सभी अंचलों, प्रमंडलों एवं मुख्यालय पर मौर्या लोक कॉम्पलैक्स में पड़े स्क्रैप का मूल निर्धारण कर उसे बिक्री किया जाएगा। इसके लिए एजेंसी का चयन किया जाएगा।

रामाचक बैरिया को लेकर बड़ा निर्णय

रामाचक बैरिया में नगर निगम की 35 से 40 एकड़ भूमि पर वर्षो से जमा हुई लीगेसी वेस्ट से निकलने वाले लीचेट को ट्रीटमेंट कर बादशाही नाले में डाला जाएगा। लीचेट को ट्रीटमेंट करने के लिए नगर निगम द्वारा प्लांट लगाया जाएगा। फिलहाल यह तरल पदार्थ जमीन पर यूंही निकलता है और जगह को अनुपयोगी बनाता है। इस प्रस्ताव को स्थाई समिति की स्वीकृति दी गई है। पटना नगर निगम स्थित छोटे छोटे नालों की उड़ाही करने के लिए 6 MINI EXCAVATOR MACHINE की खरीद को स्वीकृति दी गई है।

नगर निगम द्वारा चल रही ओपेन टीपर को क्लोज टीपर में परिवर्तन करने के लिए स्वीकृति दी गई है। टेंडर की प्रकिया द्वारा इसके लिए एजेंसी का चयन किया जाएगा। व्यवसायिक क्षेत्रों के लिए 40 Litter picker machine खरीदने की भी स्वीकृति दी जाएगी। पटना नगर निगम द्वारा शहर में छोटे ट्रांसफर स्टेशन का निर्माण करवाया जाएगा। जहां से कचरा डंपिंग यार्ड तक ले जाया जाएगा। इसके लिए जगह चिन्हित करने की स्वीकृति दी गई।

अब कचरे को लेकर हो रहा है इंतजाम

जेम पोर्टल से कुल 29241 जोड़ी ( नीला एवं हरा) डस्टबिन क्रय करने एवं स्लम में उसे बांटने पर स्वीकृति दी गई। वार्ड संख्या – 8 के अन्तगर्त राजवंशी नगर संप हाउस से एल.बी.डब्लू स्टेडियम रोड में आर. सी.सी नाला के निर्माण पर व्यय होने वाली राशि 1,72,42,100 को स्थाई समिति द्वारा स्वीकृत किया गया।

वार्ड संख्या 20 के अंर्तगत आर.सी.सी ड्रेन राजवंशी नगर रोड नंबर – 1 से मोहनपुर तक नाला निर्माण पर व्यय होने वाली राशि 1,86,63,700 को प्रशासनिक स्वीकृति दी गई। वार्ड संख्या 20 के अंतर्गत विश्वविरैया भवन के पीछे चारदिवारी से अटल पथ तक भूगर्भ नाला निर्माण पर व्यय होने वाली राशि 37,82,800 की प्रशासनिक स्वीकृति स्थाई समिति द्वारा दी गई।

खबरें और भी हैं...