पटना से विदा हुए राष्ट्रपति:हरमंदिर साहिब गुरुद्वारा में मत्था टेका, महावीर मंदिर में पूजा की; खादी मॉल में की खरीदारी

पटना7 महीने पहले
महावीर मंदिर में पूजा-अर्चना करते राष्ट्रपति।

तीन दिवसीय बिहार दौरे पर आए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पटना से विदा हो गए। पटना एयरपोर्ट पर उनके विदाई के वक्त राज्यपाल फागू चौहान, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और विधानसभा स्पीकर पर मौजूद थे।

इससे पहले शुक्रवार सुबह 8:40 बजे पत्नी और बेटी के साथ हरमंदिर साहिब गुरुद्वारा पहुंचे। यहां उन्होंने मत्था टेका। इसके बाद वे महावीर मंदिर दर्शन के लिए पहुंचे, जहां महावीर मंदिर संरक्षक आचार्य किशोर कुणाल ने लाल गुलाब देकर उनका स्वागत किया। इसके बाद उन्होंने फर्स्ट लेडी के साथ भगवान हनुमान की पूजा अर्चना की।

आचार्य किशोर कुणाल ने राष्ट्रपति को केसरिया के राम मंदिर का स्मृति चिह्न और रामचरित मानस किताब भेंट की। इसके बाद राष्ट्रपति सुबह 9:30 बजे बुद्ध स्मृति पार्क पहुंचे। वे जब यहां से बुद्ध निकले तो थोड़ी देर के लिए उन्होंने अपने कारकेट को रोककर लोगों का अभिवादन स्वीकार किया और लोगों के अभिवादन का जवाब हाथ हिला कर दिया। यहां से वह सुबह 10:14 बजे खादी मॉल गए। खादी मॉल में उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने उनका स्वागत किया। मंत्री ने भगवान बुद्ध और मिथिला पेंटिंग भेंट की।

राष्ट्रपति ने मॉल में महात्मा गांधी की प्रतिमा को खादी का माला पहनाया। इसके बाद चरखा चलाया। साथ ही खादी व सिल्क के कपड़ों खरीदारी की। राष्ट्रपति ने अपने लिए 3 कुर्ते और 2 पायजामा और पत्नी व बेटी के लिए सिल्क की साड़ियां खरीदीं। सुबह 10:50 बजे राष्ट्रपति खादी मॉल से निकल गए। स्मृति पार्क और खादी मॉल जाने का कार्यक्रम राष्ट्रपति के मिनट-टू-मिनट शेड्यूल में शामिल नहीं था।

पटना एयरपोर्ट पर राष्ट्रपति को विदाई देते राज्यपाल फागू चौहान, CM नीतीश कुमार और स्पीकर विजय कुमार सिन्हा।
पटना एयरपोर्ट पर राष्ट्रपति को विदाई देते राज्यपाल फागू चौहान, CM नीतीश कुमार और स्पीकर विजय कुमार सिन्हा।
खादी मॉल में खरीदारी करते राष्ट्रपति।
खादी मॉल में खरीदारी करते राष्ट्रपति।
क्रीम कलर की साड़ी में शाहनवाज हुसैन की पत्नी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की पत्नी और बेटी। (बाएं से दाएं)
क्रीम कलर की साड़ी में शाहनवाज हुसैन की पत्नी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की पत्नी और बेटी। (बाएं से दाएं)
राष्ट्रपति को मिथिला पेंटिंग भेंट करते मंत्री शाहनवाज हुसैन।
राष्ट्रपति को मिथिला पेंटिंग भेंट करते मंत्री शाहनवाज हुसैन।
बापू की प्रतिमा को माला पहचाने राष्ट्रपति।
बापू की प्रतिमा को माला पहचाने राष्ट्रपति।
खादी मॉल में चरखा चलाते राष्ट्रपति।
खादी मॉल में चरखा चलाते राष्ट्रपति।

जिस-जिस रूट से राष्ट्रपति का काफिला गुजरने वाला था, उन रास्तों में सुरक्षा की चाक-चौबंद व्यवस्था की गई थी। बिहार पुलिस के जवान सुबह से ही ट्रैफिक को सुचारू बनाने में लगे रहे। पहले राष्ट्रपति का कार्यक्रम सुबह महावीर मंदिर जाने का था, लेकिन उनके कार्यक्रम में थोड़ा बदलाव करते हुए पहले वह गुरुद्वारा गए।

राष्ट्रपति के कार्यक्रम के कारण पटना जंक्शन जाने वालों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। कार्यक्रम को लेकर पटना जंक्शन, डाक बंगला चौराहा और गांधी मैदान जाने वाले रूट्स को डायवर्ट किया गया है।

राष्ट्रपति को महावीर मंदिर में केसरिया के राम मंदिर का स्मृति चिह्न और रामचरित मानस किताब भेंट की गई।
राष्ट्रपति को महावीर मंदिर में केसरिया के राम मंदिर का स्मृति चिह्न और रामचरित मानस किताब भेंट की गई।
राष्ट्रपति को गुरु गोविंद सिंह की तस्वीर भेंट की गई।
राष्ट्रपति को गुरु गोविंद सिंह की तस्वीर भेंट की गई।
हरमंदिर साहिब गुरुद्वारा में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद।
हरमंदिर साहिब गुरुद्वारा में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद।
गुरुद्वारा में लोगों को अभिवादन स्वीकार करते राष्ट्रपति।
गुरुद्वारा में लोगों को अभिवादन स्वीकार करते राष्ट्रपति।
पटना साहिब में राष्ट्रपति ने मत्था टेका।
पटना साहिब में राष्ट्रपति ने मत्था टेका।
महावीर मंदिर के बाहर सड़क पर बैरिकेडिंग कर दी गई।
महावीर मंदिर के बाहर सड़क पर बैरिकेडिंग कर दी गई।

गुरुवार को विधानसभा भवन के शताब्दी वर्ष में शामिल हुए
इससे पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बिहार विधानसभा भवन के शताब्दी वर्ष कार्यक्रम में 21 अक्टूबर को शामिल हुए थे। उन्होंने शताब्दी वर्ष स्तंभ का शिलान्यास किया था। साथ ही उन्होंने बौद्ध वृक्ष का शिशु पौधा भी लगाया था। उस कार्यक्रम में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, राज्यपाल फागू चौहान, विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा सहित सभी मंत्री, विधायक मौजूद रहे।

महावीर मंदिर के पास ट्रैफिक डायवर्जन के कारण लोगों को दिक्कतें हुईं।
महावीर मंदिर के पास ट्रैफिक डायवर्जन के कारण लोगों को दिक्कतें हुईं।

यातायात विभाग ने नहीं जारी किया कोई प्लान
राष्ट्रपति को लेकर यातायात विभाग ने कोई भी ट्रैफिक प्लान नहीं जारी किया है। इससे शुक्रवार सुबह लोगों को समस्या हुई। लोगों को अचानक से परेशानी झेलनी पड़ी।