• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar News; Property Dealer Naval Singh Was Shot Dead By Criminals In Broad Daylight In Muzaffarpur

67 सेकेंड में 8 गोलियां, ये मुजफ्फरपुर है! VIDEO:ओवरटेक कर बाइक रुकवाई, पहले 3 गोली मारी, संतुष्ट नहीं हुए तो मौत कंफर्म करने के लिए नजदीक से 5 गोलियां और दाग दी

मुजफ्फरपुर4 महीने पहले
नवल सिंह की हत्या से इलाके में दहशत का माहौल।

मुजफ्फरपुर में बुधवार को दिनदहाड़े एक प्रॉपर्टी डीलर नवल सिंह की हत्या कर दी गई। नवल सिंह शिवहर के चर्चित नेता श्रीनारायण सिंह के भाई थे। बीते बिहार विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी रहे श्रीनारायण सिंह की भी मतदान शुरु होने से पहले ही हत्या हो गई थी।

अपराधियों ने आज शहर के बीचों-बीच बाइक से जा रहे नवल सिंह को पहले ओवरटेक कर रोक दिया। फिर एक अपराधी बाइक से उतरा और 3 गोली मार दी। इसके बाद मौत कंफर्म करने के लिए नजदीक से फिर दनादन 5 गोली मार दी। घटना अहियापुर थाना क्षेत्र के सहबाजपुर की है। दिनदहाड़े हत्या से इलाके में सनसनी मच गई।

CCTV में कैद हुई घटना से ली गई तस्वीर।
CCTV में कैद हुई घटना से ली गई तस्वीर।

CCTV में कैद हुई पूरी घटना

इलाके में लगे एक CCTV कैमरे में पूरी घटना कैद हो गई। कैमरे में साफ-साफ दिखाई दे रहा है कि बाइक सवार दो अपराधियों ने नवल सिंह को ओवरटेक कर गिराने की कोशिश की। जैसे ही बाइक अनियंत्रित हुई, अपराधियों ने आगे में बाइक रोक दी। पीछे बैठा एक अपराधी उतरते ही उन पर गोली चलाने लगा। फिर बाइक के पास जाकर वापस उन पर गोलियां दागी।

पोस्टमॉर्टम के लिए गई बॉडी, CCTV फुटेज की जांच में जुटी पुलिस

इधर, सूचना पर पहुंची अहियापुर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए SKMCH भेजा। अहियापुर थानेदार सुनील कुमार रजक के अनुसार, हत्या के कारणों का पता लगाया जा रहा है। CCTV फुटेज मिला है, उसकी जांच भी कर रहे हैं।

थानेदार सुनील कुमार रजक ने बताया कि नवल सिंह मूल रूप से शिवहर जिले के श्यामपुर भटनाहा थाना क्षेत्र के नया गांव के रहने वाले थे। अहियापुर के सहबाजपुर में बीते कुछ वर्षों से अपना मकान बनकर रह रहे थे। उनके ऊपर शिवहर में कई आपराधिक मामले भी दर्ज थे। फिलहाल परिजनों को सूचना दे दी गई है।

घटना की जानकारी देते अहियापुर थानेदार सुनील कुमार रजक और सहबाजपुर के सरपंच बिरजू कुमार साह।
घटना की जानकारी देते अहियापुर थानेदार सुनील कुमार रजक और सहबाजपुर के सरपंच बिरजू कुमार साह।

बड़े भाई ने कहा- सुबह में कॉल आया तब मिली जानकारी

नवल सिंह मुजफ्फरपुर में ठेकेदारी और प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करते थे। वह श्रीनारायण सिंह के भाई थे। विधानसभा चुनाव 2020 में चुनाव प्रचार के दौरान ही श्रीनारायण सिंह की अपराधियों ने गोलियों से छलनी कर हत्या कर दी थी।

मृतक के बड़े भाई सत्यनारायण सिंह ने बताया कि वह घर पर थे। बुधवार सुबह उन्हें एक मित्र सुरेश सिंह ने कॉल किया। पूछा कि नवल बाबू से बात हुई है। मैंने कहा नहीं। पूछा- कोई बात है क्या। इसपर सुरेश ने कहा कि मुज़फ़्फ़रपुर में पता लगाइए। मैं इधर-उधर कॉल लगाने लगा। इसी दौरान पता चला कि नवल की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। आनन-फानन में वह मुज़फ़्फ़रपुर पहुंचे।

सत्यनारायण सिंह ने बताया कि उनके छोटे भाई पूर्व मुखिया श्रीनारायण सिंह की भी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। नवल की हत्या और श्रीनारायण सिंह की हत्या की कड़ी, हो न हो एक ही है। यह भी कहा कि पुलिस मामले का पर्दाफाश करे, तभी कुछ स्पष्ट हो पाएगा।

कुत्ते के भौंकने पर उसे भी मारी गोली, पूरे इलाके में दहशत का माहौल

घटना के बाद सहबाजपुर के सरपंच बिरजू कुमार साह ने बताया कि गोलीबारी से पूरे इलाके में दहशत का माहौल है। कहा कि एक आदमी आगे बाइक से थे। उसके पीछे दो अपराधी लगे हुए थे। फायरिंग करने लगे। इसी दौरान बाइक से आदमी गिर गया। फिर अपराधियो ने उसपर 14 से 15 राउंड फायरिंग की। इसी दौरान अपराधियों ने चाय के दुकान के समीप कुत्ते को भौंकता देख उसे भी गोली मार दी।

खबरें और भी हैं...