बिहार का 5 डिग्री गिरा पारा, उमस से राहत नहीं:पटना छोड़कर 25 जिलों में झमाझम बारिश, अगले 24 घंटे में गिर सकते हैं ओले

पटना3 महीने पहले

बिहार के कई जिलों में प्री-मानसून में तेज हवा और आकाशीय बिजली की कड़क ने लोगों की नींद उड़ा दी। पटना छोड़कर 25 जिलों में झमाझम बारिश हुई। इससे 5 डिग्री तापमान गिर गया लेकिन अभी उमस से राहत नहीं मिलने वाली है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में ओले के साथ भारी बारिश की आशंका जताई है।

दरअसल, शनिवार रात बिगड़ा मौसम रविवार सुबह तक खराब रहा। राज्य के अधिकांश जिलों में गरज और आकाशीय बिजली के साथ हल्की से मध्यम बारिश हुई है। तेज हवा के कारण कहीं पेड़ तो कहीं बिजली के पोल उखड़ गए। सीतामढ़ी और बेतिया में सुबह से तेज आंधी के साथ बारश हुई। वहीं औरंगाबाद के कई इलाकों में बारिश के साथ ओले भी गिरे।

इस कारण बिहार में बारिश का रिकॉर्ड टूट गया है। राज्य में 24 घंटे में 25 जिलों में बारिश हुई है जिसमें 17 जिलों में सामान्य से 60 प्रतिशत अधिक बारिश हुई है। प्री-मानसून में एक सप्ताह के अंदर दूसरी बार इतनी बरसात हुई है।

13 प्रतिशत अधिक हुई बारिश

मौसम विभाग का कहना है कि बंगाल की खाड़ी से आने वाली नमी युक्त हवाएं बड़ा बदलाव ला रही हैं। मौसम विभाग के मुताबिक राज्य में 24 घंटे में 68.8 MM बारिश हुई है। सामान्य बारिश 61 एमएम होना चाहिए था लेकिन 13 प्रतिशत अधिक बारिश हुई है। मौसम विभाग के मुताबिक बारिश के कारण अचानक से राज्य का अधिकतम तापमान 5 डिग्री से अधिक कम हो गया है।

मौसम विभाग ने अगले 24 से 48 घंटे तक 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने के साथ बारिश को लेकर अलर्ट किया है। रविवार को सुपौल और मधुबनी में भारी बारिश को लेकर अलर्ट किया है। मौसम विभाग के मुताबिक नमी होने के कारण गर्मी से काफी राहत हो गई है। बिहार के किशनगंज, कटिहार, अररिया, भागलपुर, खगड़िया, बेगूसराय, पटना, वैशाली, सारण, अरवल, सिवान, बक्सर और अरवल में बारिश नहीं हुई है। इन जिलों में ठंड का असर नहीं है, लेकिन गर्मी का असर भी उतना नहीं है। बारिश नहीं होने के बाद भी मौसम में गर्मी नहीं रही।

बंगाल की खाड़ी से आई नमी हवाएं

मौसम विभाग के मुताबिक राज्य में पूर्वी एवं दक्षिण पूर्वी हवा का प्रवाह हो रहा है। इसकी गति 10 से 12 किलोमीटर प्रति घंटे की है। वहीं बंगाल की खाड़ी से नमी युक्त हवाएं बिहार में आ रही हैं। साथ ही एक पूर्व पश्चिम ट्रफ रेखा उत्तर पश्चिम राजस्थान में बने हुए चक्रवाती परिसंचरण क्षेत्र से हरियाणा उत्तर प्रदेश बिहार उप हिमालीय पश्चिम बंगाल सिक्किम एवं मेघालय होते पूर्वी असम तक गुजर रही है।

इन मौसमी कारणों के प्रभाव से राज्य में बारिश का माहौल बन रहा है। बंगाल की खाड़ी से आने वाली नमीयुक्त हवा के कारण ही बिहार में मौसम ठंडा हुआ है। हालांकि, मौसम विभाग का कहना है कि अभी मौसम में तरह-तरह का बदलाव देखने को मिलेगा।

औरंगाबाद में ओले भी गिरे।
औरंगाबाद में ओले भी गिरे।

बारिश को लेकर 24 से 48 घंटे का अलर्ट

मौसम विभाग के मुताबिक बिहार में अगले 24 से 48 घंटे के दौरान उत्तर पूर्व के कुछ भागों एवं शेष बिहार के एक दो स्थानों पर आकाशीय बिजली गिरेगी। 30 से 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने के साथ हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश का पूर्वानुमान है। रविवार को मधुबनी और सुपौल में भारी बारिश को लेकर अलर्ट किया गया है। मौसम विभाग का कहना है कि सुपौल और मधुबनी में तेज हवा के कारण लोगों को सावधान रहना होगा।

बारिश के बाद सीतामढ़ी पुलिस लाइन में जलजमाव।
बारिश के बाद सीतामढ़ी पुलिस लाइन में जलजमाव।

गर्मी से राहत देने वाला मौसम

शनिवार शाम से ही मौसम खराब हो गया है। आकाशीय बिजली के कारण आसमान में तेज प्रकाश होता रहा। पटना में देर रात तक ऐसे माहौल बने रहे और रविवार सुबह से ही तेज हवा का प्रवाह हो रहा है। मौसम विभाग का कहना है कि ये हालात रविवार को पूरे दिन बने रहेंगे। पूरे दिन आसमान में बादलों के साथ तेज रफ्तार में हवाएं चलेंगी।