• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • RCP Singh: Bihar JDU National President Ramchandra Prasad Singh On Union Cabinet Expansion

मोदी कैबिनेट विस्तार पर JDU की प्रेशर पॉलिटिक्स:पार्टी अध्यक्ष RCP बोले- सम्मानजनक हिस्सेदारी के साथ ही मंत्रिमंडल में शामिल होंगे; बिहार को कुछ और मंत्री मिलने की उम्मीद

पटना4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष RCP सिंह। - Dainik Bhaskar
जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष RCP सिंह।

केंद्रीय मंत्रिमंडल के इसी महीने विस्तार की अटकलें तेज हो गई है। ऐसे में बिहार की सियासत में भी गरमाहट है। जदयू ने एक बार फिर मोदी कैबिनेट में सम्मानजनक हिस्सेदारी की मांग की है। इससे उम्मीद जताई जा रही है कि बिहार को केंद्रीय मंत्रिमंडल में कुछ और हिस्सा मिल सकता है।

शनिवार को JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष RCP सिंह ने कहा कि यदि केंद्रीय मंत्रिमंडल का विस्तार होता है तो JDU को भी सम्मानजनक हिस्सेदारी मिलनी चाहिए। उन्हें भी गठबंधन में दूसरे दलों की तरह मान-सम्मान मिलना चाहिए। RCP सिंह के इस बयान के बाद यह बात साफ होती दिख रही है कि इस बार मंत्रिमंडल में JDU पूरे दमखम के साथ शामिल होगा।

आपको बता दें कि 2019 के केंद्रीय मंत्रिमंडल विस्तार में JDU ने अपने आप को अलग रखा था।

पहले से रही है ज्यादा हिस्सेदारी की मांग
2019 में जब केंद्रीय मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ था तो उसमें JDU की तरफ से संख्यात्मक हिस्सेदारी की मांग की गई थी। मसलन जितने सांसद JDU के हैं, उसकी संख्या के मुताबिक उन्हें कैबिनेट में जगह दी जाए।

इसके मुताबिक JDU की मांग यह थी कि 2 कैबिनेट मंत्री और एक केंद्रीय राज्य मंत्री का पद उन्हें मिले, लेकिन भाजपा 2019 में खुद बहुमत में आ चुकी थी। 303 सांसदों के साथ BJP ने यह बहुमत पाई थी। उसके बाद अपने सहयोगी दलों को वह सांकेतिक हिस्सेदारी दे रही थी। ऐसे में JDU के नेता नीतीश कुमार नाराज दिखे और उन्होंने अपने आप को केंद्रीय मंत्रिमंडल से अलग करने का फैसला कर लिया। हालांकि उन्होंने एनडीए को समर्थन जारी रखा।

JDU दफ्तर पहुंचते ही RCP ने दिया बड़ा बयान
JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष RCP सिंह लगभग ढाई महीने के बाद JDU कार्यालय में पहुंचे थे। कोरोना काल में RCP सिंह ना ही राजनीति और ना ही सोशल मीडिया में एक्टिव दिखे। लेकिन, आज जब वे JDU दफ्तर पहुंचे तो उन्होंने यह बड़ा बयान देते हुए बिहार और केंद्र की राजनीति को गरमा दिया कि इस बार केंद्रीय मंत्रिमंडल में JDU को भी हिस्सेदारी मिलनी चाहिए।

केंद्रीय मंत्रिमंडल के सदस्य रहे LJP सुप्रीमो रामविलास पासवान के निधन के बाद बिहार कोटा से उनकी भी सीट खाली है। इसके अलावा बिहार से कैबिनेट मिनिस्टर के तौर पर रविशंकर प्रसाद और गिरिराज सिंह ही हैं। अश्वनी चौबे, नित्यानंद राय और आरके सिंह केंद्रीय राज्य मंत्री हैं। बिहार में NDA ने 40 में से 39 लोकसभा की सीट जीत थी। इस लिहाज से अभी भी केंद्रीय मंत्रिमंडल में बिहार की हिस्सेदारी बनती दिख रही है।

खबरें और भी हैं...