• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • RJD Said Different Laws For Ruling Party And Opposition, Lalan Singh's Procession Roamed A Lot In The City And Stopped RJD's Procession

प्रदर्शन रोकने पर RJD का तंज:कहा- सत्ता पक्ष और विपक्ष के लिए अलग-अलग कानून, ललन सिंह का काफिला शहर में खूब घूमा और RJD का जुलूसू रोक दिया

पटना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शुक्रवार को JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह के काफिले का हुआ था स्वागत(बाएं) और शनिवार को इनकम टैक्स चौराहे पर RJD जुलूस को रोकती पुलिस। - Dainik Bhaskar
शुक्रवार को JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह के काफिले का हुआ था स्वागत(बाएं) और शनिवार को इनकम टैक्स चौराहे पर RJD जुलूस को रोकती पुलिस।

जातीय जनगणना के सवाल पर नीतीश कुमार और लालू प्रसाद एकमत हैं, लेकिन RJD ने जुलूस निकाला और DM ऑफिस तक जुलूस पहुंचना चाहता था तो इनकम टैक्स गोलबंर पर ही इसे रोक दिया गया। शुक्रवार को JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह के पटना आगमन पर उनके काफिले को इसलिए नहीं रोका गया कि वह सत्ता पक्ष के थे और RJD के जुलूस को शनिवार को इसलिए रोक दिया गया कि वह विपक्ष के थे। प्रशासन ने कोरोना प्रोटोकॉल सहित लॉ एंड ऑर्डर का हवाला देकर सभी को रोक दिया।

पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री श्याम रजक ने कहा कि RJD ने जन प्रदर्शन किया। जन प्रदर्शन लंबा चलता है, उसे काफी जूझना पड़ता है। आजादी की लड़ाई से लेकर आज तक जन प्रदर्शन का लंबा इतिहास है। कहा कि शुक्रवार को रोड शो निकला था, वह धन प्रदर्शन था।

ललन सिंह के स्वागत में कोरोना प्रोटाकॉल कहां गया- आलोक मेहता

RJD के वरिष्ठ नेता आलोक मेहता ने कहा कि ललन सिंह जब आए तो सारे नियमों की धज्जी उड़ाई गई। सोना का सिक्कड़ पहन कर आए लोगों से लोगों को डर लग रहा था। उन्होंने कहा कि सरकार गैर प्रजातांत्रिक होती जा रही है। सत्ता पक्ष के लिए और विपक्ष के लिए अलग-अलग कानून है। ललन सिंह के आगमन पर फिजिकल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई गई पर किसी पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।

हमारे शांतिपूर्ण जुलूस को भी रोक दियाः युवा राजद

युवा राजद के प्रदेश अध्यक्ष कारी सोहैब ने कहा कि जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आते हैं तो शहर में तांडव होता है पर उन्हें नहीं रोका जाता और जब शांति पूर्ण तरीके से राष्ट्रीय जनता दल के साथी डीएम के पास जाना चाहते हैं तो उन्हें रोका जाता है। प्रधानमंत्री कहते हैं कि वे पिछड़ा के बेटा हैं तो पिछड़ों की गिनती क्यों नहीं करा रहे ।

खबरें और भी हैं...