पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अनलॉक बिहार में बेरोजगारी का मुद्दा उठाएगा राजद:युवा राजद संभालेगा मोर्चा, तैयार हो रही आंदोलन की रणनीति, जिला प्रभारियों को दिया टास्क

पटनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तेजस्वी यादव। - Dainik Bhaskar
तेजस्वी यादव।

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के निर्देश पर युवा RJD लॉकडाउन के बाद बेरोजगारी के सवाल पर बड़ा आंदोलन करने की रणनीति पर काम कर रहा है। इसके लिए जिला प्रभारियों को टास्क भी सौंपा जा रहा है। जिला प्रभारियों को अब तक यह टास्क भी दिया गया था कि हर महीने में दो रात और एक दिन जिला प्रभारी उस जिले में बिताएं और स्थानीय समस्याओं का निबटारा करें। इसके लिए जिले में मीटिंग भी करें। अब इसकी मॉनिटरिंग की जा रही है। पार्टी के सीनियर लीडर ने इसको लेकर निर्देश दिया है।

जो एक्टिव नहीं हैं, उन्हें बदला जाए

RJD के राष्ट्रीय महासचिव और पूर्व मंत्री श्याम रजक से भास्कर ने बात की तो उन्होंने बताया कि युवा RJD में जो प्रभारी एक्टिव नहीं हैं, उन्हें बदलने का निर्देश दिया गया है। सभी जिलों के प्रभारियों की मीटिंग जल्द बुलाने को कहा गया है। उन्होंने बताया कि प्रभारियों से कहा गया है कि जिलों में लॉ एंड ऑर्डर की क्या स्थिति है, इस पर नजर रखें।

साथ ही दलितों पर हो रहे हमले से जुड़े मामले को सत्ता पक्ष द्वारा दबाया नहीं जाए, इसलिए चौकन्ना रहें। कोरोना से मौत के बाद परिजनों को अब तक मुआवजा मिला कि नहीं, इसका आंकड़ा इकट्‌ठा करें। श्याम रजक ने कहा कि इन तमाम मुद्दों पर विस्तृत रिपोर्ट मांगी गई है।

कारी बाेले- हमारी पार्टी हमेशा मुखर रही

युवा RJD के प्रदेश अध्यक्ष कारी सोहैब ने भास्कर से बातचीत में कहा कि बेरोजगारी के सवाल पर हमारी पार्टी हमेशा से मुखर रही है। यह अभी के दौर की सबसे बड़ी समस्या है। इसको लेकर पहले भी युवा RJD ने आंदोलन किया है और लॉकडाउन खत्म होने के बाद उससे भी बड़ा आंदोलन किया जाएगा। बिहार में बाढ़ की त्रासदी फिर से दिखने लगी है। बाढ़ में हमारे कार्यकर्ता लोगों की मदद हर स्तर पर करेंगे। सभी को इसके लिए निर्देश दिया जा रहा है।

7 माह बीत गए, 19 लाख युवाओं को रोजगार कब मिलेगा?

युवा RJD के प्रवक्ता अरुण कुमार यादव ने कहा कि संगठन को मजबूत करने के साथ-साथ लोगों की समस्याएं जिला प्रभारी देख रहे हैं और उसका निबटारा कराने की हर संभव कोशिश कर रहे हैं। कोरोना काल में सरकार का रवैया आम लोगों और परिजनों के प्रति बहुत अमानवीय रहा। लोगों को सरकार सही तरीके से स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध नहीं करा पाई। ऐसे में राष्ट्रीय अध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष के निर्देशानुसार लोगों को मास्क, दवाएं, कई जगह ऑक्सीजन आदि की व्यवस्था कराई गई। जरूरतमंदों को भोजन भी उपलब्ध कराया गया।

वे कहते हैं कि सत्ता पर काबिज पार्टी ने चुनाव के समय वादा किया था कि 19 लाख लोगों को रोजगार दिए जाएंगे। लेकिन 7 माह बाद भी स्थिति सब के सामने हैं। इसलिए बेरोजगारी, बढ़ती महंगाई, संविदाकर्मियों और नियोजित शिक्षकों से जुड़े सवाल पर युवा RJD युवाओं को गोलबंद कर आंदोलन करेगा।

खबरें और भी हैं...