हरा गमछा और हरी टोपी में दिखे जगदानंद सिंह:हरी टोपी और गमछा बनेगी उपचुनाव में पार्टी कार्यकर्ताओं की नई पहचान, विधायकों और हारे प्रत्याशियों को पंचायतों में कैंप करने का दिया निर्देश

पटना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंगलवार को प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह हरे गमछे के साथ ही हरी टोपी में भी दिखे। - Dainik Bhaskar
मंगलवार को प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह हरे गमछे के साथ ही हरी टोपी में भी दिखे।

लालू प्रसाद अपनी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल को नया रुप देना चाहते हैं। उन्होंने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कहा था कि नेता-कार्यकर्ता हरा गमछा लेकर चलें और जिस तरह से यूपी बसपा के लोग लाल टोपी लगाते हैं उसी तरह राजद के लोग रही टोपी लगाएं। यही राजद का लाइसेंस होगा। लालू प्रसाद पार्टी को कम्युनिस्ट पार्टी की तरह कैडर वाली पार्टी बनाना चाहते हैं। इसकी इच्छा भी उन्होंने पार्टी को आयोजनों में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जाहिर की थी। पार्टी लालू प्रसाद की इस इच्छा को पूरी करने में लग गई है। हरी टोपी आ गई है। हारे हुए प्रत्याशियों की राबड़ी आवास में हुई बैठक में भी यह दिखा।

जगदानंद सिंह ने तो अपना लिया, कुछ नेता अभी भी नहीं समझ रहे हरी टोपी, हरा गमछा का मतलब

शुरू के कुछ आयोजनों में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह बिना हरा गमछा के नजर आए थे। उस समय तेजस्वी सहित कई नेता हरा गमछा में मंच पर थे। तब भास्कर ने खबर लायी थी कि पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ही लालू प्रसाद की बात नहीं मानते हैं। लेकिन मंगलवार को प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह हरे गमछे के साथ ही हरी टोपी में भी दिखे। हालांकि मुख्य प्रवक्ता भाई वीरेन्द्र जैसे कई नेता बिना हरा गमछा और बिना हरी टोपी के दिखे।

लेफ्ट पार्टियों की तरह संगठन की मजबूती पर भी फोकस

पार्टी कोशिश में लगी है कि राजद का हर नेता-कार्यकर्ता हरी टोपी और हरी गमछी में दिखे। पार्टी लेफ्ट पार्टी की तरह राजद को भी कैडर वाली पार्टी बनाने मे लगी है। दो स्थानों पर हुए उपचुनाव से जुड़ी बैठकों से पहले से इसकी कवायद तेज है। उत्तर बिहार और दक्षिण बिहार के जिलाध्यक्षों से जुड़े प्रशिक्षण शिविर में पार्टी को पंचायत स्तर पर मजबूत करने का टास्क दिया गया। मंगलवार को हारे हुए प्रत्याशियों के साथ राबड़ी आवास में हुई बैठक में सभी को टास्क दिया गया कि उपचुनाव में पंचायत स्तर पर जाकर मोर्चा संभालें। विधायकों को यह टास्क पार्टी पहले ही दे चुकी है। उपचुनाव को किसी भी हालत में जीतना चाहती है राजद। उपचुनाव में राजद के कार्यकर्ता बूथ स्तर तक दिखेंगे और हरी टोपी, हरा गमछा में दिखेंगे।

खबरें और भी हैं...