पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Rohtas Will Become Textile Hub In Bihar; Industrial Minister Shahnawaz Hussain In Rohtas; Bihar Rohtas Bhaskar Latest News

रोहतास को बनाया जाएगा टेक्सटाइल हब:व्यापारियों एवं उद्यमियों से संवाद में बोले मंत्री शाहनवाज हुसैन- सुअरा को राज्य के टेक्टाइल हब के रूप में विकसित किया जाएगा

रोहतास6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
उद्यमियों को संबोधित करते शाहनवाज हुसैन। - Dainik Bhaskar
उद्यमियों को संबोधित करते शाहनवाज हुसैन।

बिहार में नई टैक्सटाइल नीति बनेगी और रोहतास जिले के सुअरा को राज्य के टेक्टाइल हब के रूप में विकसित किया जाएगा। राज्य के उद्योग मंत्री एवं भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने रविवार रात डेहरी में व्यापारियों एवं उद्यमियों से संवाद कार्यक्रम में कही। वे भाजपा के युवा संवाद कार्यक्रम के सिलसिले में रोहतास पहुंचे हैं। उन्होंने बिक्रमगंज में युवाओं को संबोधित किया तथा उन्हें उद्यमी बन आत्म निर्भर तथा रोजगार प्रदान करने वाला युवा बनने के लिए प्रेरित किया।

ट्रेनिंग सेंटर शुरू किया जाएगा

शाहनवाज हुसैन ने जिले के अधिकारियों के साथ बैठक कर जिले उद्योग की संभावनाओं पर विचार विमर्श किया। डेहरी में उन्होंने कहा कि डालमियानगर राज्य का पुराना औद्योगिक केंद्र रहा है इसके पुराने सुनहरे दिन वापस लौटेंगे। डेहरी के सुअरा हवाई अड्डे के बियाडा की भूमि पर वूल स्पिनिंग ट्रेनिंग सेंटर का शुभारम्भ इस वर्ष के अंत तक हो जाएगा, टेक्सटाइल्स पार्क का भी शुभारम्भ होगा। उन्होंने कहा कि सुअरा हवाई अड्डे में बियाडा द्वारा क्रय किए गए भूमि में लगभग 10 करोड़ की लागत वूल स्पैनिंग ट्रेनिंग सेंटर के भवन का निर्माण कार्य अंतिम चरण में है। इस वर्ष के अंत तक वहां ट्रेनिंग सेंटर प्रारंभ कर दिया जाएगा ।

देश के 70 फीसदी टेक्सटाइल मजदूर बिहारी
डेहरी के सुअरा इलाके में पर्याप्त भूमि उपलब्ध है। यहां उद्योग लगाने के लिए निजी कंपनियों द्वारा भी निवेश करने की बात कही गई है। मंत्री शाहनवाज हुसैन ने यह भी कहा कि सुअरा इलाके को ऐसा विकसित करूंगा कि आपको डालमियानगर की याद आ जाएगी। कहा कि देश के टेक्सटाइल इंडस्ट्री में 70 फीसदी मजदूर बिहारी हैं, हम उनके कौशल का इस्तेमाल उनके अपने राज्य में करना चाहते हैं। कहा कि नीतीश सरकार ने बिहार को इंफ्रास्ट्रकचर दिया अब हम यहां उद्योग लायेंगे।

खबरें और भी हैं...